एचटी लाइन टूटने से महिला झुलसी

Unnao Updated Wed, 30 May 2012 12:00 PM IST
उन्नाव। रास्ते में टूटकर गिरी एचटी लाइन की चपेट में आकर महिला गंभीर रूप से झुलस गई। वहीं एक अन्य किसान के दो बैलों की मौत हो गई। जेई को सूचना देने के बाद भी बिजली तीन घंटे बाद बंद हुई। जर्जर हो चुकी बिजली लाइन की मरम्मत की मांग करते आ रहे ग्रामीणों में विभाग की लापरवाही को लेकर जबर्दस्त आक्रोश है।
बीघापुर थाना क्षेत्र के अर्धजपुर गांव निवासी पुत्तन नाई की पत्नी बिट्टो (30) मंगलवार सुबह करीब चार बजे शौच के लिए खेतों की तरफ जा रही थी। गांव के बाहर बीघापुर विद्युत उपकेंद्र से बारासगवर फीडर को जाने वाली ग्यारह हजार वोल्टेज लाइन का टूटा पड़ा तार नहीं देख पाई और पैर तार पर पड़ते ही वह झुलस गई। आस-पास खेतों में काम कर रहे कुछ लोगों ने उसे लाठी-डंडों की मदद से बचाया। तभी बैलगाड़ी लेकर गुजर रहे गांव के ही किसान कल्लू पुत्र लालू के दो बैल तार की चपेट में आकर मर गए। अर्धजपुर गांव निवासी महेश, रामबहादुर, केशव ने बताया कि घटना के तुरंत बाद करीब पांच बजे बिजली विभाग के क्षेत्रीय जेई राकेश मौर्या को सूचना दी गई। इसके बाद भी तीन घंटे बाद आपूर्ति बंद की गई। घटना को लेकर ग्रामीणों में जबर्दस्त आक्रोश है। एसडीओ अरविंद वर्मा ने बताया कि किसी चिड़िया के बैठने से लाइन में शार्ट शर्किट हुआ। इसके चलते तार टूट गया। उन्होंने बताया कि मरम्मत कराई जा रही है।


ग्यारह घंटे बाद भी नहीं जोड़ा गया तार
उन्नाव। ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए बिजली विभाग के कर्मचारी टूटे तार की मरम्मत करने की हिम्मत नहीं जुटा पाए। फलस्वरूप सुबह टूटा तार शाम छह बजे तक नहीं जुड़ पाया। तार न जुड़ पाने से पूरे बारासगवर कसबा और आसपास के अन्य गांवों की बिजली आपूर्ति ठप रही। एसडीओ अरविंद वर्मा ने फोन पर बताया कि ग्रामीणों में आक्रोश को देखते हुए बिजली कर्मी मौके पर पहुंचने का साहस नहीं जुटा पा रहे हैं। देर शाम तक मरम्मत कराई जाएगी। इसके लिए पुुलिस से भी मदद मंागी है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

थर्ड डिग्री से डरे युवक ने पुलिस कस्टडी में पिया तेजाब

एक लूट के मामले का जब उन्नाव पुलिस खुलासा नहीं कर पाई तो उसने एक शर्मनाक कृत्य को अंजाम दिया।

23 जनवरी 2018