‘तीज-त्योहारों का बाजारीकरण चिंताजनक’

Shahjahanpur Updated Wed, 26 Sep 2012 12:00 PM IST
शाहजहांपुर। टाइम्स ऑफ इंडिया समूह से जुड़े वरिष्ठ पत्रकार अरुण बर्धन ने कहा है कि विदेशी कंपनियों का भारतीय संस्कृति से कोई लेना देना नहीं है। फिर भी उन्होंने भारतीय प्रतीकों और तीज-त्योहारों को अपने उत्पाद बेचने को भरपूर उपयोग किया है। इन कंपनियों ने कभी अक्षय तृतीया तो कभी करवा चौथ का बाजारीकरण किया है।
श्री बर्धन एसएस कालेज के वाणिज्य और प्रबंधन विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में ‘बाजार की रणनीतियों में कम्युनिकेशन का दर्शन’ विषय पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि विदेशी कंपनियों ने अपने विज्ञापनों के प्रचार में भारतीय प्रतीकों और भावुक अपीलों का छद्म अपनाया और भारतीय मीडिया ने इस छद्म में उनका साथ दिया। इसका प्रभाव बाजार वाद के रूप में हमारे सामने है। बाजार में जाने को जिस संप्रेषण और कौशल की आवश्यकता होती है, वह भारतीय उत्पादकों के पास नहीं है।
श्री बर्धन ने कहा कि मीडिया की संवेदनहीनता और बाजारी दृष्टिकोण हमारे लिए चुनौती हैं। विदेशी चैनल आने से हमारी संस्कृति का भी संकट पैदा हुआ है। परिवर्तन की धारा में सांस्कृतिक आदान-प्रदान जैसा कुछ भी नहीं है। यह एक गंभीर खतरा है।
दिल्ली विश्वविद्यालय की हिंदी प्रोफेसर एवं साहित्य अमृत की पूर्व संयुक्त संपादक डॉ. कुमुद शर्मा ने भूमंडलीकरण और भारतीय मीडिया की चुनौतियां विषय पर अपनी बात रखी। कहा कि आज नई पीढ़ी ने तकनीक और विकास से तालमेल बैठा लिया है, वहीं एक वर्ग ऐसा भी है जो सोचता है कि भूमंडलीकरण से हमारी संस्कृति और देश नष्ट हो जाएगा। भारत के लिए भूमंडलीकरण कोई नई बात नहीं है। भारत ने किसी भी देश की संस्कृति को नष्ट नहीं किया, लेकिन सांस्कृतिक आदान-प्रदान से हमारी संस्कृति नष्ट हो रही है।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए मुमुक्षु शिक्षा संकुल के मुख्य अधिष्ठाता स्वामी चिन्मयानंद सरस्वती ने कहा कि यदि विश्व के विकसित देशों के षडयंत्रों पर देश का विद्वत समाज नजर रखता है तो हमें कोई खतरा नहीं है। सरकार को विकास के लिए खिड़कियां खोलनी चाहिए, लेकिन यदि कोई देश जहरीली हवाएं ला रहा है तो खिड़कियां बंद कर लेनी चाहिए।
इससे पूर्व अतिथियों को स्वामी चिन्मयानंद सरस्वती और पल्लवी चक्रवर्ती ने अंगवस्त्र ओढ़ाकर और स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। वाणिज्य विभागाध्यक्ष डॉ. अनुराग अग्रवाल के संचालन में हुए कार्यक्रम में प्राचार्य डॉ. अवनीश मिश्रा ने आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में गणमान्य और स्टाफ के सदस्य मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

रायबरेली: गुंडों से दो बहनों की सुरक्षा के लिए सिपाही तैनात, सीएम-पीएम को लिखा था पत्र

शोहदों के आतंक से परेशान होकर कॉलेज छोड़ने वाली दोनों बहनों की सुरक्षा के लिए दो सिपाही तैनात कर दिए गए हैं। वहीं एसपी ने इस मामले में ठोस कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

24 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper