सीपीएमटीः 6908 ने दी परीक्षा, 495 छात्र रहे अनुपस्थित

Varanasi Updated Mon, 04 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें
वाराणसी। कड़ी सुरक्षा के बीच सीपीएमटी में 6908 अभ्यर्थी शामिल हुए। लगभग सात फीसदी छात्रों ने परीक्षा छोड़ दी। खास बात यह रही कि फर्जीवाड़ा रोकने के लिए सतर्कता बरतते हुए छात्रों के मोबाइल, घड़ी और अन्य इलेक्ट्रानिक उपकरण ही नहीं कलम तक ले जाने पर प्रतिबंध था। उन्हें परीक्षा केंद्र पर आयोजक विश्वविद्यालय की ओर से कलम उपलब्ध कराई गई। परीक्षा की शुचिता बनाए रखने के लिए अभ्यर्थियों की फोटोग्राफी कराई गई। फोटोग्राफी के चलते कुछ केंद्रों पर अफरातफरी की स्थिति रही क्योंकि इसमें कुछ समय लगने से अभ्यर्थियों में परीक्षा छूटने की आशंका को लेकर घबराहट थी। एक केंद्र पर कलम कम पड़ गई थी, जिसे बाद में नोडल सेंटर से खरीदकर भेजा गया।
विज्ञापन

फिजिक्स-केमेस्ट्री के सवाल थे कठिन
परीक्षार्थियों का कहना था कि फिजिक्स तथा केमेस्ट्री के सवाल अपेक्षाकृत कठिन थे। यूपी कालेज केंद्र पर शामिल गरिमा शर्मा के अनुसार, पेपर ऐसा नहीं था जिसे बहुत कठिन कहा जा सके। यह जरूर है कि केमेस्ट्री में आर्गेनिक से सवाल नहीं पूछे गए थे। विद्यापीठ केंद्र पर परीक्षा दे रहे अशोक कुमार ने बताया कि फिजिक्स तथा केमेस्ट्री के सवालों ने खूब उलझाया। प्रश्नपत्र में किसी प्रकार की मिसप्रिटिंग नहीं थी। इसी सेंटर की आशा कुमारी ने बताया कि पेपर ठीक था। फिजिक्स के सवाल थोड़े कठिन लग रहे थे। राघव राम बालिका इंटर कालेज में शामिल अभय सिंह का कहना है कि पेपर आसान था। किसी भी विषय के सवाल उलझाऊ नहीं लगे।
कोट
93.3 फीसदी अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी। 495 छात्रों ने परीक्षा छोड़ दी। सभी परीक्षा केंद्रों पर समय से परीक्षा शुरू हुई। परीक्षा में कहीं से किसी प्रकार की गड़बड़ी की सूचना नहीं है। प्रत्येक केंद्र पर परीक्षा के आयोजक विश्वविद्यालय की ओर से दो तथा स्थानीय स्तर पर एक आब्जर्वर नियुक्त किए गए थे। बताया कि एसडीएम की देखरेख में ओएमआर की एक कापी ट्रेजरी में जमा करा दी गई। डा. पद्माकर सिंह, परीक्षा के नोडल अधिकारी
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us