घोटालेबाजों के खिलाफ बने सख्त कानून-बेदी

Unnao Updated Thu, 21 Jun 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
उन्नाव। अपराध और अपराधियों के खिलाफ अपना कैरियर शुरू करने वाली पूर्व आईपीएस किरण बेदी भ्रष्ट तंत्र के खिलाफ उम्मीद की नई किरण लेकर बुधवार को उन्नाव आईं। यहां उन्होंने लोगों से मजबूत जन लोकपाल के लिए ईमानदार लोगों को ही लोकसभा में चुनकर भेजने और 25 को होने वाले अन्ना के आंदोलन में शामिल होने की अपील की।
देश से भ्रष्टाचार का घुन मिटाने के लिए मजबूत जन लोकपाल बिल के लिए आंदोलन कर रहे अन्ना हजारे 25 जुलाई से फिर दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरने पर बैठने जा रहे हैं। इस आंदोलन सफल बनाने के लिए इंडिया अगेंस्ट करप्शन टीम ने बलिया जिले के जयप्रकाश नगर से लखनऊ के शहीद उद्यान तक अन्ना संदेश यात्रा शुरू की है। बुधवार को इस यात्रा का पड़ाव अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद की धरती उन्नाव का एसवीएम सभागार था। यात्रा का नेतृत्व कर रहीं टीम अन्ना की सदस्य किरण बेदी ने भाषण की शुरुआत अपने पुलिस ड्यूटी के कार्यकाल से की। उन्होंने कहा जब मैं ड्यूटी पर थी तो बहुत से लोग चोरी, चेन स्नैचिंग, जेब कटने और लूट आदि की शिकायतें लेकर आते थे लेकिन कोई भी रिश्वत मांगने की शिकायत लेकर नहीं आया। जेबकतरा तो केवल एक जेब काटता है जबकि घोटालेबाज, रिश्वतखोर पूरे समाज की जेबें काट रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक जेबकतरे के लिए तो हमारे यहां कानून है लेकिन सरकार कतरे (घोटालेबाज) के लिए कोई ठोस कानून नहीं है। अन्ना हजारे ने घोटालेबाजों के खिलाफ कानून बनाने के लिए ही आंदोलन शुरू किया है।
कहा कि 60 साल में महज दो बड़े घोटालेबाज नेता जेल गए वो भी तब जब सबने मिलकर आवाज उठाई। कोई चोर और लुटेरा पकड़ा जाता है तो उससे माल की बरामदगी होती है लेकिन इन घोटालेबाजों से कुछ मिला क्या? सरकार में बैठे लोग तो विदेशों से लिए कर्ज में भी घोटाले करते हैं। यही कारण है कि आज प्रत्येक नागरिक पर 36 हजार रुपए का ऋण है।
किरण बेदी ने कहा कि घोटालों के खिलाफ आवाज न उठाकर आप भी भ्रष्टाचार रूपी पाप के भागीदार बन रहे हैं। इसके खिलाफ आवाज उठाने के लिए हमारे साथ आओ। कहा कि अगर देश का निचला तबका जनलोकपाल के बारे में नहीं जाता है तो उसके लिए सरकार दोषी है, क्योंकि 60 साल से अधिक समय तक सत्ता में रहने वालों ने उन्हें शिक्षित होने ही नहीं दिया। गांधीजी ने देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी थी और अन्ना हजारे भ्रष्टाचार से आजादी के लिए लड़ रहे हैं।


आपके अस्सी संसद कर देंगे अच्छी
बेदी ने लोगों से कहा कि अगर देश को बदलना है तो पहले उत्तर प्रदेश को बदलो। यूपी से 80 सांसद चुने जाते हैं। यहां के लोग अगर ईमानदार नेताओं को चुनकर भेजें तो संसद खुद बखुद बदल जाएगी। उन्होंने कहा कि अपराधी, जातिवाद की राजनीति करने वालों को कतई वोट न करें।
युवा सीएम से मांगों ईमानदार प्रशासन
उन्नाव। किरण बेदी ने कहा कि आपके पास युवा सीएम है। उससे ईमानदार और स्वच्छ प्रशासन मांगो। अगर शासन प्रशासन ईमानदार होगा तो सारी समस्याएं जल्द और आसानी से निपट जाएंगी। यूपी में भी जनलोकपाल की तरह मजबूत लोकायुक्त की जरूरत है।

कांग्रेस पर बरसे कुमार विश्वास
उन्नाव। टीम अन्ना के सदस्य कुमार विश्वास ने अपने भाषण की शुरुआत उन्नाव के कवियों, लेखकों और देश पर प्राण न्यौछावर करने वाले चंद्रशेखर आजाद जैसे वीरों को याद करके की। इसके बाद बगैर नाम लिए कांग्रेस पर हमला बोल दिया। कहा कि पिछला चुनाव यूपी के लोगों के गुस्से का गवाह है। दिल्ली से आकर गरीबों के घर खाना खाने वाले नेता को यूपी की जनता ने वोट की चोट से करारा जवाब दिया। नेता को उसकी पुश्तैनी सीटों पर करारी पराजय झेलनी पड़ी। उन्होंने कहा कि राजा का काम दलितों के घर खाना खाने का नहीं होता। उसका कर्तव्य होता है कि खाना खाने से पहले वह सोचे के उसकी गरीब और दलित जनता ने भोजन किया भी है या नहीं। यूपी की सरकार को भी आडे़ हाथ लिया। बोले कि कहा जा रहा है यूपी में समाजवाद आ गया। समाजवाद तो कन्नौज में आया है जहां चुनाव ही नहीं हुए। नोएडा-गाजियाबाद में पहले पैसा चुकाने वालों को बिजली देने का ऐलान किया गया है, क्या यही लोहिया का समाजवाद है कि साधन संपन्न ही सुख सुविधाएं भोगें।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Dehradun

आज से पहाड़ और मैदान में चलेंगी गर्म हवाएं

आज से पहाड़ और मैदान में चलेंगी गर्म हवाएं

24 मई 2018

Related Videos

VIDEO: धू-धू कर जलने लगा ATM, ऐसे जल गई लाखों की रकम

उन्नाव के शुक्लागंज इलाके में एक एटीएम में भीषण आग लगने से लाखों का नुकसान हो गया। ये एटीएम पंजाब एंड सिंध बैंक का था। एटीएम के साथ में मौजूद बैंक में फंसे कर्मचारियों को बमुश्किल बाहर निकाला जा सका।

22 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen