जान देने को कलक्ट्रेट में पेड़ पर चढ़ गई सत्यवती

Shahjahanpur Updated Wed, 01 Aug 2012 12:00 PM IST
0 जमीन पर कब्जा दिलाने की मांग ठुकराने का नतीजा
0 अफसरों ने खुशामद करके नीचे उतरने को किया राजी
शाहजहांपुर। स्टेट हाईवे की कीमती जमीन पर अवैध कब्जा कर पक्का निर्माण कराने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर गत दो दिन से अबोध बच्चों के साथ मुख्यालय पर भटक रही अल्हागंज क्षेत्र के गांव ततियारी निवासी मनीराम की पत्नी सत्यवती को कुछ नहीं सूझा तो मंगलवार को दिन ढलने के बाद अंधेरे और सन्नाटे में डूबे कलक्ट्रेट के अहाते में धरनास्थल पर पेड़ पर जा चढ़ी। उसने यह कहकर सनसनी फैला दी कि तत्काल न्याय नहीं मिला तो इसी पेड़ पर फांसी लगाकर या फिर नीचे कूदकर जान दे देगी।
बता दें कि सत्यवती बीते दिन चार बच्चों और देवरानी रानी देवी के साथ कलक्ट्रेट में धरने पर बैठी थी। बाद में सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देकर बताया कि उसकी जलालाबाद-फर्रूखाबाद स्टेट हाईवे के किनारे स्थित एक हेक्टेयर जमीन पर आसपास के खेत मालिकों ने कब्जा करके पक्का निर्माण शुरू करा दिया। इसकी शिकायत करने पर भी क्षेत्र के एसओ और अन्य अफसरों ने कोई सुनवाई नहीं की। सिटी मजिस्ट्रेट ने उसे आश्वासन भी दिया, लेकिन राहत नहीं मिली।
आज फिर सत्यवती बच्चों को शहर में ही कहीं छोड़कर दिन में पुलिस आफिस गई, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। रात करीब नौ बजे उसे कुछ नहीं सूझा तो कलक्ट्रेट के पेड़ पर चढ़कर सनसनी फैला दी। जानकारी पाते ही पुलिस-प्रशासन के अफसरों समेत मीडिया कर्मियों का जमावड़ा लगने लगा। इसी बीच कैमरों की लाइट में एसपी डा. एके राघव, एएसपी देहात केबी सिंह, सिटी मजिस्ट्रेट गौरव वर्मा और एसडीएम जलालाबाद रामप्रकाश मौके पर पहुंच गए।
सत्यवती को नीचे उतारने के लिए फायर स्टेशन से एफएसओ भी वाहन और सीढ़ी सहित पहुंच गए। इसके साथ अफसरों ने उसे मनाने का क्रम शुरू किया और सत्यवती की मांग पर क्षेत्र के लेखपाल, कानूनगो और नायब तहसीलदार को स्थानांतरित करने का आश्वासन भी दिया। करीब आधा घंटा तक अफसरों के मान मनौव्वल पर पसीजी सत्यवती नीचे उतरी, लेकिन बीच में रुककर फिर चेताया कि अफसर बात से मुकरे तो वह बच्चों सहित आग लगाकर आत्महत्या कर लेगी। एसडीएम ने तत्काल कार्रवाई का आश्वासन देकर उसे थाने भेजा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls