अमर उजाला की चौपाल में लोगों का हुजूम

Shahjahanpur Updated Sun, 22 Jul 2012 12:00 PM IST
बिलंदापुर में विधायक सहित कई अधिकारी पहुंचे गांव, लोगों ने तमाम समस्याएं उठाईं
अधिकारियों ने दी योजनाओं की जानकारी
ईंटारोरा (सिंधौली)। गांव बिलंदापुर में एवरेस्ट फाइवर एंड सीमेंट चादर की ओर से प्रायोजित ‘अमर उजाला’ की चौपाल में भारी भीड़ उमड़ी। चौपाल में कई गांवों के लोगों ने अधिकारियों के सामने समस्याएं रखीं। तमाम शिकायतों का चौपाल में ही निस्तारण किया गया। चौपाल में बिजली, पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा व आवास से जुड़ी समस्याएं खासतौर पर उभर कर सामने आईं।
चौपाल में समस्याएं रखने के लिए आसपास के गांवों के लोग सुबह से ही बिलंदापुर स्कूल में एकत्र होना शुरू हो गए। किसी का राशन कार्ड नहीं बना था तो किसी को आवास चाहिए था। किसी को पेंशन नहीं मिल रही थी तो कोई बिजली से परेशान था। चौपाल में आईं विधायक शकुंतला देवी, ब्लाक प्रमुख के पति अवधेश सिंह, जलनिगम के जेई, बिजली विभाग के जेई डीएन शर्मा, एबीआरसी अरविंद कुमार, लेखपाल शिवाकांत, कोतवाली प्रभारी रावेंद्र सिंह, गौरव सिंह, चौकी प्रभारी भगवानदीन वर्मा आदि ने गांव के लोगों की समस्याओं को सुना और कुछ समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया। शेष मामलों में जल्द कार्रवाई का भरोसा दिलाया गया।
गांव के लोगों ने कहा कि वे अपनी शिकायत लेकर समय और धन बर्बाद कर अधिकारियों के पास जाते हैं, लेकिन समस्याओं का निदान नहीं हो पाता है। चौपाल में उन्हें अपनी शिकायत कहने का मौका गांव में ही मुहैया कराया गया है। उन्हें विश्वास है कि जल्द ही समस्याओं का समाधान हो सकेगा। चौपाल में प्रधान मैकूलाल, गांव मियांपुर के प्रधान पति रामादीन, घाटबोझ के चांदबाबू, महुराइन की प्रधान के पति सुरजीत सिंह, उमरापुर पैगापुर की प्रधान के पति कल्याण सिंह, गरगैया त्रिलोकपुर के शिवकुमार, शेखूपुर सरैंया के ओमप्रकाश, इमलिया के दर्शनलाल, मिश्रीपुर बुजुर्ग के प्रधान पति धर्मेंद्र कुमार सहित तमाम प्रधान मौजूद रहे। चौपाल में गांव बिलंदापुर और मियांपुर के शिक्षकों को विशेष सहयोग रहा।
00000
स्कूल परिसर के दो हैंडपंप कराए सही
गांव बिलंदापुर के पूर्व माध्यमिक स्कूल में चौपाल आयोजित होने और अधिकारियों के आने की जानकारी पाकर शनिवार सुबह ही बीडीओ ने मैकेनिक भेजकर स्कूल परिसर में लगे दो हैंडपंप सही करा दिए। शिक्षकों और छात्रों ने बताया कि हैंडपंप काफी समय से खराब पड़े थे। तमाम बार शिकायत के बाद भी इन्हें सही नहीं कराया जा रहा था। चौपाल ने उनकी बड़ी समस्या हल कर दी है।
000000
सिंधौली और बिलंदापुर अस्पताल में व्याप्त है अनियमितताएं
चौपाल में तमाम लोगों ने गांव बिलंदापुर और सिंधौली के सरकारी अस्पताल में व्याप्त अनियमितताओं का मुद्दा उठाया। लोगों ने बताया कि अस्पताल से डॉक्टर और कर्मचारी अक्सर गायब रहते हैं। आरोप लगाया कि रोगियों के साथ अभद्र व्यवहार किया जाता है और रोगियों को लाल पीली गोलियां देकर टरका दिया जाता है। तमाम बार शिकायत किए जाने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हो सका है। विधायक शकुंतला देवी ने मामले से अधिकारियों को अवगत कराने और कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया। इसके अलावा चौपाल में कोटेदार, सचिव आदि नहीं पहुंचे। उनकी सर्वाधिक शिकायतें रहीं। लोगों का कहना था कि उक्त कोई भी अधिकारी आदि के आने पर बहाने बनाकर गायब हो जाते हैं। जिससे उन्हें जवाब नहीं देना पड़े।
0000
चौपाल में आई समस्याओं का होगा निस्तारण
चौपाल में आई समस्याओं को त्वरित निस्तारण कराया जाएगा। अमर उजाला ने लोगों को सस्ता और सुलभ न्याय दिलाने का जिम्मा उठाया है, इसकी जितनी सराहना की जाए कम है। स्थानीय स्तर पर समस्याओं का निस्तारण नहीं होने पर लोग उनके संपर्क कर शिकायत कर सकते हैं।
-शकुंतला देवी, विधायक पुवायां
00000
खराब रास्तों से मिलेगी निजात
चौपाल में ब्लाक प्रमुख सीमा सिंह के पति अवधेश सिंह ने कहा कि गांव बिलंदापुर में रास्ते खराब होने की समस्याओं को दूर कराया जाएगा। क्षेत्र में तमाम विकास कार्य कराए जा चुके हैं और आगे भी विकास कार्य लगातार कराए जाते रहेंगे। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के लोग अपनी समस्याओं से उन्हें कभी भी अवगत करा सकते हैं। ब्लाक प्रमुख से दिक्कतों का निराकरण कराया जाएगा।
0000
गांव में विकास कराया जाएगा। तमाम विकास कार्य कराए भी गए हैं। गांव के लोगों की समस्या का समाधान कराना उनका फर्ज है। लोग उन्हें समस्या बता सकते हैं। चौपाल का आयोजन बहुत ही अच्छा प्रयास है। इससे मौके पर समस्या का निस्तारण हो सकेगा।
-मैकूलाल प्रधान गांव बिलंदापुर

Spotlight

Most Read

Lucknow

ओपी सिंह कल संभालेंगे यूपी के डीजीपी का पदभार, केंद्र ने किया रिलीव

सीआईएसएफ के डीजी ओपी सिंह को रिलीव करने की आधिकारिक घोषणा रविवार को हो गई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

शाहजहांपुर के अटसलिया गांव में नहीं हो रही लड़कों की शादी, ये है वजह

केंद्र सरकार खुले में शौच से मुक्ति दिलाने के लिए स्वच्छ भारत मिशन के तहत करोड़ों रुपये खर्च कर रही है, लेकिन यूपी के शाहजहांपुर जिले में एक गांव ऐसा है जहां महिलाओं को आज भी खुले में शौच जाना पड़ता है।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper