आपका शहर Close

मॉक ड्रिल ने खोल दी डिजास्टर मैनेजमेंट की पोल

Varanasi

Updated Fri, 15 Jun 2012 12:00 PM IST
वाराणसी। कैंट स्टेशन को उड़ाने की आतंकी धमकी के मद्देनजर गुरुवार को जीआरपी, आरपीएफ और सिविल पुलिस ने अपनी तैयारी परखी, लेकिन रिहर्सल में जो दिखा वह मजाक से ज्यादा कुछ और नहीं था। लोगों के जेहन में यह सवाल कौंधता रहा कि आतंकियों से स्टेशन को ऐसे कैसे महफूज रखा जा सकेगा। ऐसा होना लाजिमी भी था। आखिर आपने कहीं देखा है कि बिना हेलमेट के वह भी सफारी पहने बम डिस्पोजल दस्ते को। जिस वक्त मॉक ड्रिल चल रहा था उस समय न तो प्लेटफार्म से ट्रेन हटाई गई और न ही यात्रियों को संदिग्ध अटैची से दूर किया गया। मौके पर न दमकल दिखा और न ही एंबुलेंस। यहां तक कि पुलिस और रेलवे का एक भी उच्चाधिकारी नजर नहीं आया।
कैंट स्टेशन पर दिन के साढ़े 11 बजे अचानक जब बम की सूचना प्रसारित की गई तो यात्री उल्टे पांव भागने लगे। जहां बम रखने की सूचना दी गई वह स्थान जीआरपी ने रस्सी से घेर दिया। डाग स्क्वायड से अटैची की जांच कराई गई। पास खड़ी बाइक की भी जांच की गई। बम डिस्पोजल दस्ते ने अटैची को रस्सी से बांधकर पुल की सीढ़ी से दो बार नीचे फेंका। जब पूरा इत्मीनान हो गया कि अटैची में बम नहीं है तो उसे खोला गया। उसमें कपड़ा मिलने पर यात्रियों ने राहत की सांस ली। इसके साथ ही प्लेटफार्म नंबर सात पर बेगमपुरा एक्सप्रेस, एक नंबर पर शालीमार एक्सप्रेस, बलिया पैसेंजर आदि ट्रेनों की जांच की गई। यात्रियों के सामान भी खंगाले गए।
स्टेशन पर मौजूद यात्रियों को जब यह अहसास हो गया कि यह मॉक ड्रिल था तो उनमें पुलिस की कार्यप्रणाली पर चर्चा भी शुरू हो गई। कई यात्री जहां यह कहते सुने गए कि वास्तव में बम होता तो पुलिस कुछ कर नहीं पाती, क्योंकि आतंकी घटनाओं से निबटने की जो तैयारी होनी चाहिए, वैसा कुछ नहीं दिखा। एक यात्री का कहना था कि दो बार जब अटैची को पुल पर से फेंका गया तो ट्रेन वहीं खड़ी थी, उसे भी नहीं हटाया गया, जबकि यदि बम होता और वह फट गया होता तो ट्रेन के परखच्चे उड़ जाते। पुलिस का यह रिहर्सल लोग 20 मीटर दूर से देख रहे थे, जबकि लोगों को 50 मीटर दूर ही रोक देना चाहिए था। प्लेटफार्म नंबर चार और पांच जहां मॉक ड्रिल चल रहा था वहां न तो पुलिस का कोई उच्चाधिकारी नजर आया और न ही रेलवे का। मॉक ड्रिल के लिए सीओ रामजीत यादव के नेतृत्व में सात टीमें गठित की गई थीं। इनमें जीआरपी प्रभारी त्रिपुरारी पांडेय, आरपीएफ प्रभारी कमलेश्वर सिंह और अन्य जवान शामिल थे।
Comments

स्पॉटलाइट

25 साल बाद इस हालत में पहुंचा आमिर खान का कोस्टार, बीवी ने खदेड़ा था घर से बाहर

  • शुक्रवार, 15 दिसंबर 2017
  • +

एक्स ब्वॉयफ्रेंड ने देखी अनुष्‍का की हनीमून फोटो, फिर तुरंत दिया कुछ ऐसा रिएक्‍शन

  • शुक्रवार, 15 दिसंबर 2017
  • +

अनुष्‍का-विराट की हनीमून फोटो पर 1 घंटे में 9 लाख से ज्यादा लाइक, तेजी से हो रही वायरल

  • शुक्रवार, 15 दिसंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: अर्शी के अंतरवस्‍त्रों पर हिना की घटिया बात सुन लव और‌ प्रियांक ने दिया ऐसा रिएक्‍शन

  • शुक्रवार, 15 दिसंबर 2017
  • +

शाहरुख-सलमान को छोड़िए, इस स्टार की कमाई है 32 अरब, गरीब दोस्तों को दान कर दिए 6-6 करोड़ रुपए

  • शुक्रवार, 15 दिसंबर 2017
  • +

Most Read

मुसीबत में फंसे आजम खान, सरकारी पैसे से नियुक्त किया था निजी वकील

high court ordered MD of jal nigam to recover payment from azam khan
  • शुक्रवार, 15 दिसंबर 2017
  • +

NGT ने केजरीवाल सरकार को दिया तगड़ा झटका, बिना छूट के लागू होगा ऑड-ईवन

ngt dismisses delhi government review petition on odd even exemption issue, bring all under scheme
  • शुक्रवार, 15 दिसंबर 2017
  • +

'मजेदार' अंग्रेजी से लालू ने कसा भाजपा पर तंज, लिखा- ना करना भूल, चटाना धूल

Gujarat Vidhan Sabha Election: lalu prasad yadav attacks BJP gujarat election 2017
  • गुरुवार, 14 दिसंबर 2017
  • +

CM योगी की तस्वीर से सांकेतिक विवाह करने वाली महिला पर देशद्रोह का केस, 14 दिन जेल

woman who did marriage with yogi adityanath pic sent to jail.
  • रविवार, 10 दिसंबर 2017
  • +

नसीमुद्दीन, राजभर और मेवालाल सहित 22 बसपा नेताओं के खिलाफ चार्जशीट तैयार, लगेगा पॉक्सो

chargesheet prepared against nasimuddin and other BSP leaders.
  • गुरुवार, 14 दिसंबर 2017
  • +

व्यापम घोटाला: हाईकोर्ट ने कहा, आरोप साबित हुए तो छात्रों के भविष्य की सामूहिक हत्या का केस चलेगा

Jabalpur Highcourt rejects anticipatory bail plea of accused in vyapam pmt 2012 case Madhya pradesh
  • शुक्रवार, 15 दिसंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!