पटरी से उतर चुकी है लोगों की जिंदगी

Bageshwar Updated Sun, 16 Sep 2012 12:00 PM IST
कपकोट/ बागेश्वर। कपकोट के आसपास बादल फटने से आई बाढ़ और भूस्खलन ने लोगों की दिनचर्या को बुरी तरह प्रभावित कर दिया है। यातायात, पेयजल, विद्युत और संचार सेवाएं अस्त व्यस्त हो गई हैं। पैदल रास्ते भी ध्वस्त हो जाने के कारण लोग जान जोखिम में डालकर आवागमन कर रहे हैं। आपदा ने इस क्षेत्र को विकास की दौड़ में पीछे धकेल दिया है।
पिछले पांच दिनों के भीतर बादल फटने की दो बड़ी घटनाओं ने इस संवेदनशील इलाके में जिंदगी की चूलें हिला कर रख दी हैं। हरसीला और चिरपतकोट सहित आसपास के इलाकों में बादल फटने से अचानक तेज बारिश हुई। जिसने ऊंचे इलाकों में मकानों और खेतों को बहा दिया। बारिश का पानी स्थानीय नालों से होता हुआ सरयू नदी में मिल गया। खासकर भनगड़, बानड़ी, बेलंग, गांसू, रेवती, खीरगंगा, हरसीला, कुजग्याड़ी बगेली आदि नदी नालों में इससे उफान आया। नदी नालों के किनारे उपजाऊ खेत फसलों समेत तबाह हो गए। कई स्थानों पर मकान मलबे में दब गए। उफनती सरयू और रेवती नदी ने घाटी क्षेत्र में खेतों और संपत्तियों को नष्ट कर दिया। आपदाग्रस्त इलाके में भूस्खलन तथा बाढ़ के कारण पानी और बिजली की अधिकतर लाइनें ध्वस्त हो गई हैं। गांवों में विद्युत व्यवस्था भंग है। जगह-जगह पैदल रास्ते टूट जाने के कारण लोगों को दुकानों से राशन लाने में भी दिक्कतें हो रही हैं। कपकोट-सौंग-पिंडारी, किलपरा-कुंवारी, सौंग-लोहारखेत-रिखाड़ी, फरसली-गुलेर, कपकोट-गडेरा, शामा-फरसाली, सौंग-शामा, भानी-हरसिंग्घाबगेड, कर्मी-कपकोट मोटर मार्ग जगह-जगह ध्वस्त हो जाने के कारण लोग दिनभर पैदल चलकर कपकोट और भराड़ी से वाहन पकड़ रहे हैं। चीराबगड़, भानी, खाईबगड़, गांसू, बमसेरा, हिचौड़ी, पनौरा, असों, पोथिंग, गुलेर, फरसाली, जगथाना, सुमटी, बैसानी, चलकाना तथा कपकोट क्षेत्र में आपदा का असर अधिक हुआ है।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

आप विधायकों को हाईकोर्ट ने भी नहीं दी राहत, अब सोमवार को होगी सुनवाई

लाभ के पद के मामले में चुनाव आयोग ने आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य घोषित करने के मामले में अब सोमवार को होगी सुनवाई।

19 जनवरी 2018

Related Videos

बेकाबू होकर फैलती जा रही है बागेश्वर के जंगलों में लगी आग

उत्तराखंड के बागेश्वर में पिछले हफ्ते जगलों में लगी आग अबतक काबू में नहीं आई है। बेकाबू होकर फैल रही जंगल की आग की जद में आसपास के कई गांव आ गए हैं।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper