विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
होली के दिन, किए-कराए बुरी नजर आदि से मुक्ति के लिए कराएं कोलकाता के दक्षिणेश्वर काली मंदिर में पूजा : 9- मार्च-2020
Astrology Services

होली के दिन, किए-कराए बुरी नजर आदि से मुक्ति के लिए कराएं कोलकाता के दक्षिणेश्वर काली मंदिर में पूजा : 9- मार्च-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

हंगामे के बीच अटके दून बार एसोसिएशन के चुनाव नतीजे, विवाद के बाद मत-पेटियां सील

कार्यकारिणी सदस्य के दो पदों पर मतगणना को लेकर हुए विवाद के कारण बार एसोसिएशन चुनाव के नतीजे घोषित नहीं हो पाए।

28 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

बागेश्वर

शुक्रवार, 28 फरवरी 2020

बागेश्वर में 5618 पशुपालकों को मिला सस्ता लोन

बागेश्वर। राज्य सरकार ने दीनदयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजना चलाई है। इसके तहत पिछले एक साल में जिले में शून्य प्रतिशत ब्याज पर सहकारिता विभाग से 5618 किसान और पशुपालक 27.38 करोड़ रुपये का लोन ले चुके हैं। इस योजना के तहत एक लाख रुपये तक के लोन पर शून्य प्रतिशत ब्याज लिया जाता है।
किसानों की वित्तीय स्थिति सुधारने के लिए राज्य सरकार ने लघु और सीमांत किसानों के लिए नवंबर 2017 में यह योजना शुरू की थी। यह कृषि ऋण योजना है, जिसके तहत शुरुआत में एक लाख रुपये तक लोन लेने पर दो प्रतिशत ब्याज लिया जाता था, लेकिन फरवरी 2019 से इस योजना के तहत एक लाख रुपये तक लोन लेने पर किसानों और पशुपालकों से शून्य प्रतिशत ब्याज लिया जा रहा है।
पिछले एक साल में अल्पकालीन ऋण मद में कृषि के लिए 4807 लोगों ने 21.23 करोड़ रुपये का लोन लिया है। मध्यकालीन ऋण वितरण के तहत दुधारू पशुओं के लिए 620 लोगों ने 4.44 करोड़ और घोड़ा-खच्चर के लिए 191 लोगों ने 1.71 करोड़ रुपये का लोन लिया है। लोन चुकाने के लिए तीन साल का समय मिलता है।
किसान कल्याण योजना का उद्देश्य
बागेश्वर। दीनदयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजना का उद्देश्य किसानों की खेती, पशुपालन आदि जरूरतों के लिए साहूकारों के माध्यम से वसूले जाने वाली महंगी ब्याज दर वाले लोन की निर्भरता को कम करना है। इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार, केंद्र सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य को हासिल करने का प्रयास कर रही है।
दीनदयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की आर्थिक स्थिति को मजबूत करना है। इसके तहत खेती और पशुपालन के लिए एक लाख रुपये तक लोन शून्य ब्याज पर दिया जा रहा है।
- राजेंद्र कुमार, अपर जिला सहकारी अधिकारी बागेश्वर।
... और पढ़ें

किशोरी से दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार

बागेश्वर। कपकोट थाना पुलिस ने किशोरी से दुष्कर्म के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। उसके कब्जे से नाबालिग को भी बरामद कर लिया है।
पुलिस मीडिया सेल से मिली जानकारी के अनुसार कपकोट थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति ने शनिवार को कपकोट थाने में रिपोर्ट लिखाई। बताया कि उनकी नाबालिग लड़की 14 फरवरी को घर से बिना बताए कहीं चली गई है। कई जगह खोजबीन की लेकिन उसका कोई पता नहीं चल रहा है। कपकोट पुलिस ने मामले में रिपोर्ट दर्ज की।
पुलिस उपाधीक्षक संगीता के निर्देश पर थाना प्रभारी तिलक राम वर्मा किशोरी की बरामदगी के लिए टीम गठित की। छानबीन में हाथ लगे सुराग के आधार पर पुलिस टीम ने शनिवार को ही नाबालिग लड़की को अल्मोड़ा टैक्सी स्टेंड बागेश्वर से बरामद कर लिया। किशोरी के बयानों के आधार पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 363/ 366 ए/376 (3) और 5(ठ)/6 पॉक्सो अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर ग्राम सन अनर्सा निवासी आरोपी संजय कुमार को अनर्सा तिराहे से गिरफ्तार कर लिया।
किशोरी को बरामद करने वाली टीम में एसआई सुष्मिता राना, कांस्टेबल शंकर राम, भगत राम, हरिमोहन अवस्थी, हेम चंद्र मठपाल, टेक्निकल टीम के कांस्टेबल चंदन कोहली, गिरीश बजेली शामिल थे।
... और पढ़ें

बागेश्वर में एससी एसटी कर्मियों ने धरना दिया

बागेश्वर। उत्तराखंड एससी एससी इंप्लाइज फेडरेशन ने प्रमोशन में आरक्षण बहाल करने समेत तमाम मांगों को लेकर धरना दिया। मांग पूरी न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।
जिला मुख्यालय के तहसील सभागार में रविवार को एससी, एसटी कर्मचारियों ने विभिन्न मांगों को लेकर धरना दिया। संगठन ने प्रमोशन में आरक्षण बहाल करने, पुरानी रोस्टर प्रणाली के अनुसार सीधी भर्ती करवाने, संविदा और आउट सोर्स के माध्यम से हो रही भर्ती में शत प्रतिशत आरक्षण लागू करने की मांग की। फेडरेशन के जिलाध्यक्ष डॉ. संजय कुमार टम्टा ने कहा कि मांगों की अनदेखी हुई तो आंदोलन छेड़ दिया जाएगा।
धरने में संगठन के जिला महासचिव हरि प्रसाद, संरक्षक संजय कुमार टम्टा, सलाहकार ललित मोहन प्रियदर्शी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष दीनदयाल टम्टा, उपाध्यक्ष सुनील कुुमार, महिला उपाध्यक्ष शबनम, संयुक्त सचिव संतोष कुमार आर्या, संगठन सचिव प्रकाश चंद्र आर्या, नवीन आगरी, मनोज शिल्पकार, नवीन त्रिकोटी आदि शामिल थे। संवाद
... और पढ़ें

बागेश्वर में 412 बच्चों ने दी अंग्रेजी की परीक्षा

बागेश्वर। जिले में बृहस्पतिवार को सीबीएसई बोर्ड की बारहवीं की अंग्रेजी की परीक्षा संपन्न हुई। परीक्षा पांच केंद्रों में संपन्न कराई गई। बच्चों का कहना है पेपर अच्छा आया था, अच्छे अंक आने की उम्मीद है।
सीबीएसई परीक्षा की नोडल अधिकारी डॉ. आशा तिवारी ने बताया कि परीक्षा में 414 परीक्षार्थियों में दो परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। परीक्षा महर्षि विद्या मंदिर बागेश्वर, कंट्रीवाइड पब्लिक स्कूल बागेश्वर, केंद्रीय विद्यालय कौसानी, सेंट एडम्स स्कूल गरुड़, जवाहर नवोदय विद्यालय में हुई। नोडल अधिकारी ने बताया कि 29 फरवरी को दसवीं की हिंदी की परीक्षा और दो मार्च को 12वीं की भौतिक विज्ञान की परीक्षा होगी।
अंग्रेजी का प्रश्नपत्र आसान आया था। अधिकतर प्रश्न पढ़े हुए आए थे, जिन्हें हल करने में दिक्कत नहीं हुई। - दर्शन जोशी महर्षि विद्या मंदिर इंटर कॉलेज बागेश्वर
अंग्रेजी के कुछ प्रश्नों का छोड़कर शेष प्रश्न आसान थे। पेपर अच्छा जाने से अच्छे नंबर मिलने की उम्मीद है। - रोहित जोशी महर्षि विद्या मंदिर इंटर कॉलेज बागेश्वर
अंग्रेजी के प्रश्नपत्र में अधिकतर सवाल आसान आए थे। प्रश्नों को हल करने में भी दिक्कत नहीं हुई। - हिमानी जवाहर नवोदय विद्यालय बागेश्वर
अंग्रेजी में अच्छे नंबर आने की उम्मीद है, प्रश्नपत्र आसान आया था। प्रश्नों के उत्तर लिखने में परेशानी नहीं हुई। - अंकित भाकुनी केंद्रीय विद्यालय बागेश्वर
अधिकतर प्रश्न पढ़े हुए आए थे। अंग्रेजी का पेपर अच्छा जाने से रिजल्ट अच्छा रहने की उम्मीद है। - धीरज सिंह तड़ागी केंद्रीय विद्यालय बागेश्वर
... और पढ़ें
बागेश्वर में सीबीएसई बारहवीं अंग्रेजी की परीक्षा देकर लौटते परीक्षार्थी। संवाद न्यूज एजेंसी बागेश्वर में सीबीएसई बारहवीं अंग्रेजी की परीक्षा देकर लौटते परीक्षार्थी। संवाद न्यूज एजेंसी

नकल विहीन और भयमुक्त हो बोर्ड परीक्षाएं %डीएम

बागेश्वर। जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने 2 मार्च से शुरू हो रही उत्तराखंड की बोर्ड परीक्षाओं को नकल विहीन कराने के निर्देश शिक्षाधिकारियों को दिए हैं।
बृहस्पतिवार को डीएम ने परीक्षा को लेकर शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि परीक्षाएं भयमुक्त और नकल विहीन होनी चाहिए। इसके लिए अधिकारी पूरी तैयारी कर लें। कहा कि परीक्षा केंद्रों में कक्षों के बाहर परीक्षा को लेकर जानकारी चस्पा कराएं, ताकि विद्यार्थियों को इधर-उधर न भटकना पड़े। डीएम ने सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट, केंद्र व्यवस्थापक और कस्टोडियन को पूरी पारदर्शिता के साथ परीक्षा कराने के निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि कोई भी परीक्षार्थी परीक्षा के दौरान मोबाइल अथवा अन्य नकल सामग्री न ले जाने पाए। परीक्षा देने से पहले व्यवस्थापक छात्रों की परीक्षा संबंधी सामग्री को भली भांति चेक कर लें। उन्होंने परीक्षा केन्द्रों का औचक निरीक्षण करने के निर्देश दिए। साथ ही परीक्षा केंद्र में शांति भंग करने वाले तत्वों पर कठोर कार्रवाई करने को कहा। उन्होंने व्यवस्थापकों और प्रधानाचार्यों को निर्देशित करते हुए कहा कि परीक्षा के दौरान किसी भी प्रकार की जल्दबाजी न की जाय। सभी अधिकारी जिम्मेदारी के साथ अपने कार्यों का निर्वहन करें।
बैठक में एसडीएम गरुड़ जयवर्धन शर्मा, कांडा के एसडीएम योगेंद्र सिंह, कपकोट के एसडीएम प्रमोद कुमार, पुलिस उपाधीक्षक महेश जोशी, तहसीलदार मैनपाल सिंह, मुख्य शिक्षाधिकारी नरेश शर्मा, जिला पूर्ति अधिकारी अरुण कुमार वर्मा, जिला क्रीड़ाधिकारी विनोद वल्दिया आदि मौजूद थे।
बागेश्वर में 8792 परीक्षार्थी देंगे परीक्षा
बागेश्वर। जिले में इस बार 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में 8792 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। मुख्य शिक्षाधिकारी नरेश शर्मा ने बताया कि हाईस्कूल में 4743 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। इसमें संस्थागत में 2203 बालक, 2451 बालिकाएं हैं। जबकि, व्यक्तिगत में 56 बालक, 33 बालिकाएं पंजीकृत हैं। इंटर में 4049 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। इसमें 1822 संस्थागत बालक, 2091 बालिका और व्यक्तिगत में 68 बालक, 68 बालिकाएं पंजीकृत हैं। जिले में 55 परीक्षा केंद्रों में से 12 केंद्र संवेदनशील हैं।
... और पढ़ें

कांग्रेसियों ने देव दरबारों में लगाई याचना

धरमघर (बागेश्वर)। कांग्रेस की उत्तराखंड बचाओ देव याचना यात्रा का धरमघर पहुंचने पर कांग्रेसियों ने जोरदार स्वागत किया। यात्रा संयोजक पूर्व कैबिनेट मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी और कांग्रेसियों ने धरमघर क्षेत्र के देव दरबारों में याचना पत्र चढ़ाया।
यात्रा के दौरान कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता धरमघर के भगवती मंदिर, सनगाड़ मंदिर, नौलिंग मंदिर में पहुंचे। मंदिरों में पूजा अर्चना के बाद याचना पत्र मंदिरोँ में चढ़ाया गया। धरमघर बाजार में हुई सभा में यात्रा संयोजक नैथानी ने केंद्र और राज्य सरकार पर विफलता का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा पांच वर्ष पूर्व में बई केंद्र में सरकार चला चुकी है। दूसरी बार केंद्र में सरकार चला रही है। राज्य में तीन वर्ष से भाजपा की सरकार है लेकिन डबल इंजन की सरकार राज्य की जनता को सुख-सुविधा उपलब्ध कराने में असफल हो गई है। भाजपाइयों का काम केवल कांग्रेस पर आक्षेप लगाना रह गया है।
कपकोट के पूर्व विधायक कांग्रेस प्रदेश महामंत्री ललित फर्स्वाण ने कहा कि भाजपा कांग्रेस पर विकास न करने का आरोप लगाती है। देश ने जो तरक्की की है, क्या वह भाजपाइयों ने की है। कांग्रेस ने देश की आजादी के बाद देश को विकास की राह दिखाई। यात्रा में राम लाल नौटियाल, राजेंद्र बिष्ट, धनी राम, श्याम लाल, अर्जुन भट्ट, उमा पंचपाल, पप्पू लाल वमर्ना आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

आठ माह बाद भी नहीं खुले जन औषधि केंद्र के ताले

बागेश्वर। जिला अस्पताल बागेश्वर में खोला गया जन औषधि केंद्र आठ माह से बंद पड़ा है। रोगियों को बाजार से महंगी दरों पर दवाएं खरीदनी पड़ रही है। गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर लोग औषधि केंद्र के बंद होने से परेशान हैं।
आम नागरिकों को 60 से 70 फीसदी कम दरों पर जैनरिक दवाएं उपलब्ध कराने के मकसद से प्रदेश में एक जुलाई 2015 को इस योजना की शुरूआत की गई थी, लेकिन यहां के गरीब तबके लोगों को इसका कोई लाभ नहीं मिल पा रहा है। जिला अस्पताल में जनवरी 2019 में रोगियों को कम दरों पर दवाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोला गया। जन औषधि केंद्र जून तक ही खुला रहा। जुलाई 2019 से जन औषधि केंद्र पर ताला लग गया। अस्पताल में आने वाले रोगी सस्ती दवाओं के लिए भटक रहे है। वहीं अस्पताल से मिली जानकारी के मुताबिक इसके संचालन में आई कमी के चलते भी यह बंद पड़ा है।
जनऔषधि केंद्र पर रोगियों की राय
>> बाहर से महंगी दरों पर दवाएं खरीदनी पड़ती है। गरीब लोगों को औषधि केंद्र से राहत पहुंच रही थी। इसके बंद होने से दवाईयों का खर्च बढ़ गया है। - देवकी देवी निवासी बागेश्वर
>> जनऔषधि केंद्र में सस्ती दरों पर दवाएं मिलती थी। आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए यह सहारे का काम करता है। बंद औषधि केंद्र जल्द खुलना चाहिए। - गोदावरी देवी निवासी बागेश्वर
>> दवाएं दिन प्रतिदिन महंगी हो रही हैं, जिन्हें खरीदने के लिए काफी पैसे खर्च करने पड़ते है। औषधि केंद्र के बंद होने से लोगों की जेब ढीली हो रही है। - बची सिंह बिष्ट निवासी बागेश्वर।
>> दवाओं की कमी के चलते जन औषधि केंद्र बंद है। जरूरत के मुताबिक रोगियों को दवाएं नहीं मिल पा रही थी। इसको दोबारा खोलने का प्रयास किया जा रहा है। - अशोक लोहनी अध्यक्ष रेडक्रॉस सोसायटी बागेश्वर
... और पढ़ें

बागेश्वर में 593 बच्चों ने दी अंग्रेजी की परीक्षा

बागेश्वर जिला अस्पताल में बंद पड़ा जन औषधि केंद्र।
बागेश्वर। जिले में बुधवार को सीबीएसई बोर्ड की दसवीं की अंग्रेजी की परीक्षा पांच केंद्रों में संपन्न हुई।
परीक्षार्थी सार्थक श्रीवास्तव, सौभाग्या साह, चंद्रिका जोशी, विपाशा फर्त्याल, देवेश गढ़िया, दर्शन जोशी, आकांक्षा, दीक्षा ने बताया कि अंग्रेजी का पेपर सामान्य आया था, जिसमें ज्यादा परेशानी नहीं हुई। उन्हें इस विषय में अच्छे अंक आने की उम्मीद है। सीबीएसई परीक्षा की नोडल अधिकारी डॉ. आशा तिवारी ने बताया कि परीक्षा में सभी 593 परीक्षार्थी उपस्थित रहे।
परीक्षा महर्षि विद्या मंदिर बागेश्वर, कंट्रीवाइड पब्लिक स्कूल बागेश्वर, केंद्रीय विद्यालय कौसानी, सेंट एडम्स स्कूल गरुड़, जवाहर नवोदय विद्यालय में हुई। नोडल अधिकारी ने बताया कि 27 फरवरी को बारहवीं की अंग्रेजी और 29 फरवरी को दसवीं की हिंदी की परीक्षा होगी।
... और पढ़ें

190 गांवों में 16 घंटे बिजली गुल

बागेश्वर। बिजली की लाइन पर पेड़ गिरने से कांडा क्षेत्र के 190 गांवों के लोगों ने रात बगैर बिजली के काटी। बुधवार को 16 घंटे बाद इन गांवों की बिजली बहाल हुई। उधर, कपकोट के सरण गांव में पेड़ की टहनी काट रही एक महिला करंट की चपेट में आने से बाल-बाल बच गई। इस कारण कपकोट क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति करीब 7 घंटे तक बाधित रही।
ऊर्जा निगम से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार रात करीब 10 बजे बागेश्वर से विजयपुर जाने वाली 33 केवी लाइन में मनकोट-सिरोली के बीच चीड़ का पेड़ गिर गया। इससे कांडा, बनलेख, रीमा, धपोलासेरा, धरमघर, सनीउडियार समेत लगभग 190 गांवों की बिजली गुल हो गई। बुधवार दोपहर करीब दो बजे इन इलाकों की बिजली आपूर्ति बहाल हुई। 16 घंटे तक बिजली न होने से लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा।
उधर, बुधवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे कपकोट के सरण गांव के पास एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया। ऊर्जा निगम के ईई भाष्कर पांडे ने बताया कि सरण गांव के पास एक महिला ने पेड़ की टहनी काटी, जो पेड़ के बगल से गुजर रही 33 हजार बोल्ट की हाई टेंशन लाइन में जा टकराई। उस समय लाइन अनुरक्षण कार्य के चलते बंद थी, नहीं तो महिला करंट की चपेट में आ सकती थी। टहनी लाइन में गिरने के बाद महिला पेड़ से नीचे उतर आई। लाइन में टहनी अटकने से बिजली की लाइन फॉल्ट में आ गया। सरण, सपुली समेत लगभग 35 गांवों की बिजली शाम सवा चार बजे तक बाधित रही।
... और पढ़ें

बारिश और ओलावृष्टि से ठंड में इजाफा

बागेश्वर। मंगलवार को अचानक मौसम ने करवट बदली। जिला मुख्यालय के साथ ही तमाम स्थानों में बारिश हुई। धरमघर क्षेत्र में ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान हुआ है।
दोपहर सवा तीन से करीब 20 मिनट तक बारिश हुई। अचानक हुई बारिश से जनजीवन प्रभावित हो गया। धरमघर से लगे बास्ती, द्वारी, चुचेर, सिमगड़ी, महरूड़ी, सनगाड़, मझेड़ा समेत तमाम इलाकों में ओले गिरे। ओलावृष्टि से सब्जी, फल, फसलों को व्यापक नुकसान पहुंचा है। बास्ती के ग्राम प्रधान केदार महर ने फसलों को हुए नुकसान का मुआवजा देेने की मांग की है। जिला मुख्यालय के आसपास के इलाकों में भी हल्की ओलावृष्टि हुई। बदले मौसम के कारण एक बार फिर ठंड बढ़ गई है।
जिले के कपकोट, शामा, बदियाकोट सहित अन्य ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भी वर्षा और शीतलहर से लोगों को हाड़ फोड़ने वाली ठंड का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवार को बागेश्वर का न्यूनतम तापमान 15 डिग्री दर्ज किया गया।
... और पढ़ें

पदोन्नति में आरक्षण समाप्त करने को लेकर निकाला मशाल जुलूस

बागेश्वर। पदोन्नति में आरक्षण समाप्त करने की मांग को लेकर जनरल और ओबीसी इंपलाइज फेडरेशन के नेतृत्व में एकत्र कर्मचारियों ने जबरदस्त विरोध दर्ज कराया। कर्मचारियों ने मशाल जुलूस निकालने के साथ ही आरक्षण के पक्ष में खड़े होने के लिए राज्यसभा सदस्य प्रदीप टम्टा का पुतला जलाया।
कर्मचारियों ने देर शाम को नुमाइशखेत मैदान से दुग बाजार, मालरोड होते हुए एसबीआई तिराहे तक मशाल जुलूस निकाला। मशाल जुलूस के दौरान कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद भी प्रदेश सरकार ने पदोन्नति में आरक्षण समाप्त करने का शासनादेश जारी नहीं किया है। यह सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के अवहेलना के साथ ही सवर्ण और ओबीसी वर्ग के कर्मचारियों के साथ अन्याय है। कहा कि पदोन्नति में आरक्षण समाप्त होने तक उन लोगों का संघर्ष जारी रहेगा। मशाल जुलूस में तमाम संगठनों के लोग शामिल थे।
मशाल जुलूस में फेडरेशन के अध्यक्ष रवि जोशी, महासचिव अनिल जोशी, संयोजक केसी मिश्रा, हीरा बल्लभ भट्ट, प्रमोद मेहता, दीप पांडे, आलोक पांडे, दिनेश खेतवाल, विजय गोस्वामी, रश्मि मेहता, अंजू दिगारी, ममता पांडे, मनोज कांडपाल, गणेश कुवार्बी, सचिन कांबोज, सुरेंद्र चौहान, हेमंत पंत, कमल जोशी, कैलाश अंडोला, जय दत्त पांडे, सुनील बुदलाकोटी, प्रदीप जोशी, तारा दूबे, संजय जोशी, मनोज कपकोटी, संजय सिंह समेत सैकड़ों की संख्या में लोग शामिल थे।
... और पढ़ें

अब बिजली के पोलों में चढ़ने में नहीं होगी दिक्कत

बागेश्वर। बागेश्वर पालिका क्षेत्र में अब कर्मचारियों को बिजली के पोलों में चढ़ने के लिए मशक्कत नहीं करनी पड़ेगी। नगरपालिका परिषद ने 12.55 लाख रुपये की लागत से स्काईलिफ्ट वाहन खरीद खरीद लिया है।
पालिकाध्यक्ष सुरेश खेतवाल ने मंगलवार को पूजा, अर्चना कर स्काईलिफ्ट वाहन का शुभारंभ किया। पालिकाध्यक्ष ने कहा कि इस वाहन की मदद से पालिका के विद्युत कर्मियों को बिजली के खंभों में स्ट्रीट लाइट बदलने और नई लाइट लगाने में सुविधा प्राप्त होगी। कर्मचारियों को अब सीढ़ी लगाकर पोलों में चढ़ने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इससे नगर में अवैध रूप से लगे होर्डिंग और फ्लेक्सी को हटाने का कार्य भी किया जाएगा।
पालिकाध्यक्ष ने कहा कि लोगों को बेहतर सुविधा देने के लिए नगरपालिका लगातार अपने संसाधनों में वृद्धि कर रही है। कार्यक्रम में पालिका के ईई राजदेव जायसी आदि थे।
... और पढ़ें

कांग्रेसियों ने बागनाथ में डाला याचना पत्र

बागेश्वर। कांग्रेस की उत्तराखंड बचाओ देव याचना यात्रा मंगलवार को बागेश्वर पहुंची। कांग्रेसियों ने केंद्र और राज्य सरकार की विफलताओं के लिए भगवान बागनाथ के मंदिर में याचना पत्र डाला।
मंगलवार दोपहर देव याचना यात्रा के संयोजक मंत्री प्रसाद नैथानी के नेतृत्व में यात्रा गरुड़ से बागेश्वर पहुंची। ढोल नगाड़ों की थाप पर भगवान बागनाथ के मंदिर की परिक्रमा की गई। मंदिर में पूजा, अर्चना के बाद चौक बाजार में हुई सभा में यात्रा संयोजक मंत्री प्रसाद नैथानी ने केंद्र और राज्य सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि भाजपा के राज में जनता त्रस्त हो गई है। भाजपा सरकारों का काम केवल कांग्रेस पर आरोप-प्रत्यारोप लगाना रह गया है। देश और प्रदेश की समस्याओं को दूर करने के लिए दोनों सरकारें कोई कदम नहीं उठा रही हैं।
उन्होंने कहा कि भाजपा की अन्यायपूर्ण नीतियों को लेकर यात्रा निकाली जा रही है। प्रदेश के 52 देवस्थलों में सरकार की विफलताओं को लेकर याचना की जा रही है। बताया कि 15 फरवरी को मुजफ्फरनगर के रामपुर तिराहा से शुरू हुई यात्रा का समापन दो मार्च को खटीमा में होगा।
कांग्रेस प्रदेश महामंत्री पूर्व विधायक ललित फर्स्वाण ने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य, शिक्षा बदहाल हो गई है। आम आदमी महंगाई की मार झेल रहा है। सरकार स्कूलों को बंद कर रही है। एससीएसटी वर्ग की छात्रवृत्ति में कटौती कर रही है।
सभा को कांग्रेस जिलाध्यक्ष लोकमणि पाठक, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष गीता रावल, प्रदेश महामंत्री बालकृष्ण, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश ऐठानी, पूर्व ब्लॉक प्रमुख गोपा धपोला, नगर कांग्रेस अध्यक्ष धीरज कोरंगा, जिला महामंत्री किशन कठायत, भगवत रावल, बहादुर सिंह बिष्ट, अंकुर उपाध्याय, शांति दानू आदि ने संबोधित किया। संचालन राजेंद्र टंगड़िया, महेश पंत ने किया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us