स्कूलों के भवन अधूरे, प्रशासन सख्त

Siddhartha nagar Updated Thu, 29 Nov 2012 12:00 PM IST
डुमरियागंज। स्थानीय विकास खंड में शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सरकार वर्ष 2011-12 में 40 नए विद्यालय खोलने की योजना बनाई थी। जून 2012 में इन स्कूलों के भवनों को पूर्णरूप से बनवाकर हैंडओवर करने का निर्देश दिया गया था। तय समय सीमा के बीत जाने के बाद भी अधिकांश स्कूलों के भवन अधूरे हैं। बीएसए ने इसे गंभीर प्रकरण बता डीएम को अवगत कराया है। जिला प्रशासन की ओर से जिले के सभी बीडीओ को पत्र भेजकर आरईएस विभाग के जेई से भवनों की जांच कर रिपोर्ट मांगी गई है।
जिले में वर्ष 2011-12 में प्रस्तावित 294 स्कूलों के भवनों का निर्माण जून 2012 में पूरा करना था। डुमरियागंज ब्लाक में 40 स्कूल बनने थे। मगर छह माह बीत जाने के बाद भी अधिकंाश स्कूल अपूर्ण हैं। स्कूलों को बनाने के जिम्मेदार भवन प्रभारियों की लापरवाही अमर उजाला में प्रमुखता से प्रकाशित हुई थी। इसे गंभीरता से लेते हुए बीएसए भूपेंद्र नरायण सिंह ने सभी खंड शिक्षा अधिकारियों से भवनों के निर्माण की रिपोर्ट मांगी थी। जांच के दौरान एकाध छोड़ अधिकांश स्कूलों के भवन अधूरे मिले थे। कहीं पर भवन का प्लास्टर नहीं है तो कहीं पर किचनशेड ही नहीं बना है। शौचालय तो यदाकदा स्कूलों पर ही बनाए गए हैं। जबकि भवन निर्माण के लिए प्रत्येक स्कूल को करीब 5 लाख 71 हजार रुपये अवमुक्त भी किए जा चुके हैं। इसमें एक बरामदा और कार्यालय, दो कमरा, किचनशेड, शौचालय के साथ ही विद्युतीकरण कार्य को पूरा कराना था। मामले को बीएसए ने डीएम ह्षिकेश यशोद भास्कर से भी अवगत करा दिया है। वहीं खंड शिक्षा अधिकारियों की ओर से दिए गए भवनों के निर्माण की रिपोर्ट पर बीएसए खुद भी स्थलीय जांच शुरू कर दिए हैं। बीएसए ने बताया कि जांच के दौरान कई भवन प्रभारियों का वेतन रोका गया है। आगे भी जांच जारी रहेगी। आईएस की रिपोर्ट आने के बाद अधूरे भवनों के प्रभारियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

इन जगहों पर बन रहे विद्यालय
डुमरियागंज। स्थानीय विकास खंड में 40 नए विद्यालय बनने हैं, जिसमें प्राइमरी विद्यालय मरवटिया, बभनी माफी, गद्दीडीह, किफायतडीह, जोगिया, बड़हरा, भड़भड़वापुर, गोट्टुवा, बढ़नी गांव, बांसापार, भगवानपुर, राजाफार्म, परानपुर, चकचई, कुट्टिया, सांवपुरा, पथरपुरवा, चकफतवा, मिश्रौलिया, केसवार, लालाजोत, बंजारडीह दो, भालूकोनी पूर्वी डीह, मरसतवा दो, बरघाट, सोनबरसा दो, बगुलहवा, मुर्गीहवां, सोनखरडीह, कोरईभारी, मदारा, वासा पश्चिम डीह, वासा दक्षिणडीह, औराताल, धौरहरा पूर्वी डीह, कठौतिया आलम, पड़िया, डोकरा, कुसहटा आदि गांव में प्राइमरी स्कूल बनने थे। अधिकांश भवन का कार्य 50 प्रतिशत भी नहीं हुआ है।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: नए साल पर सीएम योगी ने इन्हें दिया 66 करोड़ का तोहफा!

सिद्धार्थनगर के 29वें स्थापना दिवस के मौके पर चल रहे सात दिवसीय कपिलवस्तु महोत्सव का रविवार को समापन किया गया। समापन कार्यक्रम में खुद सीएम योगी आदित्यनाथ पहुंचे। इस दौरान उन्होंने 66 करोड़ रुपये की आठ परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।

1 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper