झोलाछाप का नर्सिंग होम सीएमओ ने किया सील

Shahjahanpur Updated Thu, 11 Oct 2012 12:00 PM IST
एक्सरे मशीन और फर्नीचर किया जब्त, सीएचसी भिजवाए
- प्रशासनिक कार्रवाई से अन्य झोलाछाप में हड़कंप
-आनन-फानन में बंद हो गईं क्षेत्र की दवा दुकानें
अमर उजाला नेटवर्क
जलालाबाद। नर्सिंग होम खोलकर मरीजों की जिंदगी से खिलवाड़ करने के आरोपी नगर के एक झोलाछाप के खिलाफ प्रशासन की ओर से की गई प्रभावी कार्रवाई से हड़कंप मच गया। सीएमओ के नेतृत्व में चली इस कार्रवाई के दौरान आरोपी के यहां रखी एक्सरे मशीन और पूरा फर्नीचर जब्त करने के बाद नर्सिंग होम सील कर दिया गया।
प्रशासन की यह कार्रवाई बरेली रोड स्थित इमरजेंसी नर्सिंग होम पर हुई। दोपहर के वक्त सीएमओ डॉ. एके श्रीवास्तव, सीओ संजय कुमार, कोतवाल मुईन समेत बड़ी संख्या में फोर्स लेकर इस नर्सिंग हो पर जा धमके। अधिकारियों के पहुंचते ही आरोपी झोलाछाप मौके से भाग निकला। इसके बाद टीम ने पूरा नर्सिंग होम खंगालने के बाद वहां रखी एक्सरे मशीन और अन्य चिकित्सीय उपकरण के अलावा सारा फर्नीचर गाड़ियों में भरवाकर सीएचसी भिजवा दिया और नर्सिंग होम सील कर दिया। टीम की मौजूदगी की भनक लगते ही तमाम झोलाछाप और मेडिकल स्टोर बंद हो गए।

इसलिए हुई कार्रवाई
चौकी आजमपुर के जय सिंह की पत्नी के पैर में फैक्चर होने के बाद इसी नर्सिंग होम पर इलाज होने के बाद गलत जोड़ लगने से प्रभावित पैर छोटा हो गया था, जिसकी शिकायत होने के बाद डीएम के निर्देश पर सीएमओ ने पूरे मामले की जांच की, जिसमें आरोप सही पाया गया।


और भी हैं कई मामले
इस प्रकरण के अलावा इस नर्सिंग होम से जुड़े और भी मामले सामने आते रहने से अधिकारियों की नजर में था। कुछ दिन पहले यहां प्रसूता महिला के पेट की सफाई कर देने के बाद उसे सेप्टिक हो गई थी। गांव चौंरा की इस महिला की बाद में जिला अस्पताल में मौत हो गई।

आरोपी छोलाछाप रिपोर्ट दर्ज
सीएमओ एके श्रीवास्तव ने बताया कि महिला के इलाज के बाद उसका पैर छोटा होने के मामले में इस डॉक्टर की लापरवाही उजागर हुई है। बताया कि वह डॉक्टर डिग्री होल्डर भी नहीं है। सीएमओ ने बताया कि कथित डॉ. वीरेंद्र पर रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls