कलाबाजों का कुनबा हिरासत में

Shahjahanpur Updated Sun, 09 Dec 2012 05:30 AM IST
डॉ. धर्मवीर चौधरी के घर लाखों की डकैती का मामला
- डॉक्टर फैमिली के घर हुई वारदात का नहीं लगा सुराग
- अपराधी टाइप के स्मार्ट युवाओं पर एसओजी की नजर
सिटी रिपोर्टर
शाहजहांपुर। रूफस चरन लेन में बुधवार की रात डॉ. धर्मवीर चौधरी की कोठी में पड़ी लाखों की डकैती में लिप्त बदमाशों का आज तीसरे दिन भी कोई सुराग नहीं लग सका। हालांकि, पुलिस का दावा है कि संदिग्धों पर शिकंजा लगातार कस रहा है और बहुत जल्द वारदात में लिप्त बदमाश सलाखों के पीछे नजर आएंगे। इस बीच, एसओजी टीम अपराधी टाइप के स्मार्ट युवाओं की गतिविधियों पर पैनी नजर रखे है और सदर पुलिस स्टेशन से कलाबाजों का कुनबा हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।
बता दें कि गत पांच दिसंबर की रात मुंह पर कपड़ा लपेटे सात-आठ बदमाशों ने डॉ. चौधरी की कोठी पर धावा बोला था। उस वक्त घर पर केवल डॉक्टर दंपति और उनका गार्ड अजय मौजूद था। डकैतों ने तीनों को बंधक बनाने के बाद डेढ़ लाख रुपये और जेवरों समेत करीब 20 लाख रुपये का माल लूट लिया था। घटना के खुलासे को एसपी ने सदर पुलिस, एसओजी और सर्विलांस सेल की तीन टीमें जुटा रखी हैं, लेकिन अभी तक बदमाशों के बारे में कोई ठोस सुराग नहीं मिल सका।
बीते दिन डीआईजी एलवी एंटनी देवकुमार ने भी घटनास्थल का निरीक्षण करने और चौधरी दंपति से वारदात का ब्यौरा लेने के बाद माना कि जिस तरह पेशेवर बदमाशों की लिप्तता उजागर हुई, उसे देखते केस वर्कआउट करने में तीन-चार दिन का वक्त लग सकता है, लेकिन घटना को तीन दिन बीतने के बावजूद पुलिस के हाथ अभी ऐसा कोई क्लू नहीं लग सका, जिससे बदमाशों तक पहुंचा जा सके।
वारदात की कड़ियां जोड़ने में जुटी पुलिस केवल संदेह के आधार पर संदिग्ध चेहरे-मोहरे वाले लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। डकैती के बाद हिरासत में लिए गए प्राइवेट गार्ड अजय और उसके भाई सर्वेश से पुलिस को कोई खास जानकारी नहीं मिल सकी। डॉक्टर दंपति पहले ही गार्ड को क्लीन चिट दे चुके हैं। इसे देखते सदर थाने के उप निरीक्षक केके तिवारी ने सुबह स्टेशन से गली-नुक्कड़ों पर तमाशा दिखाकर आजीविका कमाने वाले खानाबदोश कलाबाजों का कुनबा हिरासत में लिया है।
कुनबे के मुखिया ने पुलिस को अपना नाम-पता जलील शाह निवासी गांव कुदमपुरा, थाना अलीगंज, तहसील आंवला जिला बरेली बताया है। इसी कुनबे के तीन किशोरों से पूछताछ में कुछ पता नहीं चला तो पुलिस ने उन्हें दिन भर थाना गेट पर बिठाए रखा। जलील और उसके साथ की महिलाओं ने बताया कि वे बीते दिन तमाशा दिखाकर दिल्ली से सीतापुर का टिकट लेकर ट्रेन से लौटे, लेकिन बीते दिन सीतापुर वाली ट्रेन निरस्त हो जाने से उन्हें स्टेशन के बाहर डेरा डालना पड़ा।
जलील ने अपनी बात को वजन देने के लिए दिल्ली से सीतापुर तक के रेल टिकट भी दिखाए। उसने बताया कि वह सीतापुर में रह रहीं बेटियों से मिलने जा रहा था कि पुलिस ने पकड़ लिया।
उधर, एसओजी टीम शहर के अच्छे घरों वाले उन युवाओं पर भी निगाह जमाए है जो जाने-अनजाने इससे पूर्व किसी अपराध की लपेट में आ चुके हैं। एसओजी सूत्रों के अनुसार अपराधी युवाओं के रहन-सहन और पहनावे पर खास ध्यान दिया जा रहा है। ध्यान रहे कि डॉक्टर दंपति ने घटना में लिप्त बदमाशों को शिक्षित, युवा और स्मार्ट बताया था।


वारदातों का जल्द
कराएं खुलासा
उद्योग व्यापार संगठन और आदर्श व्यापार मंडल की बैठकों में डकैती, लूट और चोरी की बढ़ती वारदातों पर चिंता व्यक्त करके वक्ताओं ने पुलिस अफसरों से हाल ही में हुईं सभी वारदातों का खुलासा जल्द कराने की मांग की।
शहर में ताबड़तोड़ वारदातों पर रोष जताते हुए वक्ताओं ने कहा: जिले की कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है और पुलिस तंत्र के मूक दर्शक बने होने से जन सामान्य के लोग खुद को बेहद असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। बैठकों में विशेश्वर नाथ हांडा, जसविंदर सिंह, पंकज वर्मा सर्राफ, रमेश चंद्र शुक्ला, नीरज वाजपेयी, अजय मोहन शुक्ला, जितेंद्र शुक्ला, ओमबाबू सर्राफ, कपिल सिंह, शकील अहमद, मुन्ना बाजपेयी, उवैस खां, दीपक सिंह, धीरेंद्र त्यागी आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Rohtak

जीएसटी विभाग ने ई-वे बिल को लेकर जांच किया अवेयरनेस कैंपेन

जीएसटी विभाग ने ई-वे बिल को लेकर जांच किया अवेयरनेस कैंपेन

19 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी मे यहां बीजेपी के चेयरमैन 26 जनवरी को मनाएंगे स्वतंत्रता दिवस

26 जनवरी को पूरे देश में गणतंत्र दिवस मनाया जाता है, लेकिन यूपी के शाहजहांपुर में बीजेपी के चेयरमैन ने लोगों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी है। देखिए कहां हुई चूक।

7 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper