राजनीति बन बैठी दासी गुंडों के ...

Unnao Updated Wed, 26 Sep 2012 12:00 PM IST
अचलगंज (उन्नाव)। स्वतंत्रता आंदोलन के प्रथम कवि अमर साहित्यकार पंडित प्रताप नारायण मिश्र के 157 वें जन्म दिवस पर वाणी पुत्रों ने कवि सम्मलेन के माध्यम से उन्हें अपने श्रद्धासुमन अर्पित किए।
जयंती पर सोमवार रात बेथर में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसकी शुरुआत राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त अप्ट्रान के चेयरमैन एवं कवि आत्मप्रकाश शुक्ल ने की। उन्होंने ‘अंधेरा आपदाओं का भले कितना ही गाढ़ा हो। मगर उम्मीद की एक लौ अचानक जग ही जाती है ’पंक्तियों से अपने आराध्य पर विश्वास प्रकट किया। उमाशंकर यादव ने ‘पावन पुनीत बैसवारे की महान भूमि। अपने प्रताप को नमन शत बार है’ और लखनऊ के वाहिद अली ने ‘हिन्दी तन है, हिन्दी मन है रहते हिन्दुस्थान में। जिसका जीवन सदा समर्पित भाषा के उत्थान में। जिसकी कलम बनी पतवारें अंग्रेजी तूफान में। कलम तिरंगा लहराती है उनके ही सम्मान में’ पंक्तियों से श्रद्धांजलि दी। हैदरगढ़ के रामेश्वर द्विवेदी प्रलंयकारी ने ‘हम शिन्नी और चादर चढ़ाते हैं देवा में, तुम महादेवा आओ तो भाई मान लेंगे हम। अजमेर वाले ख्वाजा तो पहले से हमारे हैं। तुम पुष्कर नहाओ सुखदाई मान लेेंगे हम’ कविता से एकता बनाने पर बल दिया। लखनऊ के राजेंद्र पंडित ने ‘दाल महंगी है अगर कम खाइए, व्यर्थ मत सरकार को गरियाइए। क्या हुआ पेट्रोल महंगा हो गया, भागिए खुद फटफटी हो जाइए’ कविता से महंगाई पर व्यंग्य किया। रामनगर के विनय शुक्ला ने रचना के माध्यम से राजनीति को गुंडों की दासी की संज्ञा दी, कहा- ‘राजनीति बन बैठी दासी गुंडों के चौपालोें की। जन गण मन पर कालिख मल दी खादी ने घोटालों की।’ लखीमपुर खीरी से पधारी कवियत्री रंजना सिंह ने ‘मुझको खुद अपनी ही तनहाई से डर लगता है। गम की दरियों की गहराई से डर लगता है। रोज ससुराल में जलती है बहू सुनते हैं। ये हया अब मुझे शहनाई से डर लगता है।’ पढ़ा।
संचालन कर रहे बाराबंकी के कवि रामकिशोर तिवारी ने ‘उस भगत सिंह नर नाहर के चरणों मेें शीश झुकाता हूं, उस महा सूर्य की पूजा में छोटा सा दिया जलाता हूं’ कविता से शहीदे आजम को याद किया। कवि केडी शर्मा हाहाकारी ने ‘दस बीस दुकानें हैं जिनकी बम्बई औ कलकत्ता मा। उनके लरिका लाइन लगाइन बेरोजगारी भत्ता मा’ पढ़ी।
इसके अलावा रमई काका के ग्राम रावतपुर के शैलेंद्र त्रिवेदी, सुरेश फक्कड़, उमा निवास बाजपेई, अतुल मिश्र ने भी अपनी रचनाओं से मिश्र को नमन किया। इस मौके पर वाणी पुत्रों एवं श्रोताओं का पंडित प्रताप नारायण मिश्र स्मारक समिति के मंत्री हरिसहाय मिश्र (मदन) ने आभार व्यक्त किया। प्रधान सिद्धार्थ तिवारी, रवि सहाय मिश्र, लल्लो तिवारी, श्याम बाबू शुक्ला, श्याम मिश्र, अंकित मिश्रा, दुर्गा प्रसाद सोनी, प्रमोद पांडेय, धीरज शुक्ला, बीरेंद्र द्विवेदी, पीसी मिश्रा, राजकुमार वर्मा, शिक्षक, शिवकृष्ण तिवारी, कमल सिंह इटौली, हरेराम यादव आदि उपस्थित रहे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी में नौकरियों का रास्ता खुला, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग का हुआ गठन

सीएम योगी की मंजूरी के बाद सोमवार को मुख्यसचिव राजीव कुमार ने अधीनस्‍थ सेवा चयन बोर्ड का गठन कर दिया।

22 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper