किसानों ने महापंचायत कर फूंका सीएम का पुतला

Varanasi Updated Wed, 26 Sep 2012 12:00 PM IST
चिरईगांव/चौबेपुर। शारदा सहायक नहर में पानी नहीं छोड़े जाने को लेकर आक्रोशित किसानों का गुस्सा मंगलवार को फूट पड़ा। बड़ी संख्या में किसानों ने पियरी गांव (मुड़ली) स्थित ब्रह्मबाबा मंदिर के पास महापंचायत की। इसके बाद मुख्यमंत्री का पुतला फूंक कर विरोध जताया। चेतावनी दी कि एक सप्ताह में यदि नहर में पानी नहीं छोड़ा गया तो किसान भूख हड़ताल करने के लिए विवश होंगे।
नहर में पानी नहीं छोड़े जाने के खिलाफ पहले भी किसान आंदोलन कर चुके हैं। मंगलवार को किसान महापंचायत में किसान नेता विजय बहादुर यादव ने कहा कि इस समय नदियों में पर्याप्त पानी है। इसके बाद भी नहरों में पानी नहीं होने से धूल उड़ रही है। धान की खेती करने वाले किसान सिंचाई के लिए परेशान हैं। यह स्थिति पिछले वर्ष भी थी। कहा कि खुद को किसानों की हितैषी कहने वाली सपा सरकार किसान समस्याओं के प्रति गंभीर नहीं है। कहा कि यदि सप्ताह भर में बाबतपुर रजवाहा में पानी नहीं छोड़ा गया तो किसान सड़क पर उतरेंगे और भूख हड़ताल करेंगे। इसके बाद किसानों ने सूखी नहर में मुख्यमंत्री का पुतला फूंका। इस दौरान नारेबाजी भी की। महापंचायत में प्रदीप, मुंशीराम, विकास यादव, कृपाशंकर, जयप्रकाश, बाबूराम, छेदीराम, विजय मिश्र, शिवमूरत, रमाशंकर, शशिकांत शर्मा, राहुल, राजेश गिरी, कन्हैयालाल यादव, आरडी यादव समेत खेतलपुर, तरयां, पिपरी, मुड़ली, खुटहना, उमरहा, पिपरी, नरायनपुर, चित्ता, बराई आदि गांवों के किसान थे।
इनसेट
नहरें सूखीं, सिंचाई का संकट
रोहनिया। ज्ञानपुर के शीर्ष प्रखंड के लोहता माइनर में पानी नहीं आने से दर्जनों गांवों के किसानों के सामने सिंचाई का संकट पैदा हो गया है। दरेखू, मनियारीपुर, सागरपुर, कृष्णानगर, बलिरामपुर, शहाबाबाद, खुलासपुर, कनेरी, मोहनसराय आदि गांवों में धान की फसलें पानी की कमी से पीली पड़ रही हैं। किसानों का कहना है कि पानी, खाद, बिजली देने का सरकार का वादा खोखला साबित हो रहा है। किसानों ने सिंचाई मंत्री से नहरों में पानी छोड़वाने की मांग की है।

इनसेट
बंद पड़े हैं आठ नलकूप
चिरईगांव। विकास खंड क्षेत्र में स्थित 94 नलकूपों में से आठ नलकूप बंद पड़े हैं। नलकूपों की दशा सुधारने के लिए ब्लाक स्तर पर नलकूप विभाग के अवर अभियंता और कर्मचारी उपलब्ध नहीं रहते हैं। अमरपट्टी गांव का नलकूप चार माह से खराब है। बीकापुर, दीनापुर, चांदपुर, सुल्तानपुर, कमौली, सरैया नंबर प्रथम का नलकूप एक माह से यांत्रिक खराबी के चलते बंद है। झांझूपुर में लगे नलकूप संख्या 221 आठ माह से बेकार पड़ा है। मजे की बात यह है कि नलकूप विभाग वर्तमान में उसे चालू बता रहा है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

अखिलेश यादव का तंज, ...ताकि पकौड़ा तलने को नौकरी के बराबर मानें लोग

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा देश की सोच को अवैज्ञानिक बताना चाहती है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी के इस दरोगा ने दी पूरी कानून व्यवस्था को चुनौती

वाराणसी के चौक थाने में तैनात इंस्पेक्टर अशोक सिंह का यह वीडियो पूरे पुलिस महकमें पर सवाल खड़ा कर रहा है। पूरा मामला दालमंडी में अवैध बेसमेंट निर्माण के खुलासे से जुड़ा है। जहां अशोक सिंह पूरी कानून व्यवस्था को ही चुनौती देते दिख रहे है।

21 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper