रोजगार सेवकोें ने मांगा राज्य कर्मचारी का दर्जा

Shahjahanpur Updated Fri, 24 Aug 2012 12:00 PM IST
- सिटी मजिस्ट्रेट को मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन
सिटी रिपोर्टर
शाहजहांपुर। ग्राम रोजगार सेवक संघ का एक शिष्टमंडल बुधवार को जिलाध्यक्ष सुधाकर त्रिपाठी के नेतृत्व में सिटी मजिस्ट्रेट से मिला। शिष्टमंडल ने उन्हें दस सूत्री मांग पत्र और ज्ञापन देकर रोजगार सेवकों को नियमित करके राज्य कर्मचारी का दर्जा दिलाने की मांग प्रमुखता से उठाई।
ज्ञापन में विभिन्न मांगों को लेकर तीन वर्ष पहले संघ के प्रांतीय पदाधिकारियों से मुख्यमंत्री के तत्कालीन प्रमुख सचिव की वार्ता का उल्लेख है। ज्ञापन में कहा गया है कि उस वक्त अधिकारी रोजगार सेवकों के कार्यकाल की अधिकतम समय सीमा तीन वर्ष को समाप्त करने पर सहमत हो गए, लेकिन तब से पुरानी व्यवस्थाएं ही लागू हैं। ग्राम प्रधान रोजगार सेवकों का कार्यकाल संतोषजनक होने पर भी शासन से प्राप्त शक्तियों का दुरुपयोग करके उन्हें पद से हटा रहे हैं।
मांग पत्र में रोजगार सेवकों को स्थायी करने, उन्हें ग्राम पंचायतों के नियंत्रण से मुक्त करने, महंगाई के मद्देनजर मानदेय दस हजार रुपये प्रतिमाह करने आदि मांगों का उल्लेख है। शिष्टमंडल में शीशराम यादव, अरविंद वाजपेयी, राजेश वर्मा, यूसुफ खां, ममता दवी, परवेज खां, उमेश चंद्र, अली मोहम्मद, रोहित सिंह आदि शामिल रहे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018