विज्ञापन
विज्ञापन

बाजारवाद की चुनौती को दूर करना कठिन

Varanasi Updated Mon, 03 Sep 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
वाराणसी। इस्लामिक चुनौती का सामना तो हमने कर लिया लेकिन अब उससे बड़ी चुनौती बाजारवाद की है। उत्तर आधुनिकता के जो बीज नेपाल के गांवों में बोए जा चुके हैं, वही बीज अब भारत के हिंदी भाषी गांवों में बोए जाने लगे हैं। पश्चिमी नव उपनिवेशवाद पर अंकुश नहीं लगाया गया तो बाजारवाद की आड़ में सनातन धर्म और संस्कृति दोनों पर हमले तेज हो जाएंगे। ये बातें प्रख्यात विद्वान प्रो. कमलेश दत्त त्रिपाठी ने पं. विद्या निवास मिश्र स्मृति व्याख्यान में अध्यक्षीय संबोधन में कहीं।
विज्ञापन
विज्ञापन
कन्हैया लाल गृप्त स्मृति भवन, रथयात्रा में रविवार को आयोजित भारतीय धर्म और संस्कृति विषयक व्याख्यान में प्रो. त्रिपाठी ने कहा कि सुनिश्चित आचार-विचार में बंध कर जीवन जीना ही धर्म का पालन करना नहीं है। धर्म का अर्थ है गतिमान रहना और जड़ता में पड़े रहना अधर्म है। 19वीं सदी के अंत में भारतीय धर्म, संस्कृति की अत्यंत गलत व्याख्या विश्वस्तर पर की गई। उसका उत्तर देने का क्रम योगी आनंद से शुरू होकर महर्षि अरविंद एवं वासुदेव शरण अग्रवाल से होते हुए पं. विद्या निवास मिश्र तक पहुंचा।
इससे पहले पूर्व कुलपति प्रो. अच्युतानंद मिश्र ने विषय प्रवर्तन करते हुए कहा कि विचारधाराओं पर अडिग न रहना और ईमानदार नेतृत्व की कमी होते जाना भारतीय संस्कृति के लिए खतरनाक है। डा. वशिष्ठ नारायण त्रिपाठी के संचालकत्व में हुए प्रथम सत्र में सागर विश्वविद्यालय के प्रो. अंबिका दत्त शर्मा ने भी विचार व्यक्त किए। दूसरे सत्र में युवा पीढ़ी और धर्म विषय पर डा. अवधेश प्रधान, डा. आनंद मिश्र, डा. आरपी पांडेय, डा. वेदप्रकाश मिश्र, डा. जितेंद्र नाथ मिश्र, डा. पवन कुमार शास्त्री, रमाशंकर दीक्षित, डा. पुष्पा अग्रवाल, प्रकाश उदय आदि ने विचार व्यक्त किए। धन्यवाद ज्ञापन डा. उदयन मिश्र ने किया।

Recommended

HP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।
HP Board 2019

HP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019
ज्योतिष समाधान

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव में किस सीट पर बदल रहे समीकरण, कहां है दल बदल की सुगबुगाहट, राहुल गाँधी से लेकर नरेंद्र मोदी तक रैलियों का रेला, बयानों की बाढ़, मुद्दों की पड़ताल, लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़े हर लाइव अपडेट के लिए पढ़ते रहे अमर उजाला चुनाव समाचार।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Varanasi

रेंज रोवर के साथ  5.93 करोड़ की प्रापर्टी के मालिक हैं इंटर पास निरहुआ 

लोकसभा क्षेत्र आजमगढ़ (69) से शनिवार को भाजपा से नामांकन करने वाले दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ टड़वा तप्पा सौरी, पोस्ट बसेवा, जखनिया, गाजीपुर के रहने वाले हैं। उनके पास रेंज रोवर गाड़ी के साथ ही फारच्यूनर भी है।

21 अप्रैल 2019

विज्ञापन

रैली को संबोधित करते हुए रो पड़े आजम खान, कहा लगता है सबसे बड़ा गुनहगार मैं ही हूं

चुनाव आयोग की पाबंदी झेलने के बाद रैली को संबोधित कर रहे आजम खान रो पड़े। आजम ने सरकार पर उनकी आवाज को दबाने का आरोप लगाते हुए कहा कि लगता है कि सबसे बड़ा गुनहगार मैं ही हूं।

21 अप्रैल 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election