विज्ञापन
विज्ञापन

एजेंसियों ने ठप की जिले में धान खरीद

Sitapur Updated Wed, 12 Dec 2012 05:30 AM IST
ख़बर सुनें
सीतापुर। खरीद एजेंसियों ने जिले में मंगलवार से धान खरीद बंद कर दी है। यह फैसला भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के चावल न लेने से किया गया है। खरीद एजेंसियों की मानें तो एफसीआई अधिकारी रिजेक्ट चावल के नाम पर चावल की लाट वापस कर रहे हैं। अब तक जिले में महज 11 हजार 612 मीट्रिक धान खरीदा जा चुका है, जबकि एफसीआई कुछ कुंतल ही चावल ले सकी है। खरीद एजेंसियां किसानों को भुगतान नहीं कर पा रही हैं। उन पर लाखों रुपये का बकाया हो गया है। खरीद बंद होने से किसानों के सामने भी मुसीबतें खड़ी हो गईं हैं।
विज्ञापन
जिले में विपणन विभाग, पीसीएफ, एसएफसी, यूपीएसएस, यूपी एग्रो, उप्र राज्य कर्मचारी कल्याण निगम व एनसीसीएफ के 65 क्रय केंद्रों पर धान खरीद शुरू की गई थी। इन्हें शासन की ओर से 48 हजार 600 मीट्रिक टन धान खरीदने का लक्ष्य दिया गया था। अब तक ये खरीद एजेंसियां 11 हजार 612 मीट्रिक टन धान खरीद चुकी हैं, लेकिन एफसीआई द्वारा सीएमआर चावल न लिये जाने के कारण खरीद पर असर पड़ने लगा। इस पर यूपी फूड एवं सिविल सप्लाइज इंस्पेक्टर्स एसोसिएशन के आह्वान पर जिले में भी धान खरीद पर रोक लगा दी गई है। डिप्टी आरएमओ चंद्रभान यादव ने बताया कि एसोसिएशन के आह्वान पर सीतापुर में धान खरीद बंद कर दी गई है।
अधिकारियों के अनुसार एफसीआई द्वारा चावल रिजेक्ट किये जाने से राइस मिलर्स व किसान दोनों पर ही बुरा असर पड़ रहा है। विभाग व खरीद एजेंसियों के आगे भुगतान की समस्या भी आ गई है। विगत दिनों राइस मिलर्स ने भी सीएमआर धान लेने से मना कर दिया था। ऐसे में कई केंद्रों पर धान को खुले आसमान के नीचे लगाना पड़ रहा है। डिप्टी आरएमओ ने बताया क्रय केंद्रों को बंद करने की सूचना जिलाधिकारी व अपर जिलाधिकारी को भी दे दी गई है। खरीद बंद होने से शहर की नवीन गल्ला मंडी परिसर में सन्नाटा पसरा दिखा।


ये हैं मांगें
बकाया चावल का भुगतान 31 दिसंबर से पहले हो।
अब तक खरीदे गये सीएमआर धान की 80 प्रतिशत आपूर्ति हो।
एफसीआई में आपूर्ति न होने पर ‘स्टेट पूल’ व्यवस्था लागू हो।


निर्धारित लक्ष्य व उसके सापेक्ष हुई खरीद
एजेंसी लक्ष्य अब तक हुई खरीद क्रय केंद्रों की संख्या
हाट शाखा 11500 एमटी 4100.4 एमटी 13
पीसीएफ 8100 एमटी 2385.8 एमटी 22
एसएफसी 11000 एमटी 1300.2 एमटी 11
यूपीएसएस 3000 एमटी 1150.0 एमटी 04
यूपी एग्रो 853.5 एमटी 853.5 एमटी 03
उप्रराककनि 5000 एमटी 1069.7 एमटी 08
एनसीसीएफ 7000 एमटी 752 एमटी 04
---------------------

क्रय एजेंसियों पर बकाया 178.4 लाख
भारतीय खाद्य निगम के गोदामों पर चावल न उतरने के कारण सर्वाधिक समस्या किसानों को हो रही है। एफसीआई के चावल न लेने के कारण खरीद एजेंसियों के लाखों रुपये फंस चुके हैं। अब उनके पास किसानों को भुगतान करने के लिये भी पैसा नहीं बचा है। ऐसे में किसानों को भुगतान नहीं हो पा रहा है। किसान बैंकों के चक्कर काटने को मजबूर हैं। मौजूदा समय में जिले की विभिन्न एजेंसियों को किसानों को 178.4 लाख रुपये का भुगतान करना है, लेकिन इन एजेंसियों के पास धन नहीं है। इन एजेंसियों में पीसीएफ पर 101.7 लाख रुपये का बकाया है। वहीं यूपीएसएस पर 38.75 लाख, यूपी एग्रो पर 22.69 लाख व उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी कल्याण निगम पर 15.27 लाख रुपये का बकाया है। इन सभी एजेंसियों से करीब 750 किसान भुगतान की राह ताक रहे है। ऐसे में गरीब किसानों को अपने परिवार का भरण-पोषण करने व अगली फसल की बोआई करने के लिये वित्तीय संकट से जूझना पड़ रहा है। यदि जल्द ही भुगतान नहीं होता है, तो इसका प्रभाव अगली फसलों पर भी देखने को मिलेगा।

क्रय केंद्रों पर आने वाले किसान परेशान
धान खरीद व चावल के भंडारण में आ रही दिक्कतों के कारण किसानों को चौतरफा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। क्रय केंद्रों पर कई दिनों के इंतजार के बाद भी धान की खरीद नहीं हो पा रही है। अब खरीद एजेंसियों द्वारा हड़ताल किये जाने के बाद से किसानों को अपनी फसल के बदले अच्छी कीमत पाने के लिये और भी इंतजार करना होगा। क्रय केंद्रों के बंद होने के कारण शहर की नवीन गल्ला मंडी परिसर में सन्नाटा पसर गया है। किसानों को अपनी फसले औने-पौने दामों पर बेचने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। मंडी परिसर में धान 800 से 900 रुपये प्रति कुंतल की दर से बिक रहा है। कई किसान खरीद केंद्रों पर अपना धान लेकर कई दिनों से पड़े हुए हैं, लेकिन धान की तौल नहीं हो पाई है।
विज्ञापन

Recommended

बनाएं डिजिटल मीडिया में करियर, कोर्स के बाद प्लेसमेंट का भी मौका
TAMS

बनाएं डिजिटल मीडिया में करियर, कोर्स के बाद प्लेसमेंट का भी मौका

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019
Astrology Services

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Sitapur

सवारियों से भरा टैंपो पलटा, चार जख्मी

सवारियों से भरा टैंपो पलटा, चार जख्मी

19 अगस्त 2019

विज्ञापन

इमरान के बॉस कमर जावेद बाजवा का कार्यकाल तीन साल बढ़ा

भारत के कड़े रुख से पाकिस्तान घबरा गया है। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा का कार्यकाल बढ़ा दिया है।

19 अगस्त 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree