विकास प्राधिकरण सचिव के खिलाफ एनबीडब्ल्यू

Varanasi Updated Wed, 30 May 2012 12:00 PM IST
वाराणसी। एसीजीएम नवम की अदालत ने मंगलवार को विकास प्राधिकरण के सचिव सर्वज्ञ राम मिश्रा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है। उनपर यह कार्यवाही 2001 के एक मुकदमे में बार-बार बुलाने के बाद भी गवाही देने न आने पर की गई है। आदेश की प्रति कैंट पुलिस को दे दी गई है।
तत्कालीन कानूनगो अंबिका लाल श्रीवास्तव ने 2001 में तत्कालीन लेखपाल सत्येंद्र प्रसाद के खिलाफ सरकारी धन का गबन और बेईमानी का आरोप लगाया था। उनकी तहरीर पर कैंट थाने में सत्येंद्र के खिलाफ धारा 406 और 409 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। उस समय सर्वज्ञ राम मिश्रा ने मजिस्ट्रेट के रूप में गवाही दी थी, मगर पुलिस के चार्जशीट लगाने के बाद गवाही के लिए बार-बार बुलाने के बाद भी वह नहीं आए। समन और वारंट पहले ही जारी हो चुका है। लेखपाल सत्येंद्र ने जल्द सुनवाई के लिए हाईकोर्ट में गुहार लगाई थी। मामले को गंभीरता से लेते हुए एसीजेएम नवम की अदालत ने मंगलवार को विकास प्राधिकरण के सचिव सर्वज्ञ राम मिश्रा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अलग अंदाज में मनाया गया BHU स्थापना दिवस, आप भी कर उठेंगे वाह-वाह

सोमवार को बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में 102वां स्थापना दिवस मनाया गया। इस मौके पर पारंपरिक परिधान में सजे छात्र-छात्रों ने झांकियां निकाली। झांकियों के साथ चल रहे स्टूडेंट्स ढोल-नगाड़ों की थाप पर थिरकते नजर आए।

23 जनवरी 2018