सफाईकर्मियों के प्रति प्रधानों की जिम्मेदारी तय

Varanasi Updated Sun, 03 Jun 2012 12:00 PM IST
लोहता। गांवों में साफ-सफाई की व्यवस्था दुरुस्त रहे, इसके लिए ग्राम प्रधानों की जिम्मेदारी तय कर दी गई है। अब सफाईकर्मियों के कार्यों की प्रगति रिपोर्ट हर सप्ताह ग्राम प्रधानों को ब्लाक पर देनी होगी। साथ ही, ग्राम सभा की कल्याण समिति की बैठक में सभी सदस्यों की सहमति के बाद ही सफाईकर्मियों का वेतन जारी किया जाएगा। काशी विद्यापीठ ब्लाक के एडीओ पंचायत ने पत्र के माध्यम से यह निर्देश आए दिन मिल रही ग्रामीणों की शिकायत के मद्देनजर दिया है।
काशी विद्यापीठ ब्लाक की 87 ग्राम सभाओं में 145 सफाईकर्मी तैनात हैं। इसके बावजूद गांवों में सफाई की दशा बदतर है। एडीओ पंचायत श्रीकांत दर्वे ने बताया कि सफाईकर्मियों के काम न करने के बारे में गांव के लोगों की लगातार शिकायत आ रही थी। उनकी शिकायत पर अब ग्राम प्रधानों की जिम्मेदारी तय कर दी गई है। जिस गांव में सफाईकर्मी लापरवाही बरतेंगे, उस गांव के प्रधान उनके प्रति जिम्मेदार होंगे। सफाईकर्मियों की प्रगति रिपोर्ट हर सप्ताह ब्लाक पर देनी होगी। इसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अलग अंदाज में मनाया गया BHU स्थापना दिवस, आप भी कर उठेंगे वाह-वाह

सोमवार को बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में 102वां स्थापना दिवस मनाया गया। इस मौके पर पारंपरिक परिधान में सजे छात्र-छात्रों ने झांकियां निकाली। झांकियों के साथ चल रहे स्टूडेंट्स ढोल-नगाड़ों की थाप पर थिरकते नजर आए।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls