विज्ञापन
विज्ञापन

प्रेमी के लिए तोड़ी दी शादी, वह भी निकला शादीशुदा

ब्यूरो/अमर उजाला सिद्धार्थनगर Updated Sat, 25 May 2019 10:59 PM IST
पुलिस की गिरफ्त में शिक्षक आरोपी।
पुलिस की गिरफ्त में शिक्षक आरोपी। - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
सिद्धार्थनगर। शिक्षिका अंजली यादव की मौत की गुत्थी पुलिस ने सुलझा दी है। पुलिस का दावा है कि शिक्षिका ने आत्महत्या की थी। आत्महत्या के पीछे जिस शिक्षक से उसका संबंध था और शादी करने का वादा किया था, वह खुद शादीशुदा था। यह जानकारी होने के बाद अंजली ने खुदकुशी कर ली। खुदकुशी के लिए उकसाने के मामले में आरोपी शिक्षक को गिरफ्तार कर उसेजेल भेज दिया गया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
पुलिस लाइंस में शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस में एएसपी मायाराम वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि जालौन जिले की निवासी 25 वर्षीय अंजली यादव शिक्षिका थी। वह जिले में मोहाना कस्बे में एक किराए के मकान में रहती थी और बगल के ही गौहनिया प्राथमिक विद्यालय में कार्यरत थी। 21 मई को कमरे में अपने आपको रस्सी से बांध कर जला लिया था। धुआं उठता देख लोगों ने कमरे का ताला तोड़कर बचाने की कोशिश की, लेकिन तबतक उसकी मौत हो चुकी थी। शव को पोस्टमार्टम करवाया गया था। साथ ही घटना का पर्दाफाश करने के लिए स्वाट, सर्विलांस व मोहाना पुलिस की संयुक्त टीम को लगाया गया था।
जांच में पाया गया कि देवरिया जिले के सदर थाना कोतवाली क्षेत्र के चकरवाधुस पनरसही निवासी राजेश यादव जो क्षेत्र के रिसातलपुर पूर्व माध्यमिक विद्यालय में शिक्षक के रूप में कार्यरत है। वह शिक्षिका अंजली को बिना शादीशुदा बताते हुए शादी करने की इच्छा व्यक्त की थी। इस बीच मृतका अंजली के परिजनों ने उसकी किसी अन्य से शादी तय कर दी थी। मगर अंजली ने परिजनों से शादी करने से इनकार कर दिया था। इसी बीच शिक्षक राजेश ने भी खुद को शादीशुदा बता दिया। उधर, शादी टूटी और इधर राजेश द्वारा यह जानकारी देने के बाद क्षुब्ध हो गई और आहत होकर अंजली ने आत्महत्या कर ली। पूरी जांच में शिक्षक से बात होने की पुष्टि हुई है। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए टीम लगी थी।
शनिवार सुबह आरोपी शिक्षक को बर्डपुर कस्बे से गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है। गिरफ्तार करने वाली टीम में स्वाट प्रभारी ब्रह्मा गौंड, थानाध्यक्ष मोहाना अंजनी कुमार राय, एसआई अजय शंकर यादव, रामभवन पासवान, सिपाही दिनेश, दिलीप द्विवेदी, दीपक गोविंद राव, अश्वनी राय, गट्टू पांडेय, अवनीश सिंह आदि शामिल रहे।

सर्विलांस टीम के जरिए मिली सफलता
इस अनसुलझी मौत की गुत्थी को सुलझाने में सर्विलांस टीम का अहम योगदान रहा। हत्या और आत्महत्या में उलझ चुकी पुलिस को रोशनी की किरण सर्विलांस के जरिए फोन नंबर पर हुई वार्ता से मिली। सर्विलांस टीम के आरक्षी दिलीप द्विवेदी के प्रयास से अलसुलझी मौत की गुत्थी सुलझ गई। नहीं तो पुलिस कितनों को संदेह के घेरे में लेकर पूछताछ करती और खुलासा भी कर देती।

Recommended

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए
Lovely Professional University

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए

क्या आपकी नौकरी की तलाश ख़त्म नहीं हो रही? प्रसिद्ध करियर विशेषज्ञ से पाएं समाधान।
Astrology

क्या आपकी नौकरी की तलाश ख़त्म नहीं हो रही? प्रसिद्ध करियर विशेषज्ञ से पाएं समाधान।

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Siddharthnagar

नल में उतरा करंट, आशा वर्कर की मौत

कोतवाली क्षेत्र के धानी मार्ग पर स्थित गोनहा ताल चौराहा सोमवार सुबह करंट की चपेट में आने से एक आशा वर्कर की मौत हो गई। हादसा नल में करंट उतरने से पानी भरते समय हुआ।

24 जून 2019

विज्ञापन

सफर पर निकली यात्री बस अचानक गिरी गहरी खाई में, 6 की मौत, कई घायल

झारखंड में एक बस के खाई में गिरने से 6 लोगों की मौत हो गई और लगभग 39 लोग घायल हो गए। घायलों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है जिनमें से कई की हालत गंभीर बताई जा रही है।

25 जून 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
सबसे तेज अनुभव के लिए
अमर उजाला लाइट ऐप चुनें
Add to Home Screen
Election