बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

किसी की सुनते कहां हैं नगर निगम के अफसर

Varanasi Updated Sat, 13 Oct 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
वाराणसी। नगर निगम, जल संस्थान और लोक निर्माण विभाग के अफसरों पर कोई भी चेतावनी बेअसर है। नगर विकास मंत्री आजम खां, जिले के प्रभारी मंत्री अहमद हसन ने शहर की गंदगी पर सवाल उठाए थे। इसके बावजूद नगर निगम के अफसरों की पेशानी पर बल नहीं पड़ा। लोक निर्माण एवं सिंचाई राज्यमंत्री सुरेंद्र पटेल और मंडलायुक्त ने लगातार चेतावनी दी लेकिन अफसर कान में तेल डाले रहे। निगम के अधिकारियों ने तो मंडलायुक्त की बैठक में शहर को एकदम स्वच्छ बता डाला था, जिससे खफा होकर जिलाधिकारी ने शहर में घूमकर अफसरों को बदहाली का नजारा दिखाया।
विज्ञापन

नगर विकास मंत्री आजम खां हज हाउस की जमीन तलाशने पहुंचे। डीआईजी कालोनी के समीप कचरे का ढेर देख उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों से नाराजगी जताई। प्रभारी मंत्री अहमद हसन से तत्कालीन नगर आयुक्त वीके दूबे ने तीन दिनों में शहर को स्वच्छ करने का वादा किया था लेकिन हुआ कुछ नहीं। सुरेंद्र पटेल ने तो कई बार नगर निगम, जलकल और लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को सड़कों और कचरे के निस्तारण की चेतावनी दी। थोड़ी हरकत के सिवाय और कुछ नहीं हुआ। मंडलायुक्त चंचल कुमार तिवारी से नगर आयुक्त ने 10 जुलाई को कहा था कि शहर में 600 टन कचरा रोज निकलता है लेकिन 350 टन का ही निस्तारण हो पाता है। उन्होंने 31 जुलाई तक का समय कचरे के निस्तारण के लिए मांगा था। मगर 30 अगस्त को प्रभारी मंत्री के सामने शहर में कचरे का अंबार होने की बात आने पर उन्होंने तीन दिन की मोहलत मांग ली। इस बीच नगर आयुक्त वीके दूबे का स्थानांतरण हो गया। मंडलायुक्त ने पांच, आठ, 20, 22, 23 और 25 सितंबर को कचरा हटवाने, सड़कों की मरम्मत कराने के लिए अधिकारियों को खूब खरीखोटी सुनाई थी। पर नतीजा सिफर ही रहा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us