बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

उत्तर प्रदेश के मंत्रियों में नहीं, मीडिया में है दाग

Varanasi Updated Sat, 09 Feb 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
वाराणसी। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव को प्रदेश सरकार के किसी मंत्री में कोई खामी नजर नहीं आती। उनको देखने वाले निगाहों में ही उन्हें खोट नजर आने लगी है। लखनऊ के जिलाधिकारी अनुराग यादव के आजमगढ़ के भगवानपुर गांव स्थित आवास पर धार्मिक समारोह में शिरकत करने जाते समय बाबतपुर हवाई अड्डे पर उन्होंने इस बात के संकेत दिए कि लोकसभा चुनाव में पार्टी हर कीमत पर 60 सीटें जीतना चाहती है।
विज्ञापन

दागी विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि कोई मंत्री दागी नहीं है। दागी आप लोग हैं। आपने उनको दागी बनाया है। विनोद सिंह उर्फ पंडित सिंह को दोबारा मंत्रिमंडल में शामिल करने के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ गलत रिपोर्ट दी गई थी। सीएमओ के अपहरण जैसी कोई बात नहीं थी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सब कुछ ठीक चल रहा है। सपा लोकसभा चुनाव में 60 सीटें जीतेगी। केंद्र में सरकार बनाने में पार्टी की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। नरेंद्र मोदी की धर्म संसद के बारे में उन्होंने कहा कि उसका धर्म से कोई वास्ता नहीं है। वहां कोई संत नहीं आया था। उन्होंने इसे राजनीतिक सम्मेलन करार दिया। राष्ट्रीय सचिव राजेश दीक्षित उनके साथ थे। कैबिनेट मंत्री अंबिका चौधरी, बलराम सिंह यादव, सांसद रामकिशुन यादव, जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन अजय कुमार राय, जिलाध्यक्ष अखिलेश मिश्र, महानगर अध्यक्ष डा. ओपी सिंह, नासिर जमाल, महेंद्र सिंह यादव उनकी अगवानी करने पहुंचे। लक्ष्मीकांत मिश्र, नवनीत पांडेय, शिव सेठ, अनवर अंसारी, दिलीप, इमरान आदि युवा नेता वाहनों का काफिला लेकर पहुंचे और आजमगढ़ तक गए। पुलिस के कई आला अफसर हवाई अड्डे पर अगवानी के लिए मौजूद रहे।

उधर, आजमगढ़ के सठियांव और शिब्ली कालेज में आयोजित कार्यक्रमों में भाग लेने के बाद मीडिया से बातचीत में प्रो. राम गोपाल ने कहा कि आतंकवादी होने के आरोप में फंसे संजरपुर सहित आजमगढ़ जिले के युवक छोड़े जाएंगे। इससे पहले संजरपुर के लोगों से मुलाकात में उन्होंने अल्पसंख्यक वर्ग के युवकों को छुड़वाने का आश्वासन दिया। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि कुछ लोग नहीं चाहते कि जेल में बंद युवक बाहर निकलें। उन लोगों ने कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल कर दी है, लेकिन सीबीआई से लेकर अन्य जांच एजेंसियां कुछ नहीं कर सकी हैं। ऐसे में सरकार उन्हें छोड़ेगी। केसी पांडेय प्रकरण का खुलासा करने वाले एसपी के विरुद्ध की गई कार्रवाई पर वह बोले कि अगर उसने दो माह पूर्व स्टिंग आपरेशन किया था तो उसे कार्रवाई करनी चाहिए थी। वैसे सरकार जांच करा रही है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us