झुलसी महिला की अस्पताल में मौत

Shahjahanpur Updated Wed, 22 Aug 2012 12:00 PM IST
- पांच महीने पहले हुई थी मंजू की शादी
सिटी रिपोर्टर
शाहजहांपुर। सोमवार को आग से झुलसी विवाहिता की इलाज के दौरान जिला अस्पताल में मौत हो गई।
थाना तिलहर के गांव गुलामखेड़ा निवासी मुकुट बिहारी ने बताया कि उनकी 20 वर्षीय पुत्री मंजू की शादी अप्रैल 2012 में मोहद्दीपुर निवासी राजीव कुमार के साथ हुई थी। सोमवार की शाम जब वह खाना बना रही थी तो गैस सिलेंडर लीक होने से उसने भी आग पकड़ ली। बचाव को मंजू भागी तो उसके ऊपर जलती हुई कुप्पी गिर गई, जिससे वह बुरी तरह झुलस गई। मंजू के पति राजीव आदि ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां रात में उसकी मौत हो गई। सूचना मिलते ही मंजू की मां और अन्य रिश्तेदार तथा गांव वाले ट्रैक्टर-ट्रॉली से अस्पताल पहुंच गए। मंजू की मां का रो-रोकर बुरा हाल था।
उधर, गांव के लोगों ने बताया कि मंजू का विवाह उसके बहनोई के साथ हुआ था। विगत होली पर मंजू की बहन की मृत्यु हो गई थी, उसके बाद मंजू के मां-बाप ने बड़ी बहन के पति के साथ ही उसका विवाह कर दिया था। गांव के लोगों का कहना था कि पति-पत्नी में अनबन रहती थी। इसी कारण मंजू ने खुद आग लगा ली थी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018