बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

एक नहीं तीन कत्ल हुए एक साथ!

Amroha Updated Tue, 12 Feb 2013 05:31 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
अमरोहा। हत्या की लोमहर्षक वारदात को अंजाम देने के बाद शहर कोतवाली पुलिस की छाती पर कातिलों ने एक अकेली युवती की लाश नहीं फेंकी तीन-तीन शवों को फेंका था। पोस्टमार्टम में इस बात का साफ खुलासा हो गया कि मृतका लगभग पांच माह की गर्भवती भी थी। अहम पहलू यह भी है कि उसकी कोख में जिन जुड़वा बच्चों का भ्रूण पल रहा था वह दोनों लड़के थे। हत्याकांड में इस नए सनसनीखेज खुलासे ने पुलिस के होश उड़ाकर रख दिए।
विज्ञापन

दरअसल, पुलिस शव को देखने के बाद शुरूआत से ही उलझी नजर आने लगी थी। लेकिन उसकी मुश्किलें उस वक्त और बढ़ गई जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ कि कातिलों ने अकेली युवती का नहीं बल्कि उसके साथ दो शिशुओं को भी उसी निर्ममता से मौत के घाट उतार दिया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक पीएम में मृतका करीब पांच साढ़े पांच माह की गर्भवती मिली है। जिसके गर्भ में दो जुड़वां बच्चों वह भी लड़कों के भी मृत भ्रूण मिले हैं। वहीं, वारदात को अंजाम दिए भी 24 घंटे से ज्यादा नहीं गुजरा होगा। हालांकि इसके बाद पुलिस ने अपना लाइन आफ एक्शन यानि कातिलों तक पहुंचने की दिशा तैयार करने को मंथन भी तेज कर दिया है। उधर, पुलिस रेप की पुष्टि के लिए लैब से रिपोर्ट का इंतजार रहेगा।


कातिल तो कोई ‘नजदीकी’ ही
पुलिस के सामने चुनौतियां ही चुनौतियां
सिर ढूंढ कर पहचान कराना होगी पहली परीक्षा
अमर उजाला ब्यूरो
अमरोहा। अब तक के आपराधिक आंकड़ों का जिक्र किसी पुलिस के अफसर से कर दीजिए, फिर देखिए आपको यही जुमला सुनने को मिलेगा कि किसी वारदात के खुलासे को पुलिस के पास कोई मशीनी उपकरण नहीं होता। लेकिन सोमवार को मिली युवती की नग्न लाश को लेकर जो अनोखी मिस्ट्री सामने आई है उसके राजफाश की पुलिस के उन धुरंधरों से कम से कम उम्मीद की ही जा सकती है जो अपने तजुर्बों का हवाला देकर जिले में सालों से जमे हैं।
पुलिस की मानें तब युवती की जिस नृशंसता से हत्या की गई उससे इतना तो तय माना ही जा सकत है कि वारदात को अंजाम देने वाले के दिल में कोई प्रतिशोध रहा होगा। लेकिन निर्मम हत्या करने की वजह कुछ भी रही हो, किंतु वहशियाना अंदाज में युवती के शरीर के टुकडे़ करके उसकी पहचान के सुबूत मिटाने के लिए तन पर कपड़े तक नहीं छोड़ना। कातिल के दिल को छुई ऐसी कोई बात ही रही होगी जिसने उसे हैवानियत से सनी खूनी दास्तां लिखने को मजबूर कर दिया हो।
इसी लाइन को लेकर आगे बढ़ रही पुलिस को प्रथम दृष्टया इस बात का शक भी है कि कातिल जरूर युवती का कोई नजदीकी ही नहीं बल्कि उसका विश्वासपात्र ही रहा होगा। जिसके लिए पुलिस के सामने सबसे बड़ी चुनौती धड़ से गायब सिर को ढूंढ निकालना है। फिलहाल युवती के शरीर पर छूटी सुर्ख लाल नेलपालिश को सहारा मानकर जिले और उससे बाहर के थानों में उन युवती और नवविवाहिताओं की खोजबीन में जुट चुकी है जिनकी गुमशुदगी दर्ज हो या उनके परिवार वाले भटकते घूम रहे हों। इनमें भी एक या दो दिन पहले लापता हुई युवती पुलिस की प्राथमिकता में हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us