बीएड छात्रों का जीएफ में हंगामा

Shahjahanpur Updated Sat, 22 Sep 2012 12:00 PM IST
आक्रोशित गैर अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं ने कॉलेज कराया बंद
- कक्षाओं में डाले ताले, सत्र 2009-10 की परीक्षा कराने की मांग
सिटी रिपोर्टर
शाहजहांपुर। जीएफ कॉलेज वित्तविहीन विभाग के सत्र 2009-10 के गैर अल्पसंख्यक बीएड छात्रों ने परीक्षा कराए जाने और इस संबंध में कॉलेज की ओर से की गई कार्यवाही से अवगत कराने की मांग को लेकर महाविद्यालय में जमकर हंगामा काटा। उत्तेजित छात्रों ने कॉलेज में कक्षाएं भी नहीं चलने दीं और छात्र-छात्राओं को शिक्षण कक्षों से बाहर निकालकर उनमें ताला डाल दिया।
गौरतलब है कि जीएफ कॉलेज सेल्फ फाइनेंस विभाग की सत्र 2009-10 की बीएड परीक्षा समयांतर्गत नहीं कराई गई थी। बाद में विश्वविद्यालय ने अल्पसंख्यक वर्ग के 50 छात्रों की परीक्षा जैसे-तैसे करा दी, लेकिन गैर अल्पसंख्यक इतने ही छात्र आज भी परीक्षा के लिए विभाग के साथ प्रशासनिक अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के दरवाजे पर नाक रगड़ रहे हैं, लेकिन उनकी सुनवाई कहीं नहीं हो रही है।
परीक्षा की मांग को लेकर छात्रों ने बीएड छात्र संघर्ष समिति के बैनर तले कलक्ट्रेट में क्रमिक अनशन भी किया, लेकिन नतीजा ढाक के तीन पात रहा। डीएम का आश्वासन भी खोखला साबित हुआ। इसके बाद फिर छात्रों ने कलक्ट्रेट में क्रमिक अनशन आरंभ कर दिया। करीब ग्यारह दिन अनशन पर बैठने के बाद भी जब अधिकारियों ने उनकी ओर ध्यान नहीं दिया तो छात्रों का धैर्य जवाब दे गया और उन्होंने आज शुक्रवार को जीएफ कॉलेज पहुंचकर हंगामा काटा।
इस दौरान बीएड छात्रों ने हर कक्षा में जाकर छात्रों से कॉलेज के बाहर जाने का अनुरोध किया और उनसे क्लास खाली कराकर ताले डालने शुरू कर दिए। एक-डेढ़ घंटे के हंगामे के दौरान छात्रों ने नारेबाजी के साथ जमकर प्रदर्शन भी किया। बीएड छात्रों ने पहली अक्तूबर से जीएफ कॉलेज में आमरण अनशन शुरू करने की सूचना सिटी मजिस्ट्रेट को भी दे दी है।
छात्रों ने जीएफ कॉलेज प्राचार्य को ज्ञापन देकर समस्या का समाधान कराने तथा अन्यथा की स्थिति में आमरण अनशन शुरू करने की चेतावनी भी दी। इस दौरान समिति के अध्यक्ष विपुल कुमार शुक्ला, सचिव विम्मी, प्रदीप शर्मा, राज कुमार, धरमवीर, नमिता, ममता, लक्ष्मी, मंजू देवी, रुचि बिंदु, रुचि चौहान, सर्वेश, शिवांगी, महेंद्र, अंजनी, पवन, शोभिका, सपना, रश्मि समेत अन्य छात्र-छात्राएं भी मौजूद रहे।



‘गैर अल्पसंख्यक बीएड छात्रों के साथ ज्यादती हो रही है। परीक्षा कराने के बावत जारी शासनादेश में कहीं भी ऐसा उल्लेख नहीं है कि अल्पसंख्यक या गैर अल्पसंख्यक छात्रों की परीक्षा कराई जाए। सभी औपचारिकताएं पूरी हैं, केवल विश्वविद्यालय स्तर पर मामला लटका हुआ है। इसमें कॉलेज का कोई रोल नहीं है। विवि अपनी हठधर्मिता नहीं छोड़ रहा है। बीसीए परीक्षा के बारे में कोई जानकारी नहीं। इस बावत सेल्फ फाइनेंस हेड ही बता पाएंगे।’
- डॉ. अकील अहमद, प्राचार्य जीएफ कॉलेज

Spotlight

Most Read

Chandigarh

हरियाणाः यमुनानगर में 12वीं के छात्र ने लेडी प्रिंसिपल को मारी तीन गोलियां, मौत

हरियाणा के यमुनानगर में आज स्कूल में घुसकर प्रिंसिपल की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मामले में 12वीं के एक छात्र को गिरफ्तार किया गया है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

शाहजहांपुर के अटसलिया गांव में नहीं हो रही लड़कों की शादी, ये है वजह

केंद्र सरकार खुले में शौच से मुक्ति दिलाने के लिए स्वच्छ भारत मिशन के तहत करोड़ों रुपये खर्च कर रही है, लेकिन यूपी के शाहजहांपुर जिले में एक गांव ऐसा है जहां महिलाओं को आज भी खुले में शौच जाना पड़ता है।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper