भाजपा को मात्र दो जीत से करना पड़ा संतोष

Siddhartha nagar Updated Mon, 09 Jul 2012 12:00 PM IST
सिद्धार्थनगर। प्रदेश की विधानसभाओं में प्रत्याशियों के चयन में लेटलतीफी करने वाली भारतीय जनता पार्टी ने निकाय चुनाव में भी पुराने ढर्रे पर ही प्रत्याशियों का चयन किया, जिसका नतीजा सामने है। भाजपा से जिले की दोनों नगर पालिकाओं से कब्जा छीन गया और उसे मात्र दो नगर पंचायतों की जीत से ही संतोष करना पड़ा।
विधानसभा चुनाव में हार का सामने करने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश के सभी जिलों की कार्यकारिणी भंग दी, जो आज भी भंग हैं। निकाय चुनाव इस बार संयोजकों के नेतृत्व में लड़ा गया लेकिन यहां भी भाजपा ने अपनी पुरानी गलती ही दोहराई। नामांकन के अंतिम दिन तक प्रत्याशियों के नाम तय किए गए। इसके कारण दावेदारों को प्रचार प्रसार का बेहतर अवसर नहीं मिला। जिले की दो नगर पालिकाओं और चार नगर पंचायतों में भाजपा ने अंतिम दौर में अपने प्रत्याशियों के नाम घोषित किए। दोनों नगर पालिकाओं से उसका कब्जा छीन गया। पिछले चुनाव में नगर पालिका सिद्धार्थनगर और बांसी की सीट भाजपा ने फतह की थी। बांसी में भाजपा प्रत्याशी वंदना श्रीवास्तव भले ही विजयी प्रत्याशी चमन आरा की निकटतम प्रतिद्वंद्वी रही हों लेकिन उन्हें 4965 मतों के बड़े अंतर से हार का सामना करना पड़ा। इसी प्रकार सिद्धार्थनगर नगर पालिका में भाजपा प्रत्याशी संजय सिंह पांचवें पायदान पर रहे। उन्हें महज 1517 मतों से ही संतोष करना पड़ा। नगर पंचायत बढ़नी में कमल खिलने की आस इस बार भी धरी की धरी रह गई। पिछले चुनाव में 100 मतों कम के अंतर से हारने वाली भाजपा की साधना श्रीवास्तव इस बार फिसलकर सातवें पायदान पर पहुंच गईं। उन्हें महज 368 मत प्राप्त हुए। नवसृजित नगर पंचायत उसका बाजार की सीट भी भाजपा की झोली में आते आते रह गई। भासपा उम्मीदवार ने यहां भाजपा उम्मीदवार को लगभग 200 मतों से हार का सामना करना पड़ा। अगर यहां बागियोें पर अंकुश लगा होता तो यह सीट भाजपा की झोली में आ सकती थी। डुमरियागंज में भाजपा को फतह हासिल हुई इसके पीछे मजबूत नेतृत्व का अहम योगदान रहा। यहां के नगर पंचायत चुनाव के प्रभारी भाजपा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष नरेंद्र मणि त्रिपाठी का कहना है कि भाजपा के कार्यकर्ताओं की मेहनत से यहां हमें जीत मिली है। इसी प्रकार शोहरतगढ़ नगर पंचायत में भी बबिता कसौधन की दूसरी जीत का कारण भाजपा और हियुवा कार्यकर्ताओं की मेहनत ही है। भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी ने बताया कि भाजपा की जिला कमेटी भंग होने के बाद कार्यकर्ताओं में अंतर कलह घर कर गया। प्रत्याशियों के चयन में भी वरिष्ठ पदाधिकारियों से राय मशवरा नहीं किया गया, जिसके कारण भाजपा को हानि उठानी पड़ी।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: नए साल पर सीएम योगी ने इन्हें दिया 66 करोड़ का तोहफा!

सिद्धार्थनगर के 29वें स्थापना दिवस के मौके पर चल रहे सात दिवसीय कपिलवस्तु महोत्सव का रविवार को समापन किया गया। समापन कार्यक्रम में खुद सीएम योगी आदित्यनाथ पहुंचे। इस दौरान उन्होंने 66 करोड़ रुपये की आठ परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।

1 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper