विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020
Astrology Services

विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

देहरादूनः फर्जी डिग्री का मामला, एसजीआरआर पीजी कॉलेज के प्राचार्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज

देहरादून स्थित एसजीआरआर पीजी कॉजेल के प्राचार्य विनय आनंद बौड़ाई के खिलाफ फर्जी डिग्री मामले में पटेल नगर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

25 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

अल्मोड़ा

मंगलवार, 25 फरवरी 2020

किसानों ने कीवी उत्पादक गांवों का भ्रमण कर कीवी उत्पादन के तरीके जाने

अल्मोड़ा। गोविंद बल्लभ पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण संस्थान ने राष्ट्रीय हिमालयी अध्ययन मिशन के तहत हवालबाग ब्लॉक के किसानों के एक समूह को बागेश्वर जिले के कपकोट ब्लॉक के लीती, शामा, डाना गांवों का दो दिवसीय भ्रमण कराया। इस दौरान आयोजित जागरूकता शिविर में किसानों को कीवी उत्पादन करने की जानकारी दी गई। भ्रमण से लौटने के बाद किसान काफी उत्साहित हैं। वह अपने गांवों में कीवी उत्पादन करने में जुट गए हैं।
लीती, शामा, डाना गांवों में किसान 2008 से कीवी की खेती कर लाभान्वित हो रहे हैं। शामा में कीवी की खेती कर रहे किसान भवान सिंह कोरंगा ने किसानों को बताया कि उन्होंने पिछले साल 100 क्विंटल कीवी बाजार में बेची। लीती गांव के किसान हीरा सिंह ने 30 क्विंटल कीवी बेची। कीवी से किसान जैम, अचार आदि तैयार कर विभिन्न प्रदर्शनियों में बेचते हैं।
कीवी उत्पादक किसानों ने भ्रमण में पहुंचे किसानों को कीवी उत्पादन की बारीकियां और तकनीकी जानकारी दी। साथ ही फूलों की व्यवसायिक खेती के बारे में बताया। किसानों को कीवी के पौध भी दिए। भ्रमण दल में भुवन गिरि, दान सिंह, चंदन सिंह, राम सिंह, कुंदन सिंह आदि काश्तकार शामिल थे। शिविर में संस्थान के वैज्ञानिक और सामाजिक आर्थिक विकास केंद्र के प्रमुख डॉ. राकेश सुंदरियाल आदि मौजूद थे। संचालन परियोजना प्रबंधक डॉ. देवेंद्र चौहान ने किया। महिला हाट संस्था के राजेंद्र कांडपाल ने सहयोग दिया।
... और पढ़ें

फायर सीजन को देखते हुए अग्निशमन केंद्र भी हुआ मुस्तैद

रानीखेत (अल्मोड़ा)। फायर सीजन को देखते हुए अब अग्निशमन केंद्र भी मुस्तैद हो गया है। कई जगह आग बुझाने के तरीके बताए जा रहे हैं। कालिका में केंद्र की ओर से आग बुझाने के लिए मॉक ड्रिल का आयोजन कर लोगों को अचानक आग लगने के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में जानकारी दी। यह अभियान फायर सीजन तक चलता रहेगा। इस दौरान होटलों, विद्यालयों में भी कार्यक्रम चलाए जाएंगे।
बता दें कि 15 फरवरी से फायर सीजन शुरू हो गया है। रानीखेत अग्नि शमन केंद्र की तरफ से कालिका के एक होटल में आग बुझाने के लिए मॉक ड्रिल का आयोजन हुआ। एसएसपी के निर्देश पर अग्निशमन प्रभारी केशव दत्त तिवारी के नेतृत्व में फायर टीम ने फायर मॉकड्रिल दिखाया। कहा कि आग लगने के दौरान घबराने की जरूरत नहीं है, वरन इस दौरान तमाम सावधानियां बरतनी होंगी। इस दौरान शॉर्टसर्किट और घरेलू गैस सिलिंडरों से लगने वाली आग के दौरान किस तरह से सावधानी बरतनी है, इसकी जानकारी भी दी गई। इस दौरान वहां विशन सिंह टनवाल, गिरीश पांडे, कासिम अली सहित तमाम लोग मौजूद रहे।
... और पढ़ें

पुलिस ने चलाया जागरूकता अभियान, पंफलेट बांटे

अल्मोड़ा। एसएसपी पीएन मीणा द्वारा भीख मांगने की प्रवृत्ति से बच्चों को इससे बाहर निकालने के संबंध में जन जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश के बाद शनिवार को पुलिस ने ऑपरेशन मुक्ति के दूसरे चरण में जागरूकता अभियान चलाया।
पुलिस उपाधीक्षक वीर सिंह पुलिस (नोडल अधिकारी ऑपरेशन मुक्ति) और प्रभारी डीसीआरबी भूपेंद्र सिंह बृजवाल ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। आपरेशन मुक्ति की टीम उप निरीक्षक मनमोहन सिंह मेहरा, कांस्टेबल अनिल कुमार, देवेंद्र तोमक्याल, राजेंद्र वर्मा, मंजू आर्या ने टैक्सी स्टैंड, बस स्टैंड, चौघानपाटा, चौराहों पर जनजागरूकता अभियान चलाते हुए भीख नहीं, शिक्षा दें के पंफलेट बांटे।
मालूम हो प्रथम चरण में पुलिस टीम द्वारा चितई, हैड़ाखान, मानिला, दूनागिरि, जागेश्वर, रघुनाथ मंदिर समेत अन्य धार्मिक स्थलों, सार्वजनिक स्थलों पर भीख मांगने वाले बच्चों और उनके परिजनों को चिन्हित करने की कार्रवाई की जा चुकी है।
... और पढ़ें

उत्तराखंडः लिफ्ट लेना पड़ा महंगा, रेलिंग तोड़कर भीमताल झील में घुसी कार, दो की मौत

जनता मिलन कार्यक्रम में फरियादियों ने नौ शिकायतें दर्ज कराई

अल्मोड़ा। जनता मिलन कार्यक्रम में फरियादियों ने बिजली, पानी, सड़क से संबंधित कुल नौ शिकायतें दर्ज कराईं। मुख्य विकास अधिकारी मनुज गोयल ने अधिकारियों को जनता मिलन में मिलीं शिकायतों का एक सप्ताह के भीतर निस्तारण करने के निर्देश दिए।
सीडीओ ने एक-एक कर फरियादियों की समस्साएं सुनीं। उन्होंने संबंधित विभाग के अधिकारियों को समस्याओं के निस्तारण करने के निर्देश दिए। खत्याड़ी निवासी मोहनी देवी ने आवास में पानी आने, पूर्व सैनिक लीग के दीपक कुमार ने लीग कार्यालय में कूड़ा फेंके जाने, हरिदत्त पेटशाली ने विद्यालय में पेयजल की समस्या होने, बैना के गोपाल सिंह ने निर्माणाधीन भिकियासैंण-कड़ाकोट मोटर मार्ग में पीपलखेत के समीप कृषि भूमि पर दीवार देने की समस्याएं रखीं।
खत्याड़ी निवासी बलवंत सिंह ने वृद्धावस्था पेंशन चाहने, पंकज रौतेला और ध्यूली रौतेला के ग्रामीणों ने पेटशाल-सुवाखान मोटर मार्ग पर डामरीकरण करने, हसन अहमद ने बंद पड़े नाले का निर्माण कार्य शुरू करने की समस्याएं रखीं। सीडीओ ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को शिकायतों पर कार्रवाई कर आख्या जिला कार्यालय को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। जनता मिलन कार्यक्रम में एसडीएम मोनिका, परियोजना निदेशक नरेश कुमार, जिला विकास अधिकारी केके पंत, मुख्य कृषि अधिकारी प्रियंका सिंह, आपदा प्रबंधन अधिकारी राकेश जोशी आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

अंग्रेजों के दमन के आगे कभी नहीं झुके धौनी: तिवारी

अल्मोड़ा। सालम समिति की ओर से धारानौला स्थित जिला पंचायत परिसर में प्रख्यात स्वतंत्रता संग्राम सेनानी राम सिंह धौनी की 128वीं जयंती धूमधाम से मनाई गई। स्व. धौनी की आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।
मुख्य अतिथि उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी ने कहा कि आजादी की लड़ाई में अंग्रेजों ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों का जो दमन किया उस बर्बरता के बावजूद क्रांतिदूत राम सिंह धौनी ने हार नहीं मानी। स्व. धौनी ने आजादी के आंदोलन की अलख सालम में ही नहीं देश में जगाई।
विशिष्ट अतिथि पूर्व दर्जा राज्य मंत्री केवल सती ने धौनी के आदर्शों से प्रेरणा लेने का आह्वान किया। समिति के सदस्य विपिन जोशी और वित्त अधिकारी एमएल टम्टा ने धौनी पर स्वरचित कविता सुनाई। वक्ताओं ने धौनी के जीवन चरित्र पर विद्यालयों, महाविद्यालयों में पाठ्यक्रम लागू करने की मांग की। समिति के संरक्षक मंडल सदस्य और वरिष्ठ अधिवक्ता गोविंद लाल वर्मा की अध्यक्षता में समिति अध्यक्ष राजेंद्र रावत ने संचालन किया।
कार्यक्रम में भाजपा नेता प्रो. एसएस पथनी, रमेश बहुगुणा, चंद्रमणि भट्ट, गिरीश मल्होत्रा, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष लता तिवारी, कांग्रेस नगर अध्यक्ष पूरन रौतेला, समिति महासचिव अमरनाथ रजवार, विनोद जोशी, बसंत जोशी, कार्यकारी अध्यक्ष भगीरथ पांडे, कोषाध्यक्ष विशन सिंह बोरा, शंकर चिलवाल, जीएस नेगी, प्रदीप बिष्ट, गोपाल महरा, राजू पांडे, दीवान आर्य, विशन फर्त्याल, प्रकाश बिष्ट आदि थे।
चेचक रोगियों की सेवा करते थे स्व. धौनी
अल्मोड़ा। स्वतंत्रता सेनानी राम सिंह धौनी ट्रस्ट की ओर से सिकुड़ा बैंड तिराहा स्थित राम सिंह धौनी पार्क में राम सिंह धौनी की जयंती मनाई गई। स्व. धौनी के पौत्र भूपेंद्र नेगी ने स्व. धौनी की मूर्ति पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की। ट्रस्ट के कार्यकारी अध्यक्ष आनंद सिंह ऐरी ने कहा कि धौनी ने आर्थिक तंगी के बावजूद इलाहाबाद जाकर स्नातक की पढ़ाई पूरी की। वक्ताओं ने कहा कि वह चेचक रोगियों की सेवा करते थे। इस कारण वह बीमार हो गए और अल्पायु में ही उनका निधन हो गया। कार्यक्रम में ट्रस्ट की कोषाध्यक्ष भगवती परिहार, उपाध्यक्ष हयात सिंह, रुप सिंह बिष्ट, ट्रस्ट संप्रेक्षक बसंत बल्लभ तिवारी, हरिता नेगी, हीरा बिष्ट, हरीश बिष्ट, लालमन यादव, पूरन बिष्ट, संजय नेगी, पनी राम आदि थे।
पैतृक गांव तल्ला बिनौला में धौनी को याद किया
जैंती (अल्मोड़ा)। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी क्रांतिदूत राम सिंह धौनी की 128वीं जयंती उनके पैतृक गांव तल्ला बिनौला में धूमधाम से मनाई गई। स्व. धौनी के पौत्र जगदीश सिंह और राजेंद्र धौनी ने उनके चित्र पर माल्यार्पण किया। वक्ताओं ने स्व. धौनी के आदर्शों पर चलने का आह्वान किया।
कार्यक्रम में धर्मेंद्र बिष्ट, राजेंद्र सिंह, मोहनी देवी, शांति देवी, गोधन धौनी, दीवान सिंह, पान सिंह, पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य धना धौनी, राम सिंह, गोधनी देवी, बसंती देवी, पनुली देवी, रघुली देवी आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

बच्चों में विज्ञान विषय के प्रति रुचि जागृत करें: डा. सिंह

अल्मोड़ा। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) में कुमाऊं मंडल के जिलों के शिक्षकों के तीन दिवसीय साइंटिफिक एटीट्यूट डेवलपमेंट प्रोग्राम का उद्घाटन प्राचार्य डॉ. राजेंद्र सिंह ने किया। डॉ. सिंह ने शिक्षकों का आह्वान किया कि बच्चों में विज्ञान विषय के प्रति रुचि जागृत करें।
उन्होंने कहा कि शिक्षक बच्चों के दैनिक जीवन में किए जाने वाले कार्यों के माध्यम से विज्ञान का व्यावहारिक ज्ञान कराएं, ताकि बच्चे में विज्ञान के क्षेत्र में आगे बढ़ सकें।
कार्यक्रम समन्यक डॉ. बीसी पांडेय ने बताया कि एससीईआरटी उत्तराखंड की ओर से कुमाऊं में यह कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि विज्ञान महोत्सव, विज्ञान मेला, विज्ञान ड्रामा, विज्ञान प्रदर्शनी, इंस्पायर अवार्ड, राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस आदि के माध्यम से बच्चों की प्रतिभा दिखाने को उचित मंच मिलता है।
इन कार्यक्रमों के माध्यम से बच्चे अपनी प्रतिभा को स्कूल स्तर से राष्ट्रीय स्तर ले जाते हैं। संदर्भदाता जेपी तिवारी ने कहा कि ऐसे कार्यक्रमों में मार्गदर्शक शिक्षक की भूमिका अहम होती है।
कार्यशाला में कुमाऊं के छह जिलों से 80 शिक्षक भाग ले रहे हैं। कार्यक्रम में डॉ. हेम जोशी, डीएस जीना, कैलाश चंद्र पांडे, सवित जनौटी, नीरज जोशी, सुरेश नैनवाल, राकेश मिश्रा, डीएस बिष्ट, एएस भंडारी, डॉ. हरीश जोेशी, डॉ. पीसी पंत आदि उपस्थित थे।
... और पढ़ें

महिलाओं ने गगास और रिस्कन नदी सहित प्राकृतिक जल स्रोतों को संरक्षित करने का लिया संकल्प

डायट अल्मोड़ा में साइंटिफिक एटीट्यूट डेवलपमेंट प्रोग्राम को संबोधित करते प्राचार्य डा. राजेंद?
रानीखेत/द्वाराहाट (अल्मोड़ा)। जल संरक्षण और वनों को आग से बचाने के लिए एक बार फिर महिलाएं आगे आई हैं। अमर उजाला अपराजिता 100 मिलियन स्माइल्स के तहत द्वाराहाट ब्लॉक के कई गांवों से पहुंची महिलाओं ने गगास और रिस्कन नदी के साथ जल स्रोतों को संरक्षित करने का संकल्प लिया। इस दौरान महिलाओं ने अपने अधिकार भी जाने।
फायर सीजन और गर्मी के दिनों में पर्वतीय जिलों में पानी की समस्या देखते हुए अमर उजाला की पहल पर जालली मैदान में महिलाएं एकत्र हुईं। पर्यावरणविद् मोहन चंद्र कांडपाल ने गगास नदी के सहायक गधेरों को पुनर्जीवित करने के तरीकों पर जोर दिया और महिलाओं से इसमें सक्रिय भागीदारी करने का आह्वान भी किया।
इस पर महिलाओं ने चाल, खाल बनाने, नदी के उद्गम स्थल पर पौधरोपण करने और वनों को आग से बचाने के लिए एकजुट होकर व्यापक मुहिम चलाने की शपथ ली। साथ ही जंगली जानवरों से छुटकारे के लिए सरकार से ठोस नीति बनाने की मांग भी की। दरअसल, पारंपरिक जल स्रोत कम रिचार्ज हो पाते हैं, जिससे ग्रामीणों को भारी परेशानी होती हैं। इस दौरान गोष्ठी में पहुंचे वरिष्ठ अधिवक्ता दिनेश तिवारी ने महिलाओं को घरेलू हिंसा सहित कई कानूनों की जानकारी दी।
... और पढ़ें

बीसीसीआई उपाध्यक्ष पहुंचे अल्मोड़ा, चितई में मत्था टेका, कहा - पहाड़ों में टर्फ विकेट की जरूरत

बीसीसीआई उपाध्यक्ष महिम वर्मा दो दिन के कुमाऊं दौरे पर रविवार को अल्मोड़ा पहुंचे। सुबह उन्होंने चितई ग्वल देवता मंदिर के दर्शन किए और बाद में रानीखेत में जिला क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारियों से मुलाकात की। 

 हल्द्वानी से आने के बाद महिम वर्मा ने सुबह चितई ग्वल देवता मंदिर में मत्था टेका और घंटा चढ़ाकर आशीर्वाद मांगा। बाद में वह रानीखेत चले गए। जहां जिला अल्मोड़ा क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारियों से उन्होंने मुलाकात की। कहा की पहाड़ों में वर्तमान में टर्फ विकेट की जरूरत है।

जिले की सीएयू की सभी क्रिकेट इकाइयों को मजबूती से काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बीसीसीआई पहाड़ों में क्रिकेट प्रतिभाओं को आगे लाने का काम करेगी। उन्होंने महिला क्रिकेटरों की भागीदारी को और बढ़ाने और ज्यादा से ज्यादा जागरूक करने पर जोर दिया। 

उनके स्वागत में सीएयू के काउंसलर दीपक मेहरा, जिला नैनीताल क्रिकेट एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष कमल पपनै, क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ अल्मोड़ा के अध्यक्ष हरीश मनराल, सचिव हर्ष गोयल, कोषाध्यक्ष उमेश बिष्ट, मनोज जोशी, धीरज खरे, पीयूष रघुवंशी, क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ ऊधमसिंह नगर के सचिव नूर आलम, क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बागेश्वर के अध्यक्ष सुरेश सोनियाल, सचिव रमेश दानू, क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ चंपावत  के सचिव नीरज वर्मा, गोविंद बिष्ट, धीरेंद्र मेहरा, प्रदीप मेहरा, पंकज जोशी, धीरेंद्र वर्मा, महेंद्र बिष्ट, उमेश बिष्ट, विनोद कांडपाल, सोनू सिद्दीकी, दीपक मेहरा, मनीष परमवीर,विपिन ,तरुण साह,दीप उपाध्याय, पूरन मौजूद थे।
... और पढ़ें

धौनी पार्क में जल्द पानी की व्यवस्था और विद्युतीकरण होगा : चौहान

अल्मोड़ा। महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी क्रांतिदूत राम सिंह धौनी की स्मृति में सिकुड़ा बैंड तिराहा पर बने राम सिंह धौनी पार्क उद्घाटन के बाद जनता के लिए खुल गया है। स्वतंत्रता सेनानी राम सिंह धौनी ट्रस्ट की ओर से आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि विधानसभा उपाध्यक्ष और विधायक रघुनाथ सिंह चौहान ने पार्क का उद्घाटन किया। उन्होंने पार्क में विद्युतीकरण, पानी की व्यवस्था जल्द करने की घोषणा की।
विशिष्ट अतिथि नगर पालिकाध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी ने पार्क में ट्यूबलाइट लगाने का आश्वासन दिया। उन्होंने धौनी के आदर्शों से प्रेरणा लेने का आह्वान किया। प्रो. एसएस पथनी ने कहा कि विश्वविद्यालयों और स्कूलों में राम सिंह धौनी से संबंधित पुस्तकें पाठ्यक्रम में लागू की जानी चाहिए।
पूर्व राज्य मंत्री केवल सती ने विश्वविद्यालय स्तर पर शोध कार्य करने पर जोर दिया। प्रताप सिंह सत्याल ने देशभक्ति गीत सुनाया। सरस्वती बाल विद्या निकेतन खत्याड़ी के छात्र-छात्राओं ने स्वागत गीत, सरस्वती वंदना, देश भक्ति गीत, कुमाऊंनी नृत्य की प्रस्तुति दी।
अध्यक्षता ट्रस्ट के कार्यकारी अध्यक्ष आनंद सिंह ऐरी ने और संचालन सचिव भूपेंद्र नेगी ने किया। इस मौके पर भाजपा पूर्व जिलाध्यक्ष गोविंद सिंह पिलख्वाल, अल्मोड़ा अर्बन को आपरेटिव बैंक के अध्यक्ष आनंद सिंह बगड़वाल, रुप सिंह बिष्ट, श्याम सिंह कुटौला, हयात सिंह गैड़ा, गिरीश मल्होत्रा, बीबी तिवारी, भगवती परिहार ने विचार रखे।
... और पढ़ें

बैजनाथ रेंज में मादा तेंदुए की निमोनिया से मौत

गरुड़ (बागेश्वर)। बैजनाथ रेंज के लौबांज गांव में एक मादा तेंदुए की निमोनिया से मौत हो गई। वन विभाग ने पोस्टमार्टम के बाद शव को नष्ट कर दिया।
लौबांज के ग्रामीणों को रविवार के तड़के खेत में देखा। तेंदुए को सोया समझकर ग्रामीणों ने हल्ला कर उसे भगाने का प्रयास किया लेकिन तेंदुआ नहीं हिला। इस पर ज्येष्ठ उप ब्लॉक प्रमुख बहादुर सिंह कोरंगा ने वन रेंजर बैजनाथ को इसकी सूचना दी। सूचना मिलते ही वन रेंजर हरीश खर्कवाल वन विभाग की टीम के साथ मौके पर पहुंची तो उन्होंने बताया तेंदुए की मौत हो चुकी है।
टीम मृत तेंदुए को रेंज कार्यालय ले आई। वन विभाग ने पशु चिकित्साधिकारी पीके पाठक से तेंदुए को पोस्टमार्टम कर बताया कि मादा तेंदुए की उम्र करीब छह साल है और उसकी निमोनिया से मौत हुई है। उसके शरीर में कोई भी घाव नहीं थे। इसके बाद वन विभाग ने शव को नष्ट कर दिया।
... और पढ़ें

पोखरम के पांचवे होली महोत्सव की धूम

द्वाराहाट (अल्मोड़ा)। बग्वालीपोखर स्थित पोखरम संस्थान में पांचवें होली महोत्सव में शास्त्रीय रागों पर होली गीतों की धूम रही। देशभर के विभिन्न क्षेत्रों से आए होल्यारों ने होली गीत गाए।
मोहन सिंह बिष्ट ने राग जंगला काफी में ‘होली खेलें पशुपतिनाथ नगर नेपाल में’, ललित त्रिपाठी ने ‘हो मुबारक मंजरी फूलों भरी, ऐसी होली खेलें जनाब अली’गीत गाया। अल्मोड़ा के धीरू उस्ताद ने राग पीलू में ‘ब्रज में उड़त गुलाल’ और निर्मल पंत ने राग क्यान में ‘मुरली नागिन सौं’, अमरनाथ भट्ट ने राग काफी में ‘कैसी ये धूम मचाई’ होली गाकर दर्शकों का मनमोह लिया।
पोखरम होली महोत्सव 2020 में रामनगर, हल्द्वानी, नैनीताल, अल्मोड़ा, स्याल्दे, द्वाराहाट, चौखुटिया, लखनऊ, हरिद्वार, दिल्ली आदि स्थानों से आए हुए होल्यारों के साथ शास्त्रीय संगीत की इस अनूठी रात्रि के सैकड़ों लोग साक्षी बने।
इससे पहले संस्था के संरक्षक मोहन सिंह बिष्ट, निदेशक त्रिभुवन बिष्ट, कार्यक्रम संयोजक केसी त्रिपाठी आदि ने दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। वक्ताओं ने कहा कि होली गायन की परंपरा कुमाऊं में सैकड़ों वर्षों से रही है। कुमाऊं की यह विधा अपने आप में एक लंबा इतिहास समेटे हुए है। एक मान्यता है कि चंद शासन काल में यह विधा मौजूद थी।
दूसरी मान्यता के अनुसार उन्नीसवीं शताब्दी के प्रारंभ में बैठकी होली गायन की शुरुआत अल्मोड़ा में मल्ली बाजार स्थित हनुमान मंदिर से हुई। उन्होंने कहा कि अब पोखरम होली महोत्सव में देश के विभिन्न क्षेत्रों से होली गायक पहुंचते हैं।
समारोह में बग्वालीपोखर के नवीन बिष्ट और अल्मोड़ा के निर्मल पंत को पोखरम होली महोत्सव सम्मान 2020 से सम्मानित किया गया। मालूम हो कि संस्थान प्रतिवर्ष चुनिंदा शास्त्रीय गायकों को यह सम्मान प्रदान करता है। इस मौके पर ललित त्रिपाठी, मोहन सिंह बिष्ट, निर्मल पंत, दीप जोशी, चंद्रशेखर, निधि जोशी, नवीन बगाना, सतीश पांडे, मनोज पांडे, नवीन बिष्ट आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us