पेशी पर आए बंदी ने खुद को किया लहूलुहान

Unnao Updated Wed, 09 May 2012 12:00 PM IST
उन्नाव। पेशी पर आए बंदी ने कोर्ट के बाहर ब्लेड से अपने को घायल कर लिया। सिपाही जब तक ब्लेड छुड़ाते तब तक उसने गले और मुंह पर कई वार कर लिए। पुलिस लाइन में तैनात दरोगा घनश्याम पाठक ने उसे जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां उपचार के बाद उसे जेल भेज दिया गया।
शुक्लागंज के मोहल्ला मनोहर नगर निवासी मुन्नू पुत्र जमाल एक साल से जिला कारागार में एनडीएपस में बंद है। मंगलवार को उसकी एडीजे थ्री में पेशी थी। पेशी के बाद वह बाहर आया। उसके साथ दो सिपाही भी थे। बाहर पड़े ब्लेड देख उसने सिपाहियों को धक्का दिया। बेल्ड के टुकड़े को उठाकर उसने अपने ऊपर वार कर लिया। सिपाहियों ने इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दी। सूचना पर पुलिस लाइन में तैनात दरोगा घनश्याम पाठक कैदी को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। जहंा मन्नू का प्राथमिक उपचार कराने के बाद उसको फिर लाकर जेल में बंद कर दिया। मन्नू ने बताया पुलिस वाले परिजनों से उसको मिलने नहीं देते थे। साथ ही प्रताड़ित भी करते थे। जिससे उसने यह कदमा उठाया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

थर्ड डिग्री से डरे युवक ने पुलिस कस्टडी में पिया तेजाब

एक लूट के मामले का जब उन्नाव पुलिस खुलासा नहीं कर पाई तो उसने एक शर्मनाक कृत्य को अंजाम दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls