हक के लिए शिक्षामित्रों ने बुलंद की आवाज

Siddhartha nagar Updated Sun, 04 Nov 2012 12:00 PM IST
सिद्धार्थनगर। आदर्श शिक्षामित्र वेलफेयर एसोसिएशन की अगुवाई में जिले भर के शिक्षामित्रों ने शनिवार को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के सामने धरना-प्रदर्शन करने के बाद मुख्यमंत्री को संबोधित 17 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन डीएम को दिया। शिक्षामित्रों ने अपनी समस्याओं का निस्तारण कराने के लिए आवाज बुलंद की। सांसद जगदंबिका पाल ने भी शिक्षामित्रों के धरने में पहुंचकर उनकी मांगों का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि संसद सत्र चलने पर शिक्षामित्रों की मांगों का वह सदन में उठाएंगे। बेसिक शिक्षा अधिकारी भूपेंद्र नारायण सिंह भी धरनास्थल पर पहुंचे और शिक्षामित्रों की समस्याओं के निराकरण का आश्वासन दिया।
शनिवार को सुबह से ही शिक्षामित्र बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में जुटने लगे। दोपहर एक बजे तक शिक्षामित्रों की संख्या सैकड़ों तक हो गई। धरने को संबोधित करते हुए प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष राधेरमण त्रिपाठी ने कहा कि कोई भी संगठन तभी मजबूत हो सकता है, जब उससे जुड़े लोग एकजुट होकर अपनी समस्याओं के लिए संघर्ष करते हैं। शिक्षामित्र जिस एकजुटता के साथ आज यहां उपस्थित हुए हैं, इससे यह तय है कि इनकी मांगों को शासन और प्रशासन गंभीरता से लेते हुए पूरा करेगा। महामंत्री कृपाशंकर राम ने कहा कि मुख्यमंत्री के नाम से भेजे गए ज्ञापन में बीटीसी प्रशिक्षण के द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षा कराए जाने, वर्ष 2012-13 के लिए चयनित शिक्षामित्रों का प्रशिक्षण शुरू कराने, महंगाई को देखते हुए अप्रशिक्षित वेतनमान दिए जान तथा शिक्षामित्रों के मानदेय का भुगतान सीधे उनके खाते में किए जाने की मांग शामिल है। उन्होंने कहा कि सभी मांगे जायज होने के साथ साथ शिक्षामित्रों के हित के लिए जरूरी हैं। प्रदेश सरकार को इन चारों समस्याओं का निराकरण तत्काल करना चाहिए। धरने की अध्यक्षता कर रहे शिक्षामित्र वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष हेमंत कुमार शुक्ल ने कहा कि जनपद में शिक्षामित्रों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। शिक्षामित्र पूरी निष्ठा और लगन के साथ अपने कार्यों में जुटे रहते हैं। बावजूद उन्हें वेतन एकल खाते से नहीं मिलता। ग्राम प्रधान फर्जी तरीके शिक्षामित्रों को परेशान कर रहे हैं, जिसका नतीजा है कि जिले के कई शिक्षा मित्र दो वर्ष से मानदेय नहीं पा रहे हैं। धरने को योगेंद्र पांडेय, सुरेंद्र तिवारी, करुणेश मौर्य, रूपेश सिंह, विजय प्रकाश नेगी, गया प्रसाद तिवारी, वीरेंद्र तिवारी अजय श्रीवास्तव सहित अन्य लोगों ने भी संबोधित किया। धरने में जयकिशोर, आभा मिश्रा, पूनम श्रीवास्तव, उषा मिश्रा, श्यामलली सिंह, साधना श्रीवास्तव, वंदना त्रिपाठी, रेहाना खातून, परवीन जहां, धनंजय मिश्रा, दिनेश दूबे सहित भारी संख्या में शिक्षामित्र मौजूद रहे। धरने में दो बजे के बाद सांसद जगदंबिका पाल भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि शिक्षामित्रों की जो भी स्थानीय स्तर की समस्या है, उसे यहां का प्रशासन शीघ्र सुलझा ले।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

RLA चंडीगढ़ में फिर गलने लगी दलालों की दाल, ऐसे फांस रहे शिकार

रजिस्टरिंग एंड लाइसेंसिंग अथॉरिटी (आरएलए) सेक्टर-17 में एक बार फिर दलाल सक्रिय हो गए हैं, जो तरह-तरह के तरीकों से शिकार को फांस रहे हैं।

21 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: नए साल पर सीएम योगी ने इन्हें दिया 66 करोड़ का तोहफा!

सिद्धार्थनगर के 29वें स्थापना दिवस के मौके पर चल रहे सात दिवसीय कपिलवस्तु महोत्सव का रविवार को समापन किया गया। समापन कार्यक्रम में खुद सीएम योगी आदित्यनाथ पहुंचे। इस दौरान उन्होंने 66 करोड़ रुपये की आठ परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।

1 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper