विज्ञापन
विज्ञापन

भाजपा ने केंद्र सरकार का फूंका पुतला

Shahjahanpur Updated Fri, 14 Sep 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
डीजल और कुकिंग गैस के मूल्य में वृद्धि का विरोध
विज्ञापन
विज्ञापन
सिटी रिपोर्टर
शाहजहांपुर। डीजल और कुकिंग गैस सिलेंडर के दाम में बढ़ोत्तरी के विरोध पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने रात में ही केंद्र सरकार का पुतला फूंका। नारेबाजी करते हुए प्रधानमंत्री से इस्तीफे की मांग की।
केंद्र सरकार ने गुरुवार देर शाम डीजल में चार रुपये की वृद्धि कर दी है। इसके अलावा पूरे वर्ष में एक उपभोक्ता को कुकिंग गैस के सिर्फ छह सिलेंडर देने का फैसला लिया है। इसके बाद यदि कोई उपभोक्ता सिलेंडर लेता है तो उसे 750 रुपये का सिलेंडर मिलेगा। पहले से ही महंगाई की मार झेल रहे लोगों के लिए सरकार की यह फैसला भारी पड़ रहा है। भाजपा कार्यकर्ता सरकार के इस फैसले के खिलाफ रात में ही सड़क पर आ गए। थाना सदर बाजार के सामने कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी के साथ केंद्र सरकार का पुतला फूंका और प्रधान मंत्री से इस्तीफे की मांग की। इससे पहले कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार की अर्थी भी निकाली।
पुतला फूंकने वालों में भाजपा के ब्रज प्रांत के सहसंयोजक जीपीएस राठौर, भाजपा नेता डीपी सिंह, पवन सिंह, अंशुल सिंह चौहान, अनिल वाजपेयी बाण, आशीष वर्मा, पंकेश मिश्रा, प्रशांत सक्सेना, अजय प्रजापति आदि शामिल रहे।

बढ़ोत्तरी केंद्र सरकार के ताबूत की अंतिम कील
0 राजनीतिक दलों व आम उपभोक्ताओं की मूल्य वृद्धि पर तीखी प्रतिक्रिया
शाहजहांपुर। डीजल के दाम में सीधे पांच रुपये की बढ़ोत्तरी और कुकिंग गैस सिलेंडर के रेट में अप्रत्यक्ष रूप से की गई वृद्धि पर राजनीतिक दलों ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। भाजपा नेता सुरेश खन्ना ने इस फैसले को केंद्र सरकार के ताबूत की अंतिम कील बताया है।
फोटो 23
इस फैसले से कृषि, परिवहन, उद्योग आदि सभी क्षेत्रों में महंगाई बढ़ेगी। कुकिंग गैस के सिर्फ छह सिलेंडर देने का फैसला प्रत्येक घर के चूल्हे को प्रभावित करेगा। यह बढ़ोत्तरी आम आदमी की कमर तोड़ देगी। साल में प्रत्येक उपभोक्ता को कम से कम 18 सिलेंडर मिलने चाहिए और डीजल के मूल्य में वृद्धि वापस लेनी चाहिए। -सुरेश खन्ना, नगर विधायक भाजपा

डीजल के मूल्य में बढ़ोत्तरी किसानों पर जुल्म है। पहले ही से ही इतने दाम बढ़ा रखे हैं कि किसान सिंचाई के लिए डीजल नहीं खरीद पा रहा है। कुुकिंग गैस की नई नीति से गैस की कालाबाजारी और बढ़ जाएगी। इस फैसले से लगता है कि केंद्र सरकार महंगाई बढ़ाने पर आमादा है। -रोशन लाल वर्मा, विधायक बसपा

केंद्र सरकार चाहती है कि महिलाएं फिर से चूल्हा फूंके और लोग भुखमरी का शिकार हों। गैस सिलेंडर की नई नीति सरकार का सीधे रसोई घरों पर हमला है। सरकार गैस की कालाबाजारी को रोकने के बजाय आम उपभोक्ता पर महंगाई का बोझ लाद रही है। - डा. अल्पना श्रीवास्तव, बिजलीपुरा

पहले ही महंगाई से लोग परेशान हैं। ऐसे में सरकार का यह फैसला अव्यवहारिक है। डीजल के दाम बढ़ने से महंगाई और बढ़ेगी। गैस सिलेंडर पर अप्रत्यक्ष रूप से दाम बढ़ाकर सरकार ने जनविरोधी होने का प्रमाण दिया है। -गीता शुक्ला, शिक्षक

Recommended

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्
Astrology

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से
Astrology

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha chunav 2019) के नतीजों में किसने मारी बाजी? फिर एक बार मोदी सरकार या कांग्रेस की चुनावी नैया हुई पार? सपा-बसपा ने किया यूपी में सूपड़ा साफ या भाजपा का दम रहा बरकरार? सिर्फ नतीजे नहीं, नतीजों के पीछे की पूरी तस्वीर, वजह और विश्लेषण। 23 मई को सबसे सटीक नतीजों  (lok sabha chunav result 2019) के लिए आपको आना है सिर्फ एक जगह- amarujala.com  Hindi news वेबसाइट पर.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Bareilly

Lok Sabha Election 2019 Result: बरेली, बदायूं सहित देखिए इन 7 सीटों पर कौन आगे,कौन पीछे

दिल्ली रोड पर आज तय हो जाएगा कि बरेली, आंवला, पीलीभीत,शाहजहांपुर, लखीमपुर खीरी और धौरहरा सीट के कौन प्रत्याशी दिल्ली जाएंगे और किन्हें मायूस होकर घर लौटना होगा।

23 मई 2019

विज्ञापन

स्वरा भास्कर ने जिन-जिन का किया प्रचार, उनमें से किसी का नहीं हुआ बेड़ापार

एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने 2019 के लोकसभा चुनाव में अलग-अलग पार्टियों के अलग-अलग कैंडिडेट के लिए प्रचार किया था। लेकिन इसे मोदी लहर कहें या कुछ और ये सभी कैंडिडेट चुनाव हार गए।

25 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree