बुखार ने ली महिला की जान

Amroha Updated Sun, 30 Sep 2012 12:00 PM IST
अमरोहा। जिले में बुखार से फिर एक मौत हो गई। धनौरा में युवती और जोया में मासूम बच्चे की मौत के बाद बुखार ने शहर में एक महिला की जिंदगी निगल ली। जबकि संक्रामक रोगों की रोकथाम के लिए सेहत महकमे की नींद अभी तक नही टूटी है। विभागीय अफसरों की अनदेखी के चलते जानलेवा बुखार से पीड़ितों की तादाद बढ़ रही है।
शहर के मोहल्ला नियाजियान निवासी मोहम्मद कसीम की पत्नी नसरीन काफी दिनों से बुखार से पीड़ित थी। शहर सीएचसी और निजी चिकित्सकों के लगातार इलाज के बावजूद हालत में सुधार नहीं हुआ। शुक्रवार की सुबह अचानक तबियत और बिगड़ गई। बुखार में तपता देेख परिजनों के होश उड़ गए। आननफानन में प्राईवेट नर्सिंग होम लेकर दौड़ पड़े, लेकिन नसरीन (45) की मौत हो चुकी थी। निजी नर्सिंग होम की बात छोड़िए, सरकारी अस्पतालों में रोगियों की लंबी कतारें लगी हैं। लेकिन इसके बावजूद संक्रामक रोगों निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग गंभीरता नहीं दिखा रहा। प्रभारी सीएमओ डा.वीपी सिंह का कहना है कि टीमें गांव-गांव दवाइयां वितरित कर रही हैं।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अब मस्जिदें भी भगवा रंग में रंगी नजर आएंगी: आजम खान

हज हाउस की दीवारों को भगवा रंग से पेंट कराए जाने पर समाजवादी पार्टी ने सूबे की बीजेपी सरकार पर हमला बोला है।

6 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls