पेट्रो मूल्य वृद्धि पर दूसरे दिन भी विरोध प्रदर्शन

Siddhartha nagar Updated Sun, 16 Sep 2012 12:00 PM IST
बांसी। डीजल एवं रसोई गैस के मूल्य वृद्धि को लेकर भाकियू कार्यकर्ताओं ने शनिवार को तहसील कार्यालय बांसी के गेट पर केंद्र सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी करते हुए प्रधानमंत्री का पुतला फूंका। इसके बाद किसानों व ग्रामीणों की समस्याओं के निदान को लेकर कार्यकर्ताओं ने तहसील अध्यक्ष यार मोहम्मद चौधरी की अध्यक्षता में तहसील परिसर में पंचायत लगाई।
भारतीय किसान यूनियन के तहसील क्षेत्र बांसी के कार्यकर्ताओं की पंचायत में कहा गया कि केंद्र सरकार को किसानों व गरीबों की कोई चिंता नहीं है। डीजल व रसोई गैस की मंहगाई से गरीब व मध्यमवर्गीय लोगों के सामने काफी कठिनाई खड़ी हो गई है। पंचायत के दौरान बढ़े हुए मूल्य को तत्काल वापस लेने की मांग की गई। पंचायत को तहसील उपाध्यक्ष घनश्याम चौरसिया, ब्लाक अध्यक्ष उपेन्द्र यादव, अब्दुल हई, बीपत पासवान, शंभू प्रसाद तिवारी, अनीस खां, लौटू, रामानंद राय ने भी संबोधित किया। पंचायत के बाद राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन तहसीलदार बांसी ओमप्रकाश को सौंपा गया। इस अवसर पर रामानंद गुप्ता, रामलगन यादव, कैलाशी, चिनका, जानकी, तारामती, प्रभावती समेत तमाम लोग मौजूद रहे।
उधर, इटवा में किसान यूनियन की किसान पंचायत शनिवार को हुई। इसमें केंद्र सरकार के खिलाफ नेताओं ने जमकर भड़ास निकाली। इस दौरान डीजल और रसोई गैस मूल्य वृद्धि के विरोध में पीएम का प्रतीकात्मक पुतला फूंका गया। इसके साथ ही एसडीएम को 13 सूत्रीय मांग पत्र भी सौंपा गया। किसान पंचायत में तहसील अध्यक्ष राकेश कुमार ने कहा कि केंद्र की कांग्रेस सरकार दगाबाज है। डीजल में मूल्य बढ़ोत्तरी करना किसानों के हित में नहीं है। इस समय खरीफ की फसल के लिए पानी की आवश्यकता है, लेकिन भरपूर बरसात न होने के कारण किसान निजी पंपिंगसेटो के सहारे सिंचाई व्यवस्था संभाले हुए थे। केंद्र सरकार ने डीजल के मूल्य बढ़ाकर किसानों की कमर तोड़ने का काम किया है।
उन्होंने कहा किसान परेशान है लेकिन इससे किसी को कोई मतलब नहीं है। किसान पंचायत के बाद लोगों ने एसडीएम को 13 सूत्रीय मांग सौंपा, जिसमें कहा गया है कि अगर डीजल के बढ़े मूल्य को वापस नहीं लिया गया तो किसान यूनियन बड़े आंदोलन के लिए बाध्य होगी।
पंचायत के बाद किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने मुख्य चौराहे पर पहुंचकर केंद्र सरकार के खिलाफ जबरदस्त नारेबाजी करते पुतला फूंका। इस दौरान सोमनाथ जायसवाल, पारसनाथ,करीमुल्लाह, अब्दुल रहीम, सीताराम, विनय प्रताप, शकूर मोहम्मद, दिनेश कुमार, हाजी जमील सहित अन्य लोग मौजूद थे।


सपाइयों ने केंद्र को जमकर कोसा
डुमरियागंज। शुक्रवार को केंद्र सरकार द्वारा डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी और रसोई गैस पर से सब्सिडी हटाये जाने के विरोध में सपा कार्यालय पर एक बैठक आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता जिला सचिव अजय यादव ने किया।
इस मौके पर यादव ने कहा कि केंद्र सरकार का यह फैसला जनता के हित नहीं बल्कि उसके अहित का फैसला है। केंद्र सरकार बड़े पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए गरीबों की जेबों पर डाका डालने का फरमान जारी की है। केंद्र की कंाग्रेस सरकार किसानों, बेरोजगारों और व्यापारियों की विरोधी है।
बैठक में सगीर अहमद बब्बर, अफसर रिजवी, अयोध्या प्रसाद चौधरी, ओमप्रकाश श्रीवास्तव, अजय दूबे, त्रिभुवन यादव, दयाराज, शाहजहां,इम्तियाज अहमद आदि लोग मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

National

2019 में कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव नहीं लड़ेगी CPM

महासचिव सीताराम येचुरी की ओर से पेश मसौदे में भाजपा के खिलाफ लड़ाई में कांग्रेस समेत तमाम धर्मनिरपेक्ष दलों को साथ लेकर एक वाम लोकतांत्रिक मोर्चा बनाने की बात कही गई थी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: नए साल पर सीएम योगी ने इन्हें दिया 66 करोड़ का तोहफा!

सिद्धार्थनगर के 29वें स्थापना दिवस के मौके पर चल रहे सात दिवसीय कपिलवस्तु महोत्सव का रविवार को समापन किया गया। समापन कार्यक्रम में खुद सीएम योगी आदित्यनाथ पहुंचे। इस दौरान उन्होंने 66 करोड़ रुपये की आठ परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।

1 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper