सपाइयों-बसपाइयों में पथराव, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

Shahjahanpur Updated Sat, 25 Aug 2012 12:00 PM IST
प्रमुख के अविश्वास प्रस्ताव को हुए मतदान के दौरान भारी बवाल
- रोशनलाल बोले, सपाई जबरिया बसपा की बीडीसी सदस्य को ले गए
- एमएलए और एमएलसी सहित 70 के खिलाफ मुकदमा दर्ज
अमर उजाला नेटवर्क
निगोही (शाहजहांपुर)। बसपा की ब्लाक प्रमुख सरोज कुमारी गौतम के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के लिए ब्लाक मुख्यालय पर शुक्रवार को हुए मतदान के दौरान भारी बवाल हो गया। सपाइयों और बसपाइयों में जमकर पथराव हुआ। पुलिस ने बीचबचाव कराने का प्रयास किया। बात नहीं बनी तो लाठीचार्ज कर सभी को खदेड़ दिया गया। घटना के संबंध में दरोगा मंगली प्रसाद ने विधायक रोशनलाल वर्मा, एमएलसी जयेश प्रसाद, पूर्व दर्जा राज्यमंत्री कोविद कुमार सिंह, ब्लाक प्रमुख सरोज कुमारी गौतम और उनके पति महेश गौतम सहित 70 लोगों के खिलाफ थाने पर मुकदमा दर्ज कराया है।
विवाद की शुरुआत तब हुई, जब विकरनपुर की बसपा की बीडीसी सदस्य शायरा बानो वोट डालने पति इबरार अली के साथ ब्लाक मुख्यालय जा रही थीं। आरोप है कि हमजापुर चौराहे पर सपाइयों ने जबरन उन्हें अपनी गाड़ी में बिठा लिया और कहीं ले गए। इबरार ने इस मामले की शिकायत विधायक रोशनलाल वर्मा, एमएलसी जयेश प्रसाद और कांग्रेस नेता तथा पूर्व दर्जा राज्यमंत्री कोविद कुमार सिंह से की। यह लोग वहां पहुंचे और थानाध्यक्ष के समक्ष आरोप लगाया कि बीडीसी सदस्य शायरा बानो को सपाई जबरन ले गए हैं। अत: उन्हें वापस लाया जाए। ऐसा न होने पर जाम लगाने की धमकी भी दी। इसके बाद तीनों नेता ब्लाक मुख्यालय मतदान स्थल की ओर आए, जहां सामने से सांसद मिथिलेश कुमार और सपा के कार्यकर्ता आ गए। यहां दोनों पक्षों में जमकर तकरार हुई। आरोप है कि बसपा के लोगों ने पथराव शुरू कर दिया, जिसका जवाब सपाइयों ने भी दिया। बवाल बढ़ता देख पुलिस ने लाठीचार्ज कर सभी को खदेड़ दिया। यहां पर एमएलसी जयेश प्रसाद, विधायक रोशनलाल वर्मा और पूर्व दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री कोविद कुमार सिंह की सीओ तिलहर से जमकर नोकझोंक हुई।
लाठीचार्ज और पथराव में दरोगा मंगली प्रसाद, सिपाही कृपाशंकर दुबे, विधायक रोशनलाल वर्मा के पुत्र विनोद वर्मा और मनोज वर्मा, विधायक वर्मा के साथ रहे भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष श्याम नारायण मिश्रा, ब्लाक प्रमुख सरोज कुमारी गौतम और उनके पति महेश गौतम, गांव महुआ पाठक के प्रधान नरेंद्र कुमार तथा रानी खिरिया गांव के नरेंद्र घायल हो गए।
उधर, घायल दरोगा मंगली प्रसाद और सिपाही कृपाशंकर दुबे ने निगोही अस्पताल में उपचार कराया जबकि अन्य घायल निजी चिकित्सकों के पास इलाज कराने पहुंचे।
इधर, एएसपी एसएन भारद्वाज ने बताया कि पुलिस ने किसी प्रकार का लाठीचार्ज नहीं किया है। जिन लोगों ने बेरीकेडिंग तोड़ने की कोशिश की उन्हें रोका अवश्य गया। घटना के दौरान सिटी मजिस्ट्रेट गौरव वर्मा, एसडीएम तिलहर लाल बहादुर, सीओ सदर संजय कुमार और सीओ तिलहर बीडी कठेरिया भारी फोर्स के साथ मौजूद रहे।
उधर, अविश्वास प्रस्ताव के लिए हुए मतदान में कुल 39 बीडीसी सदस्यों ने भाग लिया। विधायक रोशनलाल वर्मा का आरोप है कि प्रशासन ने उनके बीडीसी सदस्यों को मतदान नहीं करने दिया। एसडीएम लाल बहादुर ने बताया कि मतपेटिका को तिलहर ले जाया गया है। हाईकोर्ट के आदेश के बाद ही परिणाम घोषित किया जाएगा।


‘निगोही ब्लाक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के लिए मतदान के दौरान ब्लाक प्रमुख समर्थकों ने गुंडई दिखाई और कानून-व्यवस्था को अपने हाथों में लेने की कोशिश की, जिस पर पुलिस ने गुंडई करते लोगों को खदेड़ा। इसमें सपा के लोगों का कोई रोल नहीं है। विधायक राजेश यादव, जिलाध्यक्ष प्रदीप पांडेय सहित अन्य पार्टी पदाधिकारी मतदान के मद्देनजर निर्धारित स्थल पर अपने कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए गए थे। ब्लाक प्रमुख या बसपा नेताओं के तमाम आरोप निराधार हैं।’
- मिथलेश कुमार, सांसद

‘निगोही ब्लाक प्रमुख सरोज कुमारी गौतम के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के दौरान ब्लाक प्रमुख समर्थकों ने कानून अपने हाथ में लेने की कोशिश की, जिस पर पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा। कानून-व्यवस्था से किसी को खिलवाड़ करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। मतदान के दौरान सांसद, विधायक और सपा नेताओं पर लगाए गए आरोप निराधार हैं। मतदान के दौरान 67 में से 39 सदस्यों ने मतदान किया है। परिणाम की घोषणा हाईकोर्ट के आदेश पर होगी।’
- रितु माहेश्वरी, जिलाधिकारी।



डीएम से की मतदान निरस्त की मांग
- ब्लाक प्रमुख ने सांसद सहित सपा नेताओं पर लगाए धांधली के आरोप
शाहजहांपुर। निगोही ब्लाक प्रमुख सरोज कुमारी गौतम ने सपा सांसद और विधायक राजेश यादव सहित अन्य सपा नेताओं पर मतदान में धांधली का आरोप लगाते हुए डीएम को शिकायती पत्र देते हुए मामले की जांच कराने और अविश्वास प्रस्ताव केदौरान हुए मतदान को निरस्त करने की मांग की।
बसपा विधायक रोशन लाल वर्मा, एमएलसी जयेश प्रसाद, पूर्व दर्जा राज्यमंत्री कोविद कुमार सिंह और विधायक सुरेश खन्ना के साथ डीएम से मिली। ब्लाक प्रमुख श्रीमती सरोज ने सासंद मिथलेश कुमार, विधायक राजेश यादव, सपा जिलाध्यक्ष प्रदीप पांडेय एवं अन्य लोगों पर आरोप लगाया कि उन्होंने ब्लाक में हमारे समर्थक बीडीसी श्याम नारायान मिश्रा को रोका और विरोध करने पर सांसद के इशारे पर पुलिस ने लाठियां चलानी शुरू कर दीं, जिसमें वह खुद उनके पति महेश गौतम, श्यामनरायण मिश्रा आदि हमारे समर्थक घायल हो गए। सरोज ने यह भी आरोप लगाया कि सपा नेताओं ने सदस्यों को खुद मतदान नहीं करने दिया बल्कि फर्जी हेल्पर लगाकर मतदान करा दिया। इस धांधलेबाजी की आशंका की पहले भी शिकायत की गई थी।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Jharkhand

जेल में लालू यादव से मिले झामुमो पार्टी के अध्यक्ष हेमंत सोरेन, झारखंड की सियासत में हलचल

झारखंड विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव से जेल में मुलाकात की है।

21 फरवरी 2018

Related Videos

शाहजहांपुर में युवती की रेप के बाद हत्या, खेत में मिली लाश

शाहजहांपुर से एक शर्मनाक खबर सामने आई है। यहां एक दलित युवती की रेप के बाद हत्या कर दी गई। बता दें कि वारदात के पहले से युवती गायब थी। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

19 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen