जरवल रोड हादसे में भी लापरवाही!

Shahjahanpur Updated Sat, 08 Dec 2012 05:30 AM IST
रोजा के घायल सहचालक ने कहा रेल फ्रैक्चर हो सकता है दुर्घटना की वजह
कहा, तीन घंटे बाद तक नहीं पहुंची थी एआरटी, रेलवे अफसर भी देर से पहुंचे
राजेश वाजपेयी
रोजा। शुक्रवार तड़के रोजा-गोंडा ब्रांच लाइन पर जरवल रोड स्टेशन के समीप आग की भेंट चढ़ी आईओसी स्पेशल के बाद रेलवे प्रशासन घंटों कुंभकर्णी नींद सोता रहा। एक ओर इंजन और उसके सोलह बैगन आग में धू धूकर जल रहे थे तो दूसरी तरफ सूचना के तीन घंटे बाद तक मौके पर एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन (एआरटी) तक नहीं पहुंची थी और चालक राम प्रसाद, सहचालक श्रीशंकर और गार्ड विनीत कुमार रात के अंधेरे मे रेल की संपत्ति को बचाने का प्रयास करते रहे। बैगनों को इंजन से अलग करने के प्रयास में सहचालक श्रीशंकर घायल भी हो गए। जो रोजा में तैनात हैं। श्रीशंकर ने जो बयां किया उससे तो यही लगता है कि रेल में आपात की स्थिति से निपटने के इंतजाम पूरे नहीं हैं।
श्रीशंकर ने फोन पर जो बताया कि उसे लगता है कि हादसे की मुख्य वजह रेल फ्रैक्चर है, जिससे पहले इंजन को झटका लगा और वह बेपटरी हो गया। उसके बाद इंजन के पीछेे लगे तीन डिब्बों के बाद पेट्रोलियम पदार्थ से भरे बैगन बेपटरी हो गए और उनमें आग लग गई। पूरी गाड़ी में 51 बैगन लगे थे, जिसमें 16 बैगन और इंजन पूरी तरह से खाक हो गए हैं।
हादसा तड़के साढ़े तीन बजे हुआ। घटना स्थल पर पहुंचने वाले पहले अधिकारी एसपी बहराइच थे जिन्होंने घायल श्रीशंकर को गोंडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इस समय तक न तो रेल की कोई एआरटी और न ही कोई जिम्मेदार अधिकारी मौके पर गया था। अलबत्ता सिविल प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर दमकल की गाड़ियां बुलाकर आग बुझाने का प्रयास किया। श्रीशंकर के अनुसार करीब तीन बजे दोपहर रेलवे के अधिकारियों ने उसे जिला अस्पताल से लाकर गोंडा के रेलवे अस्पताल मे भर्ती कराया जहां देर रात उसे गंभीर हालत मे रेलवे के मंडल अस्पताल लखनऊ भेजा गया। हादसे की वजह बताते हुए उन्होंने बताया कि घटना स्थल के आगे भी रेलवे लाइन कई जगह से फ्रैक्चर थी, जिसको रेलपथ अनुभाग के कर्मचारियों ने देखा नहीं था जो हादसे की मुख्य वजह है।
हादसे की वजह से अप लाइन की जनसेवा एक्सप्रेस, जननायक और सत्याग्रह एक्सप्रेस का मार्ग परिवर्तित कर वाया लखनऊ रवाना किया गया। इसी तरह डाउन लाइन की जन नायक व जनसेवा एक्सप्रेस को रोजा से सीतापुर की बजाय वाया लखनऊ निकाला गया। इसके अलावा गोंडा से शाहजहांपुर आने वाली पैसेंजर ट्रेन और शाहजहांपुर से गोंडा जाने वाली पैसेंजर ट्रेनें शुक्रवार को निरस्त कर दी गईं। आधी रात के बाद ट्रेनों का संचालन रोजा-गोंडा रूट पर बहाल होने की संभावना है। घायल सहचालक के परिजन लखनऊ रवाना हो गए हैं।

Spotlight

Most Read

National

सियासी दल सहमत तो निर्वाचन आयोग ‘एक देश एक चुनाव’ के लिए तैयार

मध्य प्रदेश काडर के आईएएस अधिकारी और झांसी जिले के मूल निवासी ओपी रावत ने मंगलवार को मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यभार संभाल लिया।

24 जनवरी 2018

Rohtak

बिजली बिल

24 जनवरी 2018

Rohtak

नेताजी

24 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper