19 दुकानें निलंबित 27 को नोटिस जारी

Shahjahanpur Updated Sun, 15 Jul 2012 12:00 PM IST
डीएम ने राशन दुकानों पर पकड़ी अनियमितताएं
- 11 जुलाई को 96 दुकानें 30 टीमों ने की थीं चेक
- पीडीएस को चुस्त-दुरुस्त बनाने की एक और कवायद
सिटी रिपोर्टर
शाहजहांपुर। सार्वजनिक वितरण प्रणाली को चुस्त-दुरुस्त बनाने के मकसद से डीएम ने अफसरों की कई टीमें बनाकर एक साथ राशन दुकानें चेक कराईं। इस दौरान 19 दुकानें बंद मिलीं, जिन्हें तत्काल प्रभाव से आज निलंबित कर दिया गया। इसके अलावा अन्य खामियां मिलने पर 27 दुकानदारों को नोटिस जारी कर जवाब-तलब किया गया है।
डीएम रितु माहेश्वरी ने कार्ड धारकों तक राशन पहुंचने की पारदर्शी व्यवस्था लागू करने के मकसद से 11 जुलाई को अफसरों की 30 टीमें गठित कर जिले भर में 96 राशन दुकानों की एक साथ चेकिंग कराई थी। चेकिंग के दौरान टीमों ने न सिर्फ दुकानों की चेकिंग की, बल्कि राशन वितरण व्यवस्था का कार्ड धारकों से सत्यापन भी कराया, जिसमें राशन विक्रेताओं के खिलाफ गंभीर शिकायतें मिलीं। चेकिंग के दौरान कई दुकानें बंद मिलीं। दुकानों की चेकिंग रिपोर्ट अफसरों ने भेजी जिस पर डीएम ने शनिवार को 19 राशन दुकानों को निलंबित करने के आदेश दिए। राशन दुकानों पर बोर्ड आदि नहीं लगे होने की मिली खामियों पर 27 दुकानदारों को नोटिस भेजा गया।
डीएसओ एससी मिश्रा ने बताया कि गंभीर मामलों में जिन दुकानों को निलंबित किया गया है, उनमें मिर्जापुर की नगला पिपरिया, पुवायां की जुझारपुर, सुखेली, गिलावा, खुटार की चांदपुर, सिंधौली क्षेत्र की भंडेरी, पसियाखेड़ा, कटौल, खिरिया पाठक, कांट क्षेत्र की विक्रमपुर, सरकोली, भावलखेड़ा की नवादा, दिलावर पुर, ददरौल क्षेत्र की चंदगोई, मदनापुर क्षेत्र की रहदेवी, सिंकदरपुर कलां, रसीदपुर, कदरौआ और खुदागंज क्षेत्र की जैती एवं कुआंडांडा की राशन दुकानें शामिल हैं। उन्होंने बताया कि चेकिंग के दौरान बोर्ड आदि नहीं लगे होने और कार्ड धारकों की राशन वितरण की अन्य शिकायतों पर 27 राशन विक्रेताओं को नोटिस भेजकर उनका जवाब तलब किया गया है। उन्होंने बताया कि निलंबित दुकानों को अटैच किए जाने की कार्यवाही की जा रही है।


राशन वितरण में पर्यवेक्षकों
की भी लापरवाही उजागर
- टीमों की रिपोर्ट पर 52 पर्यवेक्षकों का वेतन रोकने के आदेश
सिटी रिपोर्टर
शाहजहांपुर। राशन वितरण में पर्यवेक्षकों की लापरवाही भी उजागर हुई है। अफसरों की चेकिंग रिपोर्ट के बाद 52 पर्यवेक्षकों के वेतन रोकने के डीएम ने आदेश दिए हैं। राशन वितरण व्यवस्था को बेहतर बनाने और कार्ड धारकों को राशन मुहैया कराने के लिए अनाज वितरण के लिए पर्यवेक्षकों की तैनाती प्रत्येक राशन दुकान पर की गई है। इन पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में ही राशन वितरण किए जाने के निर्देश हैं, लेकिन अधिकांश दुकानों पर नियुक्त पर्यवेक्षकों की गैर मौजदूगी में राशन वितरण की शिकायतें मिली। साथ ही चेकिंग के दौरान कई राशन विक्रेताओं के यहां पर्यवेक्षक नदारद मिले। चेकिंग अफसरों की रिपोर्ट पर राशन वितरण के लिए तैनात पर्यवेक्षकों की लापरवाह पूर्ण कार्यप्रणाली के लिए डीएम ने 52 पर्यवेक्षकों का वेतन रोकने के आदेश दिए हैं। डीएसओ श्री मिश्रा ने बताया कि चेकिंग के दौरान राशन वितरण के लिए तैनात किए पर्यवेक्षकों की लापरवाही सामने आई है, जिसके लिए वेतन रोकने के आदेश दिए गए हैं।

राशन वितरण व्यवस्था सुचारू करने के लिए जिले भर में सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों का औचक निरीक्षण कराया जाएगा। जहां भी अनियमितता या दुकानें बंद मिलेंगी उन दुकानों को तत्काल निलंबित किया जाएगा। साथ ही कोटेदार के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई जाएगी।
- रितु माहेश्वरी, जिलाधिकारी

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी मे यहां बीजेपी के चेयरमैन 26 जनवरी को मनाएंगे स्वतंत्रता दिवस

26 जनवरी को पूरे देश में गणतंत्र दिवस मनाया जाता है, लेकिन यूपी के शाहजहांपुर में बीजेपी के चेयरमैन ने लोगों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी है। देखिए कहां हुई चूक।

7 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper