सफी मोहम्मद का 146वां उर्स शुरू

Unnao Updated Tue, 05 Jun 2012 12:00 PM IST
सफीपुर (उन्नाव)। खादिम शाह सफी मोहम्मद का 146वां सालाना उर्स अपनी रिवायतों के साथ शुरू हो गया। मजार के गुस्ल का पानी बतौर प्रसाद लेने वालों की भीड़ रही। रात में चादर जुलूस की आतिशबाजी ने सबका दिल जीता। मिलादुन्नबी में मशहूर शायरों ने अपने कलाम पेश किए।
नगर के मोहल्ला पीरजादा स्थित शाह सफी के उर्स की शुरुआत रविवार की रात पाक किताब की तिलावत से की गई। उसके बाद मजार के गुस्ल का पानी लेने को भीड़ उमड़ी। मजार के समांखाने में नमाज बाद हुई महफिल में मशहूर कव्वाल रिजवान लखनवी, गुफरान खैराबादी, फरीद इलाहाबादी, अनवर शहजहांपुरी, फरीद खैराबादी आदि ने कव्वालियों से समा बांधा। बाद मगरिब मजार के पश्चिम बने प्रांगण में आयोजित मिलादुन्नबी में विभिन्न प्रांतों से आए शायरों ने अपने अशआरों से नजराने अकीदत पेश किया। इसमें खास तौर पर आंध्र प्रदेश हैदारबाद के मकसूद, इलाहाबाद से आए आशिक, रियाजउद्दीन आदि एक दर्जन शायर थे। इस महफिल की अध्यक्षता मुतवल्ली मजार शरीफ लाएफ नाजिम ने व संचालन दानिश बकाई ने की। नमाजे ईशा खत्म होते ही मजार से जुलूस ए गागर उठा। यह मोहल्ला सैय्यदवाड़ा, मीरबाजार, किलाबाजार से गुजरकर वापस मजार पर आया। इसके बाद चादर चढ़ाई गई। देर रात मजार के समाखाने में महफिल हुई। कव्वालों ने पीर की शान में बेहतरीन कव्वालियां पेश कीं। सुबह नात शरीफों के पढ़े जाने के बाद ठीक साढ़े सात बजे पहला कुल शरीफ पढ़ा गया। दोपहर बाद नमाज जोहर शाह सफी की मजार पर पुन: कव्वालियों का दौर चला। नगर के किला बाजार स्थित बाबर सफवी के आवास पर शेख सारंग मजार मजगंवा शरीफ के सज्जादानशीं आरिफ मियां की याद में एक महफिल का आयोजन किया गया। परजादगान स्थित बस्सन मियां और खलीलउल्ला शाह की मजार पर महफिल हुई। यहां भी कुल शरीफ पढ़ा गया। जिसकी कयादत सज्जादानशीं इरशाद अली, नब्बू मियां ने की। इसी तरह मोहल्ला सैय्यदवाड़ा स्थित कुदरतउल्ला शाह की मजार पर सज्जादानशीं शारिक सफवी की देखरेख में हुआ।


जारी होते हैं मोहम्मद साहब के संदेश
सफीपुर। पीर बकाउल्ला शाह, खादिम शाह सफी और अलीम शाह बकाई के उर्स में ईरान देश से तशरीफ लाए मौलाना मोहम्मद अली अलवी ने एक मुलाकात में कहा कि इन मजारों के जरिए से मोहम्मद साहब और उनके इमामों का संदेश जारी होता है। इसी बात ने सबसे ज्यादा उनको आकर्षित किया। उनके साथ सज्जादानशीं वलीउल्ला, नवाज अख्तर, बाबर सफवी आदि लोग मौजूद रहे।


मेहमानों की खिदमत में सभी शामिल
सफीपुर। उर्स में शिरकत करने वाले एक लाख से अधिक मुरीदों के ठहरने और खाने पीने की व्यवस्था की गई। मजार के आसपास सभी मार्गों पर लोगों ने अलग अलग स्थानों पर ठंडे पानी और शर्बत पिलाने की व्यवस्था की । सभी धर्मों के लोगों ने मेहमानों के ठहरने की व्यवस्था की है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

अखिलेश यादव का तंज, ...ताकि पकौड़ा तलने को नौकरी के बराबर मानें लोग

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा देश की सोच को अवैज्ञानिक बताना चाहती है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper