बैंक लोन में मेधावियों को प्राथमिकता

Varanasi Updated Fri, 29 Jun 2012 12:00 PM IST
अमर उजाला ब्यूरो
वाराणसी। एजूकेशनल लोन देने के लिए बैंकों की पहली शर्त है अभ्यर्थी पढ़ने में तेज तर्रार हो। इसके लिए बैंक अच्छे इंस्टीट्यूट और अच्छे विद्यार्थियों का चुनाव करता हैं। 50 फीसदी से कम अंक पाने वाले छात्रों को लोन देने से बैंक सीधे इनकार कर देते हैं। बैंकों ने व्यावसायिक शिक्षा में मेरिट स्कालर्स के लिए एजूकेशनल लोन देने की अलग से व्यवस्था की है। इसमें आम छात्रों की तुलना में स्कालर्स को कम ब्याज दर पर ऋण मुहैया कराया जाएगा। इसके अलावा, छात्र से किसी भी तरह की गारंटी नहीं ली जाएगी। प्रवेश परीक्षा में प्राप्त मेरिट सर्टिफिकेट ही लोन लेने के लिए काफी है। भारतीय स्टेट बैंक ने लोन के लिए पैन कार्ड अनिवार्य कर दिया है। सभी बैंकों में चार लाख रुपये तक के लोन के लिए कोई गारंटी नहीं देनी है। इससे ऊपर, 7.5 लाख रुपये के ऋण पर गारंटर और पांच फीसदी मार्जिन मनी, विदेश में शिक्षा ग्रहण करने के लिए 15 फीसदी मार्जिन मनी और उतनी ही राशि की जमीन या एफडी को गिरवी रखनी पड़ेगी। बैंकों ने लोन पेमेंट की अवधि सात साल से बढ़ाकर 10 साल कर दी है। इसके अलावा, बैंक ऋण की रकम के बराबर छात्र का बीमा कर देते हैं। जिस छात्र के परिवार की आय 4.5 लाख रुपये से कम है, उनके आय प्रमाणपत्र देने पर शिक्षा के दौरान का ब्याज माफ हो जाएगा।

यूनियन बैंक आफ इंडिया के मुख्य प्रबंधक पशुपतिनाथ ने बताया कि आम लड़कों को 15 फीसदी और लड़कियों को 14 फीसदी ब्याज पर लोन दिया जाएगा। आईआईएम के छात्रों को 20 लाख और आईएसबी के लिए 22 लाख रुपये तक के ऋण पर कोई सिक्योरिटी नहीं देनी पड़ेगी। ब्याज दर 10.75 फीसदी होगी। आईआईटी के छात्र को 11.5 फीसदी ब्याज दर देनी पड़ेगी।

एसबीआई एमपीएसटी के मदनलाल ने बताया कि चार लाख से अधिक ऋण पर देश में पढ़ने वाले छात्रों को 5 फीसदी तथा विदेश के छात्रों को 15 फीसदी मार्जिन मनी देना होगी। देश में पढ़ने के लिए अधिकतम 10 लाख और विदेश के लिए 20 लाख तक ऋण मिलेगा। चार लाख के लोन पर 13.5 फीसदी, साढे़ सात लाख तक पर 13.25 फीसदी, इससे ऊपर 12 फीसदी ब्याज देय है।

इलाहाबाद बैंक के मुख्य प्रबंधक एके वर्मा ने बताया कि बैंक में आईआईटी, आईआईएम, आईएसबी हैदराबाद में पढ़ने वाले छात्र को एक फीसदी कम ब्याज देना पड़ेगा। साथ ही 10 लाख रुपये तक कोई सिक्योरिटी नहीं देनी पड़ेगी। लड़कियों के लिए ब्याज दर में एक फीसदी की छूट है। सामान्य लड़कों को बैंक 13.5 फीसदी ब्याज देना है। बैंक की वेबसाइट इलाहाबाद बैंक डॉट इन पर भी आवेदन कर सकते हैं।

काशी गोमती संयुत ग्रामीण बैंक की लहतारा शाखा के प्रबंधक अजय सिंह ने बताया कि चार लाख रुपये तक लोन पर कोई गारंटर नहीं चाहिए। साढ़े सात लाख रुपये तक लोन के दो गारंटर चाहिए। कागजी कार्यवाही पूरी करने के बाद दो दिन में लोन मिल जाएगा। लड़कों के लिए 14 फीसदी और लड़कियों के लिए 13.5 फीसदी ब्याज दर है।


कैसे प्राप्त करें ऋण
दलालों के चक्कर में न फंसे अभ्यर्थी, सीधे बैंक के ऋण विभाग से करें संपर्क
जरूरी कागजात के साथ करें आवेदन
अब ऑनलाइन भी कर सकते हैं आवेदन

जरूरी दस्तावेज
संबंधित जिले का निवासी होना जरूरी
पिता नौकरी करते हैं तो अंतिम पे-स्लीप और दो साल के फार्म-16
व्यवसाय करते हों तो तीन साल का आयकर रिटर्न
अंतिम उत्तीर्ण परीक्षा का अंकपत्र
संस्थान में दाखिला संबंधी प्रमाणपत्र
कोर्स के लिए अनुमानित (फीस) खर्चों का विवरण
दो फोटोग्राफ, आवास प्रमाणपत्र, बैंक खाता (जिस बैंक से आप लोन ले रहे हैं)
छात्र और अभिभावक का पैन कार्ड
गारंटर के कागजात

Spotlight

Most Read

Dehradun

देहरादून: 24 जनवरी को कक्षा 1 से 12 तक बंद रहेंगे सभी स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र

मौसम विभाग की ओर से प्रदेश में बारिश की चेतावनी के चलते डीएम ने स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र बंद करने के निर्देश जारी किए हैं।

23 जनवरी 2018

Related Videos

अलग अंदाज में मनाया गया BHU स्थापना दिवस, आप भी कर उठेंगे वाह-वाह

सोमवार को बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में 102वां स्थापना दिवस मनाया गया। इस मौके पर पारंपरिक परिधान में सजे छात्र-छात्रों ने झांकियां निकाली। झांकियों के साथ चल रहे स्टूडेंट्स ढोल-नगाड़ों की थाप पर थिरकते नजर आए।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper