सड़क की खातिर मंत्री और जेई सड़क पर

Varanasi Updated Sun, 05 Aug 2012 12:00 PM IST
वाराणसी। सड़कों के मसले पर लोक निर्माण विभाग के राज्यमंत्री और अभियंताओं में ठन गई है। लोगों का सड़क पर चलना दुश्वार है लेकिन अभियंता बेहतरीन सड़कें बनवाने का दावा कर रहे हैं, जो बारिश के पानी से घुल गई हैं। यूं तो मिट्टी की सड़क भी ठीक से बनी हो तो घुलती नहीं लेकिन सड़क पर गिट्टी, कोलतार के रूप में करोड़ों बहाने के बाद लोक निर्माण विभाग के निलंबित जेई को डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ ने मासूम साबित करने के लिए आंदोलन का ऐलान किया है। राज्यमंत्री सुरेंद्र पटेल का कहना है कि सड़कों की रकम की बंदरबांट ठेकेदारों, अफसरों, नेताओं के सिंडिकेट ने की है। एक-एक पाई का हिसाब लिया जाएगा।
लहरतारा से मंडुवाडीह सड़क पर खर्च हुए 86 लाख 83 हजार रुपये बारिश में बह गए। महीने भर में सड़क का निशान मिट चुका है। मुख्य अभियंता पीसी श्रीवास्तव ने 24 जुलाई को प्रमुख अभियंता (विकास) एवं विभागाध्यक्ष लोक निर्माण विभाग को भेजी रिपोर्ट में निर्माण को संतोषजनक बताया है। महज दो सौ मीटर में पैचेज और 50 मीटर सड़क के उखड़ने की बात कही गई है। इससे पहले 20 जुलाई को सहायक अभियंता राजेंद्र राम ने ठेकेदार एमजे एसोसिएट्स और आरपीएस कंस्ट्रक्शन को जगह-जगह उखड़ी सड़क और पाट होल्स की मरम्मत करने को लिखा था। जब गड़बड़ी ही नहीं थी तो सहायक अभियंता ने ठेकेदार को क्या बनाने को लिखा। इस प्रकरण से जाहिर है कि सड़कों के निर्माण में बड़े पैमाने पर गोलमाल हुआ है और उसमें मुख्य अभियंता से लेकर अवर अभियंता तक शामिल हैं। राज्यमंत्री सुरेंद्र पटेल ने 29 जुलाई को इसी सड़क को बदहाल पाने पर जेई एके सिंह को निलंबित किया था। जेई के बचाव में उतरे डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ के पदाधिकारी भी इस्टीमेट से लगायत निर्माण तक में गड़बड़ी की बात मानते हैं। जिले की हर सड़क के साथ यही हुआ है। आपदा राहत कोष की 39 सड़कों में से तीन की ही मरम्मत की रिपोर्ट पीडब्ल्यूडी ने प्रशासन को भेजी है।



‘‘सड़कों की बदहाली के लिए जिम्मेदार हर अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई होगी। किसी को बख्शा नहीं जाएगा। लहरतारा-मंडुआडीह मार्ग के सहायक अभियंता राजेंद्र राम और अधिशासी अभियंता आरके तिवारी को भी प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई है। मुख्य अभियंता भी इसमें लिप्त थे। उनसे फैजाबाद एवं बनारस का कार्यभार छीन कर अटैच कर दिया गया है। अवर अभियंताओं को धरना-प्रदर्शन करने दीजिए। सड़क की जांच करवाऊंगा। दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा। जेई निर्दोष कैसे है जबकि उसकी देखरेख में ही सड़क बनी है - सुरेंद्र पटेल राज्यमंत्री लोकनिर्माण एवं सिंचाई


सड़क पर बातचीत
- सड़कों की बदहाली सबके सामने है। लोक निर्माण विभाग ने सही ढंग से काम कराया होता तो लोगों को इतनी कठिनाई नहीं झेलनी पड़ती। सड़कें इतनी घटिया बनी थीं कि बारिश में धुल गईं -अशोक कुमार श्रीवास्तव, पूर्व प्रधानाचार्य, पांडेयपुर।
-सड़कों की स्थिति देखकर यह लगता है कि जैसे-तैसे बना दी गई हैं। इसकी कोई मानीटरिंग नहीं की गई। निर्माण के समय प्रशासन नजर रखता तो गुणवत्ता के साथ खिलवाड़ नहीं होता -सुनील कुमार, सोनिया।
दो विभागों के फेर में मलदहिया लोहा मंडी की सड़क दस सालों से नहीं बन रही है। सड़क किनारे की इंटरलाकिंग मिट्टी में दब गई है। लोग मंडी में आने से कतराने लगे है। इससे कारोबार पर असर पड़ा है -रजनीश कन्नौजिया, लोहा व्यापारी
सड़कें इतनी खराब हो गई हैं कि बाहरी व्यापारी अब यहां आने में कतराने लगे हैं। नदसेर की मोटर्स पार्ट्स की दुकानें आसपास की बड़ी बाजारों में शिफ्ट होने लगी हैं। जेई और मंत्री में ठनने की बात नाटक है। इससे यात्रियों को राहत मिलने वाली नहीं है -अखिलेश कुमार सिंह, व्यापारी, नदेसर।
सड़क ही नहीं गलियों के निर्माण में भी बड़े पैमाने पर धांधली हुई है। इसकी भी जांच होनी चाहिए ताकि सच्चाई उजागर हो -सुनील कुमार यादव, चेतगंज
जब तक जिम्मेदार अधिकारियों पर चांप नहीं चढ़ाई जाएगी तब तक काम नहीं होगा। अधिकारी अगर निलंबन का विरोध करें तो नौकरी से निकाल दिया जाए -श्यामनारायण त्यागी, काली महाल
- जेई को सस्पेंड किया गया तो क्या बुरा हुआ। सड़क निर्माण के नाम पर जनता की गाढ़ी कमाई बरबाद की जा रही है। गुणवत्ता की जांच होनी चाहिए ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके। भ्र्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करना सराहनीय है -रबिंद्र कुमार वर्मा, सरायगोवर्धन, चेतगंज
-सड़क निर्माण में धांधली पर जेई को सस्पेंड करना उचित है। भ्रष्ट अधिकारियों को इसी तरह सजा मिलनी चाहिए, तभी पारदर्शिता आएगी। जो सड़कें बनी हैं, उनकी गुणवत्ता की जांच होनी चाहिए -अनवार अहमद, दालमंडी

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल, कहा देश में बेहद कम मुसलमान देशभक्त

सत्ता सुख मिलने के बाद यूपी बीजेपी का कोई न कोई नेता लगातार विवादित बयान दे रहा है। अब बलिया से बीजेपी के विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि देश के ज्यादातर मुसलमान देशभक्त नहीं है। वो खाते भारत का हैं, और चिंता पाकिस्तान की करते हैं।

15 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper