कूदे राजनीतिक दल, टकराव के आसार

Varanasi Updated Sat, 22 Sep 2012 12:00 PM IST
वाराणसी। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में छात्रसंघ चुनाव परिणाम घोषणा के बाद अध्यक्ष पद पर पुनर्मतगणना की मांग को लेकर गुरुवार की देर रात तक चले हंगामे और पूरे घटनाक्रम से विश्वविद्यालय प्रशासन ने कुलाधिपति तथा राज्यपाल को अवगत कराया है। इस मामले में राजनीतिक दलों के कूदने से टकराव की स्थिति उत्पन्न हो गई है। सपा के दबाव में देर रात पुनर्मतगणना का लिखित आदेश जारी किया गया तो शुक्रवार को विद्यार्थी परिषद तथा भाजपा नेताओं ने वाइसचांसलर से मिलकर फैसले पर विरोध जताया। उन्होंने कमिश्नर से मिलकर हस्तक्षेप का आग्रह किया। अध्यक्ष पद पर विद्यार्थी परिषद के आशुतोष कुमार सिंह आशु अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी समाजवादी छात्रसभा के प्रतीक सिंह से 62 मतों के अंतर से चुनाव जीते हैं। परिणाम की घोषणा के बाद उनके समर्थकों ने पुनर्मतगणना के लिए देर रात तक हंगामा किया था।
समाजवादी पार्टी के पदाधिकारियों के दबाव पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने गुरुवार रात लगभग 2.15 बजे शनिवार को पुनर्मतगणना कराने का लिखित आदेश दिया था। इसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन तथा जिला प्रशासन के अफसरों की उपस्थिति में मतगणना कक्ष को सील किया गया। सुरक्षा की दृष्टि से वहां पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। शुक्रवार को जब पुनर्मतगणना के फैसले की जानकारी हुई तो विद्यार्थी परिषद एवं भाजपा में आक्रोश व्याप्त हो गया। शाम को महापौर रामगोपाल मोहले, पूर्व महापौर कौशलेंद्र सिंह, विधायक रविंद्र जायसवाल, श्यामदेव रायचौधरी, ज्योत्सना श्रीवास्तव के नेतृत्व में भाजपा के प्रतिनिधिमंडल ने शुक्रवार की शाम को वाइसचांसलर डा. पी नाग तथा मंडलायुक्त चंचल कुमार तिवारी से मुलाकात की। उनके साथ बड़ी संख्या में विद्यापीठ के छात्र भी थे। उन्होंने कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के आशुतोष सिंह की जीत हो चुकी है। कुछ लोग दोबारा मतगणना की मांग कर रहे हैं। विश्वविद्यालय प्रशासन इसकी तैयारी कर रहा है। इसकी बात की कोई गारंटी नहीं कि मतपत्र सुरक्षित हों। ऐसे में फिर से मतगणना कराने का कोई औचित्य नहीं है।
सपा तथा भाजपा के इस मामले में कूदने से टकराव के आसार बने हुए हैं। कहा जा रहा है कि दोपहर 12 बजे पुनर्मतगणना होगी। हालांकि, इस बारे में विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से कोई आधिकारिक सूचना नहीं दी गई है। सूत्रों का कहना है कि दोबारा मतगणना के लिए दोनों पक्षों ने लामबंदी तेज कर दी है। देर रात तक समर्थकों को अधिकाधिक संख्या में लाने की कवायद चलती रही।

कोट्स
छात्र-छात्राओं ने विश्वास व्यक्त कर चुना है। दोबारा मतगणना से इस विश्वास को ठेस पहुंचेगा। इसके लिए विश्वविद्यालय परिसर में रात भर हंगामा किया जाना कतई उचित नहीं है।-आशुतोष कुमार, नवनिर्वाचित अध्यक्ष, छात्रसंघ

इनसेट
कमिश्नर से वीडीए उपाध्यक्ष के स्थानांतरण की मांग
वाराणसी। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के चुनाव में दोबारा मतगणना कराने के विरोध में कमिश्नर से मिलने गए मेयर तथा भाजपा विधायकों ने पिछले दिनों वाराणसी विकास प्राधिकरण में भारतीय जनता पार्टी नेताओं के साथ हुए दुर्व्यवहार की मजिस्ट्रेटी जांच कराने की मांग की। रविंद्र जायसवाल ने कहा कि विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष वीके सिंह ने कर्मचारियों को ललकार कर मारपीट कराई। गेट बंद कर भाजपा कार्यकर्ताओं को पीटा गया। इसकी मजिस्ट्रेट से जांच कराई जानी चाहिए। उन्होंने उपाध्यक्ष के स्थानांतरण, उड़ाका दल प्रभारी दिनेश राय और ध्वस्तीकरण का निर्देश देने वाले अधिकारियों के निलंबन, ध्वस्तीकरण के दायरे में आए भवनों को अनापत्ति प्रमाणपत्र देने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

16 जनवरी 2018

Related Videos

बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल, कहा देश में बेहद कम मुसलमान देशभक्त

सत्ता सुख मिलने के बाद यूपी बीजेपी का कोई न कोई नेता लगातार विवादित बयान दे रहा है। अब बलिया से बीजेपी के विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि देश के ज्यादातर मुसलमान देशभक्त नहीं है। वो खाते भारत का हैं, और चिंता पाकिस्तान की करते हैं।

15 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper