जूना अखाड़े के थानापति शिवानंद पुरी निलंबित

Varanasi Updated Wed, 19 Sep 2012 12:00 PM IST
वाराणसी/हरिद्वार। बैजनत्था स्थित वेद-वेदांत भारतीय ब्रह्म विद्यालय के बटुकों के साथ दुष्कर्म संबंधी आरोपों से थानापति शिवानंद पुरी उर्फ गिरनारी महाराज के घिरने के बाद जूना अखाड़े में हड़कंप मच गया है। उन्हें अखाड़े से निलंबित कर दिया गया है। यह कार्रवाई मंगलवार को वैकुंठी मढ़ी के श्रीमहंत भागीरथीपुरी, जमनापुरी और कल्याणपुरी की संस्तुति पर की गई। थानापति पर दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए पांच बटुकों ने भेलूपुर थाने में तहरीर दी थी। इस बीच मंगलवार को आरोपी थानापति को जेल भेज दिया गया।
थानापति शिवानंद को जूना अखाड़े के हरिद्वार स्थित राष्ट्रीय मुख्यालय में श्रीमहंतों की बैठक के बाद निलंबित करने का फैसला किया गया। एक जांच दल भी गठित किया गया है, जो उन पर लगाए आरोपों की जांच कर अपनी रिपोर्ट देगा। उधर, घटना की जानकारी मिलते ही अखाड़े के सचिव श्री महंत विद्यानंद गिरी सोमवार की रात को ही इलाहाबाद से काशी आ गए थे। हनुमान घाट स्थित केंद्रीय कार्यालय में मठ के पदाधिकारियों के साथ इस प्रकरण पर कई दौर मंत्रणा चली। सचिव ने दावा किया कि कुंभ से पहले यह समिति थानापति पर लगे आरोपों की जांचकर दूध का दूध पानी का पानी कर देगी। इस मामले में वेद विद्यालय के कुछ आचार्यों को भी हटाए जाने के संकेत मिले हैं। बटुकों से दुष्कर्म का खुलासा तीन दिन पहले ही हो गया था। रोहतास के पुंगाडीह गांव से वेद पढ़ने आए अमरेश कुमार मिश्र के अलावा अन्य बटुकों ने पुलिस के सामने पूछताछ में बताया कि रविवार की भोर में ही थानापति को आपत्तिजनक हालत में देख लिया गया था। पता चला कि थानापति बटुकों को टीवी देखने के लिए अपने कक्ष में बुलाते थे। भेद खुलने के बाद नाराज कुछ बटुकों ने थानापति के कमरे में लगे टीवी को तोड़ दिया। छात्र प्रतिपालक विवेक दुबे और आचार्य मोहन दुबे से भी पुलिस ने घंटों पूछताछ की। तहरीर छात्र प्रतिपालक ने ही दी। उधर, मठ पहुंचे अखाड़े के सचिव विद्यानंद ने अमर उजाला से बातचीत में स्पष्ट किया कि उच्चस्तरीय समिति से बटुकों के आरोपों की जांच कराई जाएगी। सचिव का कहना था कि कुछ लोगों की बैजनत्था मठ की संपत्ति पर नजर है। थानापति मठ की सख्ती से निगरानी करते थे। संपत्ति हड़पने की कोशिश में लगे लोगों को यह रास नहीं आ रहा था। ऐसे में अखाड़े के संत को फंसाने की यह चाल भी हो सकती है। दूसरी ओर, भेलूपुर थाने के एसएसआई अशोक दूबे ने बताया कि मंगलवार को पीडि़त बटुकों का मेडिकल नहीं हो पाया है। बुधवार को मेडिकल होगा। आरोपी थानापति को जेल भेज दिया गया है।

पंचदशानाम जूना अखाड़े की वाराणसी स्थित रमता पंच कुंभ मेला छावनी जागेश्वर मठ के प्रबंधक थानापति महंत शिवानंद पुरी गिरनारी को निलंबित कर दिया गया है। शिवानंदपुरी पर कई आरोप लगे हैं, जिनमें से कई की पुष्टि को चुकी है। उनके खिलाफ छात्र भी आंदोलन कर रहे हैं। जांच समिति की रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई होगी। - श्रीमहंत हरि गिरि, राष्ट्रीय महामंत्री (जूना अखाड़ा)

इनसेट
भेद खुला तो करा दिया गंगा स्नान
वाराणसी। दुष्कर्म का मामला सतह पर आने के बाद भुक्तभोगी बटुकों को गंगा स्नान कराकर शुद्ध कराया गया था ताकि प्रायश्चित हो सके। जूना अखाड़े के कारोबारी हरीश भारती ने बताया कि दुष्कर्म का आरोप लगने के बाद जूना अखाड़े में बुलाए गए 13 बटुकों और आचार्यों से पदाधिकारियों ने पूछताछ की थी। सचाई जानने की भरसक कोशिश की गई। तब बटुकों ने कसम खाकर बताया था कि दुष्कर्म जैसा कुछ नहीं है। सिर्फ किसी बात को लेकर टीवी तोड़ा गया है। फिर भी आरोप लगा रहे बटुकों को गंगा स्नान कराकर प्रसाद बांटा गया लेकिन बाद में उन्हें उकसाकर लोग थाने ले गए।

Spotlight

Most Read

Lucknow

अखिलेश यादव का तंज, ...ताकि पकौड़ा तलने को नौकरी के बराबर मानें लोग

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा देश की सोच को अवैज्ञानिक बताना चाहती है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: IIT BHU में स्टूडेंट्स ने किया धमाकेदार डांस, हर कोई कर रहा है तारीफ

आईआईटी बीएचयू के सालाना सांस्कृतिक महोत्सव ‘काशी यात्रा’ में शनिवार को स्टूडेंट्स झूमते नजर आए। बड़ी तादाद में स्टूडेंट्स ने बॉलीवुड गीतों पर प्रस्तुति देकर दर्शक दीर्घा में मौजूद लोगों को भी झूमने पर मजबूर कर दिया।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper