ढोंगी पकड़ा गया

Siddhartha nagar Updated Fri, 13 Jul 2012 12:00 PM IST
डुमरियागंज/बेंवा। भवानीगंज थाना क्षेत्र के गरदहिया गांव में खुद को मौलवी बताकर रिश्ता तय करने के बहाने एक घर में रुके ढोंगी ने वहां के सभी लोगों को नशीली दवा खिलाकर बेहोश कर दिया। उसके बाद उसने घर में रखे सामान को समेटने के बाद भागने लगा। एक लड़की दवा नहीं खाई थी। उसने मौलाना को भागते देखा। उसने फोन करके अपने एक रिश्तेदार को यह सब बताया। उसके बाद पाखंडी को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया गया। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।
भवानीगंज थानाक्षेत्र के मुस्लिम बाहुल्य गांव गरदहिया में बुधवार की देर शाम एक व्यक्ति खुद को मौलाना बताकर लड़के के लिए बहू की तलाश की बात कही। उसने गांव वालों को बताया कि वह पड़ोसी मुल्क नेपाल के बहादुरगंज का रहने वाला है। मौलाना की बात सुनकर वहां मौजूद गांव के ही 60 वर्षीय मुस्ताक अहमद ने उसे अपने घर बुलाया। घर आकर मौलाना ने अपना नाम मोहम्मद इस्लाम बताते हुए कहा कि उसके लड़के के खाते में 20 लाख रुपये केसाथ ही एक जेसीबी मशीन भी है। कहा कि उसी के रिश्ते की तलाश में यहां आया हूं। अच्छे परिवार की जानकारी मिलते ही मुस्ताक भी उसकी खातिरदारी में जुट गया। नमाज पढ़ने के बाद उसने जमकर दावत उड़ायी। दावत खाने के बाद मौलाना परिवार के सभी सदस्यों को अपने पास बुलाकर दीनी तकरीर करने लगा। उसने बताया कि वह एक पहुंचा हुआ मौलाना है। उसकी बातों के झांसे में मुस्ताक का पूरा परिवार आ गया। कुछ देर बाद उसने मुस्ताक से पानी मंगवाया, जिसमें दुआ करने की बात कह वह घर के सभी सदस्यों को पीने को कहा। घर में मौजूद 12 साल की लड़की शबीना को छोड़ सभी लोग पानी पिए। लोगों के मुताबिक आधी रात होते ही पानी पीने वाले सभी लोग बेहोश हो गए। इधर ढोंगी घर में रखे सभी कीमती सामान लेकर भोर में वहां से भागने लगा। शबीना ने जैसे ही देखा कि वह पाखंडी घर के बाहर निकल गया, उसने पास के ही टडंवा में रहने वाले अपने रिश्तेदार महताब आलम को फोन पर सारी बात बताई। उसके बाद महताब भी गरदहिया गांव की तरफ भोर में ही चल दिया। अभी महताब जैसे ही अपने गांव के बाहर सड़क पर पहुंचे थे कि सामने से एक मौलाना जैसा व्यक्ति आता हुआ दिखाई दिया। उसे रोककर उन्होंने उसके पास के सामान को चेक किया। उसके पास घरेलू सामान देख उसे समझते देर नहीं लगी कि वही पाखंडी है। वह उसको पकड़कर गरदहिया लाया। फिर उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया। पुलिसिया पूछताछ में उसने बताया कि वह त्रिलोकपुर थानाक्षेत्र का रहने वाला है। उसने यह भी बताया कि उसने पानी में एलप्राक्स की गोलियां मिलाई थी। वहीं दूसरी ओर घर में नशीली दवा के असर से सबकी हालत बिगड़ चुकी थी। उन्हें उपचार के लिए बेंवा सीएचसी पर भर्ती करवाया गया। अस्पताल में सबसे ज्यादा खराब हालत मुस्ताक की बताई जा रही है। वहीं उसके 70 वर्षीय भाई जब्बार, खतबुन्निशा पत्नी जब्बार, फरीदा खातून पत्नी महफूज अहमद का इलाज कर घर भेज दिया गया। इस संबंध में प्रभारी एसओ जनार्दन यादव ने बताया कि सूचना पर मौके पर हम लोग गए थे। अब तक कोई तहरीर नहीं दी गई है। वैसे अपने स्तर से जांच-पड़ताल करवाई जा रही है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

ओपी सिंह कल संभालेंगे यूपी के डीजीपी का पदभार, केंद्र ने किया रिलीव

सीआईएसएफ के डीजी ओपी सिंह को रिलीव करने की आधिकारिक घोषणा रविवार को हो गई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: नए साल पर सीएम योगी ने इन्हें दिया 66 करोड़ का तोहफा!

सिद्धार्थनगर के 29वें स्थापना दिवस के मौके पर चल रहे सात दिवसीय कपिलवस्तु महोत्सव का रविवार को समापन किया गया। समापन कार्यक्रम में खुद सीएम योगी आदित्यनाथ पहुंचे। इस दौरान उन्होंने 66 करोड़ रुपये की आठ परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।

1 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper