ऑटो चालक हड़ताल पर लोग बेहाल

Sitapur Updated Fri, 24 Jan 2014 05:46 AM IST
सीतापुर। लालबाग-रोडवेज मार्ग पर एंट्री की मांग को लेकर गुरुवार को दूसरे दिन भी ऑटो चालकों ने हड़ताल जारी रखी। इससे मुसाफिरों को काफी दिक्कतें उठानी पड़ीं। वहीं कई ऑटो चालक हड़ताल से दूर रहे।
शहर की यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए ट्रैफिक महकमे ने शहर में मुख्य सड़क पर दौड़ने वाले ऑटो का प्रवेश वर्जित कर दिया है। वहीं मुख्य मार्ग पर एंट्री न मिलने से ऑटो चालकों में काफी नाराजगी है। ऑटो चालक यूनियन ने बुधवार से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाने का ऐलान किया था। मगर ऑटो चालकों के एक धड़े ने ऑटो संचालन शुरू कर दिया था। गुरुवार को भी कुछ ऑटो चालक हड़ताल में शामिल हुए। ऑटो जगह-जगह पर सड़कों के किनारे खड़े रहे। जबकि कुछ ने हड़ताल को दरकिनार कर अपने ऑटो सड़कों पर खूब दौड़ाए। हड़ताल के कारण सड़कों पर कम ही ऑटो दौड़े। इससे यात्रियों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। उधर, आंशिक हड़ताल में शामिल ऑटो चालकों ने आरआरडी कॉलेज के मैदान पर एकत्रित होकर प्रदर्शन किया। साथ ही प्रतिबंधित मार्ग पर ऑटो को प्रवेश दिए जाने की मांग की गई। प्रदर्शन में शारिक मुस्तफा, मनोज, विमल, बजरंगी, सर्वेश, संतोष, ओम प्रकाश, माहिर हुसैन, शादाब, गुरफान खान, फिरोज खां, अतहर अली, कमलेश, विजय सिंह, मासूम अली, दिनेश कुमार आदि शामिल रहे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO : बच्चियों को ट्रेन से फेंकनेवाले दरिंदे पिता ने बताई पूरी वारदात

बीते साल अक्टूबर में चलती ट्रेन से अपनी बच्चियों के फेंकनेवाले हत्यारे पिता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस और मीडिया के सामने इद्दू अंसारी ने बताया कि उसने पूरी वारदात को शराब के नशे में अंजाम दिया।

17 जनवरी 2018