तीसरे दिन भी हड़ताल पर मिनिस्ट्रीयल कर्मी

Almora Updated Fri, 21 Dec 2012 05:32 AM IST
अल्मोड़ा/बागेश्वर। मिनिस्ट्रीयल संवर्ग के ढांचे का पुनर्गठन करने समेत तीन सूत्रीय मांगों को लेकर मिनिस्ट्रीयल कर्मचारी तीसरे दिन भी कार्य बहिष्कार पर रहे। हड़ताली कर्मियों ने आज भी कलक्ट्रेट प्रांगण में सभा कर धरना दिया। वक्ताओं ने प्रदेश सरकार पर मिनिस्ट्रीयल कर्मियों की उपेक्षा का आरोप लगाया। चेतावनी दी कि यदि जल्द मांग पूरी नहीं हुई तो तृतीय चरण में 27 दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी जाएगी।
उत्तरांचल फेडरेशन आफ मिनिस्ट्रीयल सर्विसेज एसोसिएशन के आह्वान पर मिनिस्ट्रीयल कर्मचारी तीसरे दिन भी कार्य बहिष्कार पर रहे। धरना स्थल कलक्ट्रेट में हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने मिनिस्ट्रीयल कर्मियों का वेतनमान संशोधन कर दिया है, परंतु उत्तराखंड सरकार मिनिस्ट्रीयल कार्मिकों की उपेक्षा कर रही है। पूर्व में हुए समझौते में शासन ने मिनिस्ट्रीयल संवर्ग के ढांचे के पुनर्गठन का आश्वासन दिया था, परंतु अब तक कई विभागों का पुनर्गठन नहीं हो सका है। वेतन विसंगति दूर करने की मांग अधर में लटकी है। उन्होंने कहा कि द्वितीय चरण में तीन दिन का कार्य बहिष्कार आज समाप्त हो गया है। मांग पूरी नहीं होने पर तीसरे चरण में 27 दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने को कर्मचारी बाध्य होंगे।
सभा में बीसी कांडपाल, दीपा तिवारी, मनीष पंत, भूपेंद्र मेहता, दीपक तिवारी, रमेश पांडे, धीरेंद्र पाठक, महिपाल सिंह राणा, सीएस नैनवाल, जीवन तिवारी, पीएस बोरा, सज्जन लाल वर्मा, एसएल डडवाल, शेखर चंद्र भट्ट, चंद्रमणि भट्ट, पुष्पा रावत, विमला मठपाल, शशि मोहन पांडे, जगजीवन बिष्ट, हेम चंद्र जोशी ने विचार रखे। अध्यक्षता जिलाध्यक्ष एनबी बुधानी तथा संचालन जिला मंत्री अमरनाथ सिंह नेगी ने किया।
बागेश्वर में सभी विभागों के मिनिस्ट्रीयल कर्मी तहसील परिसर में एकत्रित हुए। यहां हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि उनकी मांगों के प्रति सरकार गंभीर नहीं है। चेतावनी दी कि यदि शीघ्र मांग नहीं मानी गई तो प्रांतीय आह्वान पर आंदोलन तेज कर दिया जाएगा। सभा की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष गजेंद्र सिंह बिष्ट तथा संचालन महासचिव केशर सिंह रावत ने किया। इस मौके पर एसडीए हरबोला, पीएस मर्तोलिया, दिनेश खेतवाल, कुंदन सिंह, किशन चंदोला, एम असलम, दिवाकर पांडेय, दीप चंद्र बेलवाल, हेमंत तिवारी, अनिल जोशी, केसी बचखेती, कमला भोज, सुशीला रावत, गीता धपोला, दीपक टम्टा, नंदन सिंह माजिला आदि मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Varanasi

बिरहा प्रतियोगिता के चयन पर उठ रहे सवाल

बिरहा प्रतियोगिता के चयन पर उठ रहे सवाल

22 जनवरी 2018

Related Videos

अमित शाह के इस बयान पर उत्तराखंड कांग्रेस हुई हमलावर

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राहुल गांधी पर की गई टिप्पणी के बाद उत्तराखंड कांग्रेस आग-बबूला हो गई है।

21 सितंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper