काशी की दुर्दशा से आजम शर्मिंदा, आधा दर्जन निलंबित

Varanasi Updated Sat, 21 Jul 2012 12:00 PM IST
वाराणसी। नगर विकास मंत्री आजम खां को बनारस की सड़कों पर शर्मिदिंगी झेलनी पड़ी। गंदगी, बदबू और सड़कों की बदहाली के लिए उन्होंने जगह-जगह लोगों से माफी मांगी। इसके लिए अफसरों की लानत-मलामत की। गुस्सा और शर्मिदिंगी इतने से भी दूर नहीं हुई तो छह अफसरों को निलंबित करने का ऐलान कर दिया। इस बदहाली के लिए जिम्मेदार कार्यदायी संस्थाओं के बजट में भी 20 फीसदी की कटौती का ऐलान किया। साफगोई से कहा कि कुंभ उनकी प्राथमिकता है और उसके बजट से 250 करोड़ रुपये की लागत से एक इंद्रधनुष के आकार का आठ लेन का पुल बनवाना चाहते हैं ताकि जईफ लोग भी अपने वाहनों से सीधे संगम तट पर उतरें।
उन्होंने कहा कि काशी धार्मिक, विश्व का प्राचीनतम और अंतरराष्ट्रीय शहर है। मंत्री को जिधर जाना हो वहां की सड़क दुरुस्त कर दी जाती है और सफाई हो जाती है लेकिन यहां के अफसरों ने इसकी भी जरूरत नहीं समझी। सीवेज, ड्रेनेज के काम में लगी संस्थाओं ने ठीक से मिट्टी नहीं कूटी, मिट्टी सड़क के किनारे लगाकर नालियों को जाम कर दिया है। एक अफसर ने इस मामले में इकबालिया जुर्म किया है, उसे शाम सात बजे निलंबित कर दिया जाएगा। यहां फुटपाथों, सड़कों को दुरुस्त तक नहीं किया गया है। इसकी सजा सीएनडीएस, सूडा, नगर निगम, जल संस्थान और जल निगम के जिम्मेदार अफसरों को भुगतनी पड़ेगी। वादा किया कि दो महीने में शहर की हालत सुधरने लगेगी। मेयर विकास के लिए जितनी रकम मांगेंगे दी जाएगी।
उन्होंने कहा कि संगम पर आने वाले बुजुर्गों को पांच किमी का चक्कर काटना पड़ता है। वह मल्टी ट्रैक वाला ऐसा पुल बनवाना चाहते हैं जिस पर वे वाहन से पहुंचे और स्वचालित सीढि़यों से सीधे संगम में उतर आएं। इसके लिए कोरिया की कंपनियों से बात हुई है। यदि अबकी नहीं भी बना तो अर्धकुंभ में यह पुल जरूर बन जाएगा। ए टू जेड को फ्राड संस्था बताते हुए कहा कि उसका भुगतान रोक दिया गया है। सालिड वेस्ट मैनेजमेंट की कोई ऐसी संस्था नहीं काम करेगी जो कुछ बोरी खाद बनाए, बिजली का उत्पादन न करे।

Spotlight

Most Read

National

पाकिस्तान की तबाही के दो वीडियो जारी, तेल डिपो समेत हथियार भंडार नेस्तनाबूद

सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है। भारत के जवाबी हमले में पाकिस्तान की कई फायरिंग पोजिशन, आयुध भंडार और फ्यूल डिपो को बीएसएफ ने उड़ा दिया है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

अलग अंदाज में मनाया गया BHU स्थापना दिवस, आप भी कर उठेंगे वाह-वाह

सोमवार को बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में 102वां स्थापना दिवस मनाया गया। इस मौके पर पारंपरिक परिधान में सजे छात्र-छात्रों ने झांकियां निकाली। झांकियों के साथ चल रहे स्टूडेंट्स ढोल-नगाड़ों की थाप पर थिरकते नजर आए।

23 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper