विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

उत्तर प्रदेश

सोमवार, 9 दिसंबर 2019

पीएम मोदी के आने से पहले कानपुर को दुल्हन की तरह सजा रहा प्रशासन, दिखेगी बनारस के घाटों की झलक

डिफेंस एक्सपोः 20 से निलंबित होंगे मीट की दुकानों के लाइसेंस

डिफेंस एक्सपो के दौरान विमानों की आवाजाही और गोमती तट पर फ्लाइंग के दौरान रनवे या फ्लाइंग जोन में पक्षियों के कारण दुर्घटना न हो, इसके लिए 20 दिसंबर से लखनऊ की सभी मीट की दुकानों के लाइसेंस निलंबित रहेंगे।

आयोजन के समाप्त होने तक यह व्यवस्था प्रभावी रहेगी। इस दौरान मीट की अवैध दुकानों को भी हटाया जाएगा। इस बाबत नगर आयुक्त ने आदेश जारी कर दिया है। इसमें उन्होंने कहा है कि आयोजन स्थल के 10 किलोमीटर केदायरे में मीट की दुकानों पर मांस की बिक्री पर रोक रहेगी।

ऐसे में करीब डेढ़ महीने तक शहरवासियों को मांस-मछली का शौक टालना पड़ना सकता है। अमौसी एयरपोर्ट के निकट चिल्लावा व उसके आसपास के इलाके में अवैध रूप से सड़क के फुटपाथ पर दुकान लगाने वाले मीट विक्रेताओं द्वारा अवशेष फेंक देने से चील आदि पक्षी उड़ते रहते हैं।

इससे कई बार पक्षियों के टकराने की घटनाएं हो चुकी हैं। प्रशासन कई बार दुकानें बंद भी करा चुका है, लेकिन व चोरी छिपे खुल जाती हैं। मीट-मछली की दुकानों के कारण दुर्घटना की आशंका को लेकर पूर्व में एलआईयू भी रिपोर्ट दे चुकी है। ऐसे में डिफेंस एक्सपो को लेकर प्रशासन बेहद सतर्क है।

इसे देखते हुए दोनों आयोजन स्थलों (वृंदावन कालोनी और गोमती तट) के 10 किमी के दायरे में मीट-मछली की खुले में लगने वाली दुकानों पर रोक लगाने निर्णय लिया है। इस दायरे में जो ग्रामीण बाजार लगते हैं, वह भी बिना अनुमति नहीं लगेंगे। अनुमति बाद ही बाजार लगेंगे और बाजारों में स्वच्छता के पूरे उपाय होंगे।
 
... और पढ़ें

सरकार की लापरवाही से जिंदा जलाई गई उन्नाव कांड की पीड़िता : अखिलेश

समाजवादी पार्टी ने रविवार को उन्नाव कांड पीड़िता को श्रद्धांजलि देने के लिए राजधानी लखनऊ समेत सभी जिलों में शोकसभाएं की। लखनऊ में सैकड़ों सपा कार्यकर्ताओं व समर्थकों ने शाम को परिवर्तन चौक से जहरतगंज स्थित जीपीओ पार्क तक कैंडल मार्च निकाला।

सपा नेताओं ने पीड़िता की दर्दनाक मौत के लिए प्रदेश सरकार को जिम्मेदार ठहराया। राजधानी में आयोजित शोकसभा में सपा नेताओं ने कहा कि उन्नाव में पीड़िता को जिंदा जलाना महिलाओं की सुरक्षा पर सवालिया निशान खड़े करता है। इस जघन्य घटना ने पूरे प्रदेश को हिला कर रख दिया है। 

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में महिलाएं और बच्चियां सुरक्षित नहीं हैं। वे दहशत के माहौल में जी रहीं हैं। राज्य सरकार महिलाओं का सम्मान करना नहीं जानती है। भाजपा में अपराधियों को संरक्षण मिल रहा है।

उन्होंने कहा कि उन्नाव की बेटी ने जो दर्द सहा है, उसके प्रति सरकार का रवैया असंवेदनशील है। समाजवादी पार्टी दुखी है और पीड़ित परिवार के साथ है। उन्होंने कहा कि उन्नाव की बेटी की हत्या में भाजपा सरकार की लापरवाही जिम्मेदार है। मुख्यमंत्री योगी में जरा भी संवेदनशीलता है तो उन्हें त्यागपत्र दे देना चाहिए। यह प्रदेश की हर नारी और हमारी भी मांग है।
... और पढ़ें

पॉक्सो से जुड़े मामलों में 10 से 15 दिनों में सजा दिलाने का होगा प्रावधान: मुख्यमंत्री योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अंबेडकरनगर में जिला कारागार का लोकार्पण किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि महिलाओं व बच्चों के खिलाफ होने वाले अपराधों में जल्द निर्णय हो इसके लिए राज्य सरकार काम कर रही है। पॉक्सो एक्ट में बीते छह महीने में हमने तेजी से कार्य किया है। ऐसे मामले में अब 10 से 15 दिनों में सजा दिलाने का प्रावधान होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने बाल व महिला अपराध में तेजी से सजा दिलाने के लिए ही 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने का निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि कारागारों से अपराध कम हों इसके लिए जेलों से जुड़ी व्यवस्था को मजबूत बनाने का काम किया जा रहा है।

गौरतलब है कि एक दशक पूर्व अकबरपुर तहसील अंतर्गत मरैला में जिला कारागार के निर्माण को शासन ने हरी झंडी प्रदान की थी। 100 करोड़ रुपये से अधिक की लागत वाले जिला कारागार के निर्माण की जिम्मेदारी राजकीय निर्माण निगम को सौंपी गई थी।

विभिन्न प्रकार की जांच की मार झेलने के बाद बीते दिनों आखिरकार जिला कारागार का निर्माण पूर्ण हो सका। लगभग दो माह पूर्व जिला कारागार में कैदियों को शिफ्ट करने का काम भी शुरू हो गया। मुख्यमंत्री ने सोमवार को जिला कारागार का औपचारिक लोकार्पण कर दिया।
... और पढ़ें
जिला कारागार का लोकार्पण करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। जिला कारागार का लोकार्पण करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

आर्थिक तंगी से हताश राजस्व कर्मी ने तहसील परिसर में किया आत्मदाह

बर्खास्तगी और वेतन न मिलने से परेशान राजस्व विभाग के चतुर्थ श्रेणी कर्मी संग्रह अनुसेवक ने तहसील कार्यालय परिसर में ही खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली। जिला अस्पताल पहुंचते ही उसकी मौत हो गई। राजस्व अधिकारियों का कहना है कि उसे 1993 में बर्खास्त कर दिया गया था। हाईकोर्ट के आदेश पर उसकी दो बार बहाली हुई थी।

कस्बे के देविन नगर के रहने वाले चुन्नूलाल कुशवाहा (59) पुत्र सुदामा नरैनी तहसील में संग्रह अनुसेवक पद पर तैनात थे। रविवार को दिन में करीब 11 बजे तहसील परिसर में अपने (संग्रह) कार्यालय के सामने खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली।

उसे जलता देख तहसील में ड्यूटी कर रहे सुरक्षा गार्ड ने शोर मचाकर लोगों को बुलाकर आग बुझाई। यूपी-112 भी बुला ली गई। तत्काल उसे सीएचसी लाया गया। यहां से चिकित्साधीक्षक डॉ. बीएस राजपूत ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। डॉ. राजपूत के मुताबिक चुन्नूलाल 90 फीसदी से ज्यादा झुलस गए थे। जिला अस्पताल लाते ही उसकी मौत हो गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

पुत्र सुरेश कुमार ने बताया कि चुन्नूलाल लगभग 33 साल से तहसील में कार्यरत था। पुत्र के मुताबिक कई महीने से वेतन न मिलने से परेशान होकर आत्मदाह किया। उधर, नायब तहसीलदार आरके शुक्ला ने बताया कि चयन समिति के समक्ष उपस्थित न होने पर वर्ष 1993 में चुन्नूलाल को बर्खास्त कर दिया गया था। तीन अन्य अनुसेवक भी बर्खास्त हुए थे।

चुन्नूलाल ने हाईकोर्ट में रिट दायर कर अपनी बर्खास्तगी के विरुद्ध स्थगन आदेश ले लिया। 18 अप्रैल 2019 को याचिका खारिज होने पर स्टे खत्म हो गया। इस पर चुन्नूलाल का वेतन रोककर दोबारा बर्खास्तगी की कार्रवाई की गई। इस पर चुन्नूलाल ने हाईकोर्ट की डबल बेंच में अपील की। इस पर इसी वर्ष अगस्त माह में फिर बहाल कर दिया गया।

बताते हैं कि इस बहाली के बाद चुन्नूलाल को वेतन नहीं मिला था। उधर, मृतक के पुत्र राजेश कुशवाहा का कहना है कि दोबारा बर्खास्तगी के बाद अब तक 13 माह का वेतन नहीं मिला था। इससे उसके पिता परेशान थे।

समधी ने पुलिस को दी दहेज उत्पीड़न की तहरीर
तहसील के चतुर्थ श्रेणी कर्मी चुन्नूलाल कुशवाहा के आत्मदाह के समय ही उसके समधी (पुत्रवधू के पिता) बिसंडा थाना क्षेत्र के अधरोरी गांव निवासी राजेंद्र प्रसाद कुशवाहा ने नरैनी कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि उसने अपनी बेटी प्रतिमा की शादी चुन्नूलाल कुशवाहा के पुत्र सुरेश कुमार उर्फ राजू के साथ 29 अप्रैल 2017 को की थी।

हैसियत के मुताबिक दान उपहार दिए थे। कहा कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले और दहेज की मांग लेकर उसकी बेटी से लगातार मारपीट करते रहे। बताया कि रविवार (8 दिसंबर) को सुबह ससुराल में प्रतिमा को ससुराल वालों ने मारापीटा और घर से निकालने की धमकी दी।

प्रतिमा ने यह जानकारी उसे (पिता राजेंद्र को) फोन पर दी। राजेंद्र ने तहरीर में बेटी के पति, ससुर, सास, जेठ व जेठानी के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज करने की मांग की। कोतवाली प्रभारी ने बताया कि इस तहरीर पर जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की छोटी बहन की तबीयत बिगड़ी, फिर भड़के परिजन, समाधिस्थल की ओर रवाना

आत्मदाह
उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र में जलाकर मारी गई पीड़िता के परिजन सोमवार सुबह फिर आक्रोशित हो उठे। परिजन पीड़िता को दफनाई जाने वाली जगह पर पक्का चबूतरा बनाने का विरोध कर रहे हैं। पीड़िता की बहन और अन्य परिजनों ने न्याय मिलने के बाद ही पक्का चबूतरा बनाने की बात कही है। पूरा परिवार समाधिस्थल की ओर रवाना हो गया है।

उन्नाव में जलाकर मारी गई दुष्कर्म पीड़िता की छोटी बहन की तबीयत अचानक बिगड़ गई। उसे सीने में दर्द और घबराहट होने पर देर रात 1 बजे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। दो महिला पुलिस कांस्टेबल उसकी सुरक्षा में तैनात हैं। पीड़िता के चाचा व परिवार के लोग भी मौजूद हैं। 

आपको बताते चलें कि 90 फीसदी जल चुकी उन्नाव सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में शुक्रवार रात आखिरी सांसें ली थीं। बता दें कि पीड़िता को गुरुवार देर रात लखनऊ के सिविल अस्पताल से एयरलिफ्ट करके सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पीड़िता ने इलाज के दौरान अपने भाई से आखिरी बार कहा था कि जिन्होंने मेरी ऐसी हालत की है उन्हें छोड़ना मत। साथ ही उसने यह भी कहा था कि अभी वह मरना नहीं चाहती है।

इस मामले में पुलिस ने पांच आरोपियों को किया गिरफ्तार
उन्नाव सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता को जलाने के मामले में पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आदेश दिया है।

ये है पूरा मामला
उन्नाव में गुरुवार को दुष्कर्म पीड़िता पर आरोपियों ने पेट्रोल डालकर उसे जलाकर मारने की कोशिश की थी। इसमें पीड़िता 90 फीसदी जल गई थी। चश्मीदीदों के मुताबिक पीड़िता आग लगने के बाद करीब एक किमी तक मदद की गुहार लगाते हुए दौड़ती रही थी। यहां तक की उसने खुद ही 112 पर फोन कर पुलिस को घटना की जानकारी दी थी, जिसके बाद वहां पुलिस की टीम और एंबुलेंस पहुंची थी। 44 घंटे तक जिंदगी से जंग लड़ने के बाद आखिर में उसकी सांसें थम गईं। रविवार को दुष्कर्म पीड़िता को उन्नाव स्थित उसके गांव में दादी बाबा के पास ही दफनाया गया।
... और पढ़ें

सीटीईटी में पकड़े गए दो ‘मुन्नाभाई’, गिरफ्तारी के बाद मुकदमा

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) के दौरान रविवार को प्रयागराज में दो ‘मुन्नाभाई’ पकड़े गए। एक को फाफामऊ और दूसरे को नैनी स्थित एक केंद्र में दूसरे की जगह परीक्षा देते पकड़ा गया। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर मुकदमा दर्ज कर लिया है। नैनी में पकड़ा गया ‘मुन्नाभाई’ को खुद को अधिवक्ता बता रहा है। पुलिस अब उन लोगों को खोज रहे है, जिनकी जगह ये दोनों परीक्षा देते पकड़े गए।

नैनी की जेल रोड पुलिस चौकी के समीप स्थित बेथनी कांवेंट स्कूल में भी सीटीईटी का सेंटर था था। सुबह 9.30 से दोपहर 12 बजे की पाली की परीक्षा शुरू होने से ठीक पहले कक्ष संख्या 26 में कक्ष निरीक्षक ने जांच शुरू की तो अंजनी यादव पुत्र विश्वनाथ यादव के नाम के परीक्षार्थी की फोटो एवं परीक्षा कक्ष में बैठे परीक्षार्थी का फोटो का मिलान नहीं हो सका।

शक के आधार पर पूछताछ हुई तो परीक्षार्थी भागने लगा। मेन गेट पर सुरक्षा कर्मियों ने उसे पकड़ लिया। चौकी इंचार्ज प्रभात सिंह के अनुसार पूछताछ में उसने अपना नाम नागेंद्र सिंह बताया है, जो भननीपुर, सलोन रायबरेली का रहने वाला है। वह खुद को हाईकोर्ट का अधिवक्ता बता रहा था।

कक्ष निरीक्षककी तहरीर पर उसके खिलाफ धोखाधड़ी एवं परीक्षा अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। उधर, गंगा गुरुकुलम में कक्ष संख्या 102 में भी एक अभ्यर्थी दूसरे की जगह परीक्षा देते पकड़ा गया। सीबीएसई से आए ऑब्जर्वर और कक्ष निरीक्षक ने उससे पूछताछ की तो उसने अपने नाम अरविंद कुमार पुत्र काशी प्रसाद विश्वकर्मा बताया, जो उमरिया सारी, मऊआइमा कर रहने वाला है। उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया।

बाद में उसने बताया कि वह उरुवांव, सोरांव के संदीप कुमार की जगह परीक्षा दे रहा था। बताया कि प्रतापगढ़ के अजय यादव के माध्यम से 50 हजार रुपये में सौदा तय हुआ था और दस हजार रुपये एडवांस भी मिल गए थे। उसके पास से दस हजार रुपये और फर्जी आईडी बरामद हुई। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।
... और पढ़ें

प्रदूषण संग ठंड से खतरे में दिल और दिमाग, ब्रेन और हार्ट अटैक के बढ़ रहे मामले

प्रदूषण के बीच ठंड बढ़ने से दिल और दिमाग खतरे में हैं। इससे अस्पतालों में ब्रेन और हार्ट अटैक  के मरीजों की संख्या बढ़ने लगे हैं। प्रदूषण से शरीर में ऑक्सीजन की कमी हो जाती है। इससे नसें सिकुड़ने लगती हैं। साथ ही ठंड से भी नसें सिकुड़ती हैं। खून के बहाव की गति कम होने से थक्का जम जाता है। और यही ब्रेन अटैक का कारण बनता है।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के बैनर तले आर्यनगर स्थित एक क्लब में आयोजित सतत चिकित्सा कार्यक्रम (सीएमई) में विशेषज्ञों ने बताया कि ब्रेन अटैक का गोल्डन पीरियड तीन घंटे से बढ़कर छह घंटे हो गया है। इस अवधि में सही इलाज मिलने से 85 फीसदी मरीज बिल्कुल ठीक हो जाते हैं।

इस दौरान मरीजों को ठंड से बचने की नसीहत दी गई। इससे पहले आईएमए भवन में एसोसिएशन की अध्यक्ष डॉ. रीता मित्तल, मैक्स, दिल्ली के सीनियर न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. पुनीत अग्रवाल, कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. विवेका कुमार, फिजिशियन फोरम के डॉ. कुणाल सहाय, कार्डिएक सर्जन डॉ. अशोक गुप्ता ने पत्रकारों को बताया कि ब्रेन अटैक के कुछ मरीजों के खून का थक्का कैथीटर से निकाला जा सकता है।

प्रदूषण के कारण हार्ट अटैक 38 फीसदी बढ़ जाता है। डॉ. कुमार ने बताया कि अब ऐसी घड़ी आ गई हैं जिसके सेंसर हार्ट अटैक की स्थिति को पकड़ लेते हैं। रोगी तुरंत अस्पताल जाकर इलाज ले सकता है। इस मौके पर रोबोटिक फिजियोथेरेपी, नई दवाओं और इलाज की तकनीक के बारे में भी बताया गया।  
... और पढ़ें

मुज़फ्फरनगरः वैवाहिक कार्यक्रम में हर्ष फायरिंग, महिला की मौत

कस्बा सिसौली में रविवार शाम शादी समारोह के दौरान चल रही जयमाला रस्म के दौरान युवक द्वारा तमंचे से चलाई गई गोली स्टेज के पास मौजूद महिला के सिर में जा धंसी। घायल महिला को शामली हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने महिला को मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने शव को मोर्चरी भेज दिया है। पीड़ित परिजनों ने अभी तक इस मामले की रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई है। 

भौराकलां क्षेत्र के कस्बा सिसौली निवासी बीरम चौधरी की बेटी की रविवार को शादी थी। तितावी क्षेत्र के गांव साल्हाखेड़ी से बरात सिसौली गई थी। सभी वैवाहिक रस्मों के संपन्न होने के बाद शाम के समय जयमाला कार्यक्रम चल रहा था। इसी दौरान जयमाला होते ही कस्बे के ही एक युवक ने स्टेज के पास पहुंचकर तमंचे से फायरिंग कर दी।

तमंचे से चलाई गई उक्त गोली स्टेज के पास मौजूद महिला पूनम (30) पत्नी सतीश कश्यप, निवासी सिसौली के सिर में जा धंसीं। सिर में गोली लगते ही महिला लहूलुहान होकर वहीं गिर पड़ी, जिससे शादी समारोह में अफरातफरी का आलम हो गया। आनन-फानन में घायल महिला को वाहन से शामली हॉस्पिटल ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। शामली के हॉस्पिटल में डॉक्टरों द्वारा महिला को मृत घोषित कर दिया गया।

इसके बाद शव को सिसौली ले आया गया। घटना की सूचना पर थाना भौराकलां एसओ विरेंद्र कसाना मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में ले लिया। शुरूआत में कुछ लोगों ने दोनों पक्षों के बीच समझौता कराने का भी प्रयास किया, लेकिन पुलिस के पहुंचने पर यह परवान नहीं चढ़ा। पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

इन्होंने कहा ...
एसओ विरेंद्र कसाना का कहना है कि शादी समारोह के दौरान कस्बे के ही युवक द्वारा चलाई गई गोली से महिला की मौत हुई है। शव को कब्जे में लेकर मोर्चरी भेजा जा रहा है। आरोपी की तलाश की जा रही है। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार की तरफ से तहरीर मिलने पर आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

एलिवेटेड रूट बनने पर तेज होगा चारबाग स्टेशन का विकास, 29 नॉन प्रीमियम ट्रेनें होंगी शिफ्ट

नवोदय छात्रा की मौतः डीएनए टेस्ट का दायरा बढ़ाया, अब इनका भी लिया नमूना

नवोदय में छात्रा के कथित हत्या के मामले में अब 12 अन्य लोगों का भी डीएनए टेस्ट कराया जाएगा। सोमवार को भोगांव पुलिस ने जिला अस्पताल में 12 लोगों के खून का नमूना लेकर संरक्षित किया।

ये नमूने जांच के लिए लखनऊ प्रयोगशाला भेजे जाएंगे। पूर्व में पांच लोगों के खूने के नमूने जांच के लिए भेजे जा चुके हैं। एसआईटी जांच के दौरान इन लोगों को चिह्नित किया गया है। 

जवाहर नवोदय विद्यालय में हुई छात्रा की कथित हत्या के बाद स्लाइड रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि हुई थी। रिपोर्ट आने के बाद से ही शासन हरकत में आया था। आनन फानन में मैनपुरी के डीएम और एसपी बदलने के साथ ही एसआईटी भी गठित कर दी थी।

 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
विज्ञापन