ये जिंदगी है कौम की, तू कौम पै लुटाए जा..

Almora Updated Tue, 18 Dec 2012 05:30 AM IST
अल्मोड़ा। कदम-कदम बढ़ाए जा...ये जिंदगी है कौम की तू कौम पै लुटाए जा...इन जोशीले गीतों की तरह ही जोश से भरी एसएसबी में भर्ती हुई महिला आरक्षियों के दिल में भी देश के लिए कुछ करने का जज्बा था। अल्मोड़ा मुख्यालय में महिला आरक्षियों ने पहली बार परेड में हिस्सा लिया।
रानीखेत फ्रं टियर के अंतर्गत आने वाली विभिन्न महिला आरक्षी प्लाटून ने उत्तराखंड में अल्मोड़ा एसएसबी के 49वें स्थापना दिवस पर पहली बार परेड में शिरकत की। डीडीहाट, ज्योलीकोट, पीलीभीत, पलिया इन चार यूनिटों से आई महिला आरक्षियों की तैनाती 415 किलोमीटर लंबी भारत-नेपाल सीमा पर है। सोमवार को परेड में शामिल इन महिला आरक्षियों की कदम ताल देखने लायक थी। एसएसबी के सेनानायक एमएस नेगी ने बताया कि एसएसबी में मई 2008 में पहली बार भर्ती हुई महिला आरक्षियों की देश के अलग-अलग फ्रंटीयरों में तैनाती हुई। यह पहला मौका है कि महिला आरक्षी अल्मोड़ा में परेड में भागीदारी कर रही हैं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अमित शाह के इस बयान पर उत्तराखंड कांग्रेस हुई हमलावर

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राहुल गांधी पर की गई टिप्पणी के बाद उत्तराखंड कांग्रेस आग-बबूला हो गई है।

21 सितंबर 2017