बीएचयू में आईआईटी पैटर्न पर होगी अध्यापकों की नियुक्ति

Varanasi Updated Sat, 05 May 2012 12:00 PM IST
वाराणसी। बीएचयू में अब अध्यापकों की नियुक्ति आईआईटी के तर्ज पर होगी। विषयों की अधिकता और विविधता को देखते हुए हर संकाय के लिए बाहरी विशेषज्ञों द्वारा अलग-अलग निर्देशिका तैयार की जाएगी। इसके लिए विशेषज्ञों के नाम तय किए जा चुके हैं। जल्द ही इस दिशा में कार्य शुरू हो जाएगा। वहीं पूर्व में हुई नियुक्तियों में गड़बड़ी की शिकायतों की जांच के लिए कमेटी गठित कर दी गई है। अमर उजाला से खास बातचीत में कुलपति डा. लालजी सिंह ने यह बातें बताईं।
कुलपति डा. सिंह ने बताया कि इन सब के पीछे विश्वविद्यालय का माहौल और शैक्षिक स्तर इतना ऊंचा बनाना है ताकि विद्यार्थी विश्व बाजार की प्रतिष्पर्धा में टिक सके। कहा कि, हर विधा के विद्यार्थियों को उच्च स्तर की शिक्षा उपलब्ध हमारा प्रमुख उद्देश्य है। विश्वविद्यालय की स्थापना के पीछे महामना का यही सपना था। उन्होंने बताया कि नियुक्ति प्रक्रिया को पूरी तरह पारदर्शी बनाया जा रहा है। इसी के तहत पूर्व में हुई गड़बडि़यों के बाबत में मिली शिकायतों की जांच के लिए कमेटी गठित कर दी गई है। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके विरुद्ध सख्त कार्रवाई होगी। बता दें कि पिछले कुलपति के कार्यकाल में लाइब्रेरी में हुई नियुक्तियों में अनियमितता को अमर उजाला ने ही प्रमुखता से प्रकाशित किया था।
उन्होंने सहजता से स्वीकार किया कि केंद्रीय कार्यालय और वित्त विभाग में कुछ काले कोने हैं, जहां काम-काज में नुक्ताचीनी ज्यादा है। इस सहज बनाने की कोशिश की जा रही है। एक उदाहरण देते हुए उन्होंने बताया कि एक संबद्ध कालेज के विद्यार्थियों ने केंद्रीय पुस्तकालय की सुविधा लेने का अनुरोध किया था। उन विद्यार्थियों को यह सुविधा मुहैया कराने के लिए लाइब्रेरियन को आदेश दिया गया लेकिन एक कनिष्ठ अधिकारी ने उस पर नोट लिखा कि पहले इस बारे में लाइब्रेरियन से राय ली जाए। हालांकि इसके लिए अधिकारी के विरुद्घ नोटिस जारी की गई लेकिन यह तो हद है कि कुलपति के आदेश को क्रियान्वित करने की बजाय उस पर टरकाऊ नीति अपनाते हुए नोट लिखा जाए। इससे से छात्र हित प्रभावित होता है। इस कार्यशैली बदलूंगा।
आईआईटी में एक्सपर्ट की टीम विषय के होनहार प्राध्यापकों का अपने तय मानक पर आकलन करती है। उन्हें अपने यहां अध्यापन का आफर देती है और तय नियुक्ति प्रक्रिया में उन्हें नियुक्त करती है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अलग अंदाज में मनाया गया BHU स्थापना दिवस, आप भी कर उठेंगे वाह-वाह

सोमवार को बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में 102वां स्थापना दिवस मनाया गया। इस मौके पर पारंपरिक परिधान में सजे छात्र-छात्रों ने झांकियां निकाली। झांकियों के साथ चल रहे स्टूडेंट्स ढोल-नगाड़ों की थाप पर थिरकते नजर आए।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls