विज्ञापन
विज्ञापन

दो एसआई समेत चार पुलिस कर्मी निलंबित

Bareily Bureauबरेली ब्यूरो Updated Tue, 25 Jun 2019 02:08 AM IST
ख़बर सुनें
रोजा(शाहजहांपुर)। सोमवार का दिन जमुही वालों के मनहूस साबित हुआ। दो पक्षों के बीच हुए खूनी संघर्ष में दो लोगों की मौत के बाद गांव में सन्नाटा पसरा हुआ था। गांव में केवल पुलिस की चहलकदमी दिखाई दे रही थी, तो मृतकों के घर से रोने-बिलखने की आवाजें सुनाई दे रहीं थीं। दूसरी ओर तीन दिन पहले सोनू कठेरिया के चचेरे भाई विनोद और माया प्रकाश के परिवार के रामनिवास, रमेश, विनोद के बीच खेत पर मूंगफली खाने-खिलाने को लेकर हुई मारपीट की घटना में सोनू के चचेरे भाई विनोद ने तीनों के खिलाफ मारपीट व एससीएसटी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस टीम आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश देने गई लेकिन आरोपी नहीं मिले। दोबारा पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी की जहमत नहीं उठाई। रोजा पुलिस की केवल एक बार दबिश देने की दलील को एसपी डॉ. एस चन्नप्पा ने लापरवाही पूर्ण रवैया मानते हुए एसआई ओमपाल सिंह, एसआई हिमांशु शुक्ला, मुख्य आरक्षी सुकेंद्रपाल और योगेश कुमार को निलंबित कर दिया।
विज्ञापन
विज्ञापन
गांव में पुलिस की मौजूदगी की वजह से गांव के लोग कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं। दबी जुबान हर किसी के मुंह से एक ही बात निकल रही थी कि जो कुछ भी हुआ वह बुरा हुआ और इसमें पूरी तरह से दोषी पुलिस है। 15 दिन पहले छेड़छाड़ के मामले में और तीन दिन पहले मूंगफली के खेत में सोनू के चचेरे भाई विनोद और माया प्रकाश के परिवार के रामनिवास, रमेश विनोद के बीच हुई मारपीट के मामले में रिपोर्ट दर्ज होने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। ग्रामीणों के मुताबिक संतोष की दुकान पर पंचायत के लिए लोग जमा हुए थे लेकिन यहां विवाद हो गया और गोली चलने पर सोनू की मौत हो गई। जबकि सोनू के परिजनों का आरोप है कि दुकान के सामने से निकलते समय सोनू को संतोष व उसके परिजनों ने घेर लिया और घटना को अंजाम दे दिया। इस घटना के बाद गांव में महिलाएं और बच्चों के चेहरों पर दहशत का भाव साफ नजर आ रहा था। मृतकों के परिवार की बिलख रही औरतों को देखकर हर किसी की आंख नम हो रही थी।

चार भाइयों में सबसे छोटा था सोनू
गोली से मारे गए सोनू चार भाइयों में सबसे छोटा था। उसकी शादी नहीं हुई थी। बड़ा भाई रिंकू भी अविवाहित है। वह एमटेक कर रहा है। मोनू और भूरे शादीशुदा हैं। तीन बहन वंदना, अर्चना, सूबी हैं। घटना के बाद सभी का रो-रोकर बुरा हाल है।

बच्चों के सिर से उठ गया पिता का साया
माया प्रकाश की पत्नी रामसुखी की करीब आठ साल पहले बीमारी के चलते मौत हो गई थी। उसके दो बच्चे हैं, जिनमें छोटी बिटिया दस वर्ष और बेटा ऋषिकपूर 12 वर्ष का है। पिता की हत्या के बाद दोनों भाई-बहन गुमसुम हैं।

सात मीटर दूरी से सोनू को मारी गई गोली
जमुही गांव के सोनू के शव का पोस्टमार्टम कराए जाने पर उसके सीने में 315 बोर की बुलेट फंसी मिली। उसे लगभग सात मीटर की दूरी से गोली मारी गई। वहीं माया प्रकाश के शव का पोस्टमार्टम कराए जाने पर उनकी मौत सिर में चोट लगने की वजह से हुई। शरीर के अन्य हिस्सों में भी चोट के निशान मिले हैं।

Recommended

इन्वर्टिस यूनिवर्सिटी में 'अभिरुचि' से निखारी जाती है छात्रों की प्रतिभा
Invertis university

इन्वर्टिस यूनिवर्सिटी में 'अभिरुचि' से निखारी जाती है छात्रों की प्रतिभा

समस्या कैसे भी हो, हमारे ज्योतिषी से पूछें सवाल और पाएं जवाब मात्र 99 रूपये में
Astrology

समस्या कैसे भी हो, हमारे ज्योतिषी से पूछें सवाल और पाएं जवाब मात्र 99 रूपये में

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Shahjahanpur

खन्नौत पर ब्रिटिश समय में बना पुल ढहा, यातायात बंद

खन्नौत पर ब्रिटिश समय में बना पुल ढहा, यातायात बंद

19 जुलाई 2019

विज्ञापन

बिजली चोरी रोकने के लिए मोदी सरकार का मेगा प्लान तैयार

बिजली चोरी रोक कर 24 घंटे बिजली सप्लाई करने का बड़ा प्लान नरेंद्र मोदी सरकार ने तैयार किया है। खबरों की माने तो मोदी सरकार 3 स्तरीय प्लान में ईमानदार बिजली ग्राहकों को 24 घंटे बिजली सप्लाई करेगी।

18 जुलाई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree