बाढ़ ने उजाड़ा, अब ठंड कंपा रही

Siddhartha nagar Updated Tue, 25 Dec 2012 05:30 AM IST
जोगिया। बाढ़ के दौरान अपना घर गंवा चुके लोगों को अब तक ठिकाना नहीं मिला है। इससे वे ठंड में भी दूसरे स्थानों पर गुजर-बसर करने को मजबूर हैं। मामला है जोगिया विकास खंड के दर्जनों गांवों के बाढ़ पीड़ितों का। ये लोग बरसात के समय से ही अपने घरों को छोड़कर बांध पर रहने के लिए मजबूर हैं।
तहसील क्षेत्र नौगढ़ की राप्ती और बूढ़ी राप्ती नदियों के बीच स्थित गांव संगलदीप, रीवानानकार, खजुरडाड़, पनियहवा और तहसील क्षेत्र बांसी के गांव भगौतापुर, डड़िया, अशोगवा, सतवाढ़ी, भुतहिया समेत अन्य गांवों कई लोग बाढ़ से प्रभावित रहते हैं। इन गांवों के लोगों को बरसात के समय अपना घर छोड़ बांध पर गुजर बसर करना पड़ता है। बाढ़ से प्रभावित रहे संगलदीप निवासी सतीश सहानी, राधेकृष्ण, भगवान दास, रीवां के रामलगन, रामकुमार पांडेय आदि का कहना है कि अब तक हम लोगों को बाढ़ की विभीषिका से निजात नहीं मिल सकी। जबकि बरसात के दिनों में चंवर ताल में फजिहतवा नाले का पानी भर जाता है, जिससे आस-पास की कई एकड़ फसल जलमग्न होने से नष्ट हो जाती है। क्षेत्र के अधिवक्ता राजेंद्रनाथ श्रीवास्तव का कहना है कि प्रशासन के उपेक्षात्मक रवैया के कारण अब तक लोगों को बाढ़ की समस्या से निजात नहीं मिल सकी है। जबकि इस मद में सरकार के करोड़ों रुपये खप चुके हैं।
इस बाबत एडीएम डॉक्टर राम मनोहर मिश्र कहा कहना है कि पुनर्वास संबंधी कार्रवाई के बाबत संबंधित तहसील स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित किया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: नए साल पर सीएम योगी ने इन्हें दिया 66 करोड़ का तोहफा!

सिद्धार्थनगर के 29वें स्थापना दिवस के मौके पर चल रहे सात दिवसीय कपिलवस्तु महोत्सव का रविवार को समापन किया गया। समापन कार्यक्रम में खुद सीएम योगी आदित्यनाथ पहुंचे। इस दौरान उन्होंने 66 करोड़ रुपये की आठ परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।

1 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls