गुमोड़ी के बुजुर्गों ने दी भूख हड़ताल की चेतावनी

Almora Updated Thu, 23 Jan 2014 05:56 AM IST
रानीखेत। मांगें पूरी नहीं होने से आक्रोशित सुदूरवर्ती गुमोड़ी मल्यालगांव के ग्रामीणों ने अब आर-पार की लड़ाई का एलान कर दिया है। गांव के बुजुर्ग आंदोलनकारियों का कहना है कि यदि ऐसी ही अनदेखी जारी रही तो वे भूख हड़ताल शुरू कर देंगे। ग्रामीण मोटर मार्ग से जोड़ने और अन्य मांगों के समाधान के लिए चार दिनों से गांव के भूमियां मंदिर परिसर में धरने पर बैठे हैं।
डा. अंबेडकर संघर्ष समिति के बैनर तले भूमियां मंदिर परिसर में ग्रामीणों का धरना सोमवार को चौथे भी जारी रहा। बुजुर्ग भीम राम का कहना है कि गांव को मोटर मार्ग से जोड़ने के लिए पिछले 75 सालों से संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन मार्ग स्वीकृत होने के बावजूद गांव यातायात सुविधा से वंचित है। क्षेत्रीय समस्याओं को लेकर आक्रोशित महिलाओं और पुरुषों ने जमकर नारेबाजी की। तय हुआ कि अब अब आर-पार की लड़ाई होगी। गुमोड़ी गांव को जोड़ने के लिए गोलछीना-श्रीखेत मार्ग से लिंक मार्ग प्रस्तावित है। राउमावि कुलसीबी का उच्चीकरण नहीं होने से आक्रोशित नरेश चंद्र, हरी राम, विशन राम, कुंदन, मोती राम आदि ने भी सरकार पर ग्रामीण क्षेत्रों की अनदेखी का आरोप लगाया है। कहा कि इंटर की पढ़ाई के लिए ग्रामीणों को दूर दराज के क्षेत्रों में जाना पड़ रहा है। अस्पताल की हालत बदतर है। बारातघर भी नहीं है। प्रकाश राम, नंदन राम, भीम प्रकाश, बहादुर राम, शंकर राम सहित तमाम ग्रामीण महिलाओं ने भी धरना दिया।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अमित शाह के इस बयान पर उत्तराखंड कांग्रेस हुई हमलावर

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राहुल गांधी पर की गई टिप्पणी के बाद उत्तराखंड कांग्रेस आग-बबूला हो गई है।

21 सितंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls